• Home
  • National
  • Gujarat election re polling on 6 booths of second phase
--Advertisement--

गुजरात चुनाव: दूसरे फेज की 4 सीटों के 6 बूथ पर री-पोलिंग जारी, कल आएंगे नतीजे

गुजरात विधानसभा चुनाव में 182 पर कराए गए चुनावों के नतीजे 18 दिसंबर (सोमवार) को सामने आएंगे।

Danik Bhaskar | Dec 17, 2017, 09:17 AM IST
मतदान में सुरक्षा के लिए बूथ क मतदान में सुरक्षा के लिए बूथ क

गांधीनगर. गुजरात विधानसभा चुनाव में 18 दिसंबर को काउंटिंग से पहले रविवार को दूसरे फेज के 6 बूथ पर सुबह 8 बजे से रिपोलिंग हुई। इसमें बनासकांठा जिले के वडगाम सीट के 2 बूथ, अहमदाबाद जिले के विरमगाम सीट के एक बूथ, इसी जिले की दसक्रोई सीट के एक बूथ और वडोदरा जिले की सावली सीट के 2 बूथ शामिल हैं। यहां ईवीएम और वीवीपैट में दिक्कतों की वजह से 14 दिसंबर को हुए मतदान को रद्द कर दिया गया था। पहले फेज में 9 दिसंबर को हुई वोटिंग में भी 6 बूथ पर दोबारा चुनाव कराए गए थे।

EVM से मॉक ड्रिल के नजीते नहीं हटा पाए थे अधिकारी

- चुनाव आयोग ने तकनीकी कारणों का हवाला देते हुए शुक्रवार रात दोबारा चुनाव कराने के आदेश दिए और इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन(ईवीएम) में मौजूद डाटा हटा दिया। आयोग ने वोटर-वैरिफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) के जरिए 6 पोलिंग बूथ पर काउंटिंग के आदेश दिए।
- यहां पीठासीन अधिकारी वोटिंग मशीनों पर हुए मॉक ड्रील के नतीजे हटाना भूल गए थे। गुजरात के चीफ इलेक्टोरल ऑफिसर बीबी स्वेन ने दोबारा चुनाव कराने के ऑर्डर दिए थे।

37 सेंटर्स पर होगी काउंटिंग, सुरक्षा कड़ी

- गुजरात की सभी 182 सीटों पर वोटों की गिनती सोमवार को होगी। इसके लिए कुल 37 काउंटिंग सेंटर बने हैं, यहां सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। दोपहर तक सभी नतीजे आने की संभावना जताई जा रही है।

स्ट्रांग रूम में CCTV, फिर भी बाहर कांग्रेसियों का पहरा

- जूनागढ़ के कृषि इंजीनियरिंग कॉलेज में ईवीएम रखी गई हैं। एडमिनिस्ट्रेशन ने कड़ी निगरानी के लिए सीसीटीवी लगाए हैं, पुलिस भी सुरक्षा में तैनात है। फिर भी कांग्रेस को सुरक्षा में भराेसा नहीं है इसलिए कार्यकर्ताओं को स्ट्रांग रूम के बाहर पहरे पर बैठाया गया है।
- स्ट्रांग रूम के बाहर कांग्रेस वर्कर पहरा दे रहे हैं। कांग्रेस उम्मीदवार भीखाभाई जोशी ने कहा कि हमें नरेंद्र मोदी और बीजेपी नेताओं पर भरोसा नहीं है।
- दूसरी ओर, पाटीदार नेता हार्दिक पटेल पहले ही दावा कर चुके हैं कि बीजेपी चुनाव हार रही है और वह काउंटिंग से पहले रविवार रात को ईवीएम में गड़बड़ी करेगी।

EVM को हैकिंग से बचाने वाला फर्जी लेटर वायरल

- काउंटिंग से पहले चुनाव आयोग के नाम पर जारी एक फर्जी लेटर वायरल हो रहा है। जिसमें वोटों की गिनती के दिन सुबह 8 से शाम 6 बजे तक ईवीएम मशीनों की संभावित हैकिंग को रोकने के लिए सभी टेलीफोन कंपनियों की सर्विस बंद कराने के ऑर्डर का जिक्र है।
- खास बात ये है कि राजकोट के पडधरी के एक मामलतदार ने इसे सही समझते हुए अपने दस्तखत के साथ जारी भी कर दिया। हालांकि बाद में यह जानकारी होने पर कि यह फर्जी है उन्होंने अपनी भूल सुधार ली।
- चुनाव उपायुक्त केएल परमार के फर्जी नाम और दस्तखत के साथ जारी लेटर में कहा गया है कि मोबाइल कंपनियों के टॉवर ईवीएम को हैक करने में मदद करते हैं इसलिए इन्हें काउंटिंग के दिन बंद रखने के ऑर्डर सभी अफसर अपने-अपने इलाकों में दें।