--Advertisement--

नरेंद्र मोदी के अंदाज में बोले डोनाल्ड ट्रम्प, भारतीय-अमेरिकी सांसद ने जताई नाराजगी

नरेंद्र मोदी के अंदाज में बोले डोनाल्ड ट्रम्प, भारतीय-अमेरिकी सांसद ने जताई नाराजगी

Dainik Bhaskar

Jan 23, 2018, 12:39 PM IST
पिछले साल जून में मोदी अमेरिका पिछले साल जून में मोदी अमेरिका

वॉशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प सोमवार को अफगान वार्ता के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अंदाज और भारतीय लहजे में बोलते नजर आए। न्यूज एजेंसी ने एक अमेरिकी अखबार से यह जानकारी दी है। अखबार ने अफसरों के हवाले से लिखा है कि पिछले साल अमेरिका दौरे के वक्त मोदी ने युद्ध से घिरे अफगानिस्तान समेत कई मुद्दों पर चर्चा की थी।


क्या कहा ट्रम्प ने?
- अखबार के मुताबिक, ट्रम्प ने दावा किया कि पिछले साल मोदी ने उनसे कहा था, "दुनिया के किसी भी देश ने फायदे की उम्मीद किए बगैर अफगानिस्तान में इतना काम नहीं किया, जितना अमेरिका ने किया है।"
- अखबार के मुताबिक, यह बात बताने के दौरान ट्रम्प का अंदाज मोदी जैसा था और वे भारतीय लहजे में अंग्रेजी बोल रहे थे।

मोदी की तरह बोलते देख सब हैरान रह गए

- अमेरिकी राष्ट्रपति अफगानिस्तान पॉलिसी पर चर्चा कर रहे थे। लेकिन अचानक जब वे मोदी के अंदाज में बोलने लगे तो वहां मौजूद सभी लोग हैरान रह गए।

ट्रम्प ने आगे कहा कि मोदी की बात से साबित होता है कि दुनिया का अमेरिका के प्रति क्या नजरिया है।
- क्या ट्रम्प मोदी की नकल उतार रहे थे? अखबार के इस सवाल पर व्हाइट हाउस की ओर से अभी कोई जवाब नहीं आया है।

भारतीय-अमेरिकी सांसद ने जताई नाराजगी
- डेमोक्रेट भारतीय-अमेरिकी सांसद राजा कृष्णमूर्ति ने ट्रम्प के इस व्यवहार की निंदा की है। उन्होंने कहा कि वह ट्रम्प के द्वारा मोदी की नकल उतारने की रिपोर्ट पढ़कर हैरान रह गए।

- उन्होंने कहा, "मुझे यह पढ़कर अच्छा नहीं लगा कि राष्ट्रपति ट्रम्प ने कथित तौर पर मोदी की नकल उतारी।"

- कृष्णमूर्ति ने कहा, "अमरिकियों की पहचान उनके लहजे से नहीं, बल्कि इस देश के लिए उनके मूल्यों और आदर्शों को लेकर उनके कमिटमेंट से होती है।"

पहले भी नकल उतार चुके ट्रम्प

- ट्रम्प इससे पहले भी भारतीयों की नकल उतार चुके हैं। उन्होंने अप्रैल 2016 में अपने चुनाव प्रचार के दौरान भारतीय कॉल सेंटर इम्प्लॉइज के अंग्रेजी बोलने के लहजे की भी नकल की थी।

- अक्टूबर 2017 में स्पेनिश लहजे की भी नकल कर चुके हैं। लोगों की नकल उतारने की वजह से सोशल मीडिया पर उनकी आलोचना भी हो चुकी है।

X
पिछले साल जून में मोदी अमेरिकापिछले साल जून में मोदी अमेरिका
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..