• Home
  • National
  • Gujarat Highcourt says Marriages fixed on Facebook are bound to fail
--Advertisement--

फेसबुक से होने वाली शादियां का टूटना निश्चित: गुजरात हाईकोर्ट

गुजरात हाईकोर्ट ने डोमेस्टिक वॉयलेंस के एक केस की सुनवाई के दौरान की ये टिप्पणी।

Danik Bhaskar | Jan 26, 2018, 09:57 PM IST
गुजरात में महिला ने शादी के दो महीने बाद ही अपने पति पर डोमेस्टिक वॉयलेंस का केस दर्ज करा दिया।    -सिंबॉलिक इमेज गुजरात में महिला ने शादी के दो महीने बाद ही अपने पति पर डोमेस्टिक वॉयलेंस का केस दर्ज करा दिया। -सिंबॉलिक इमेज

नई दिल्ली. गुजरात हाईकोर्ट ने बुधवार को डोमेस्टिक वॉयलेंस के एक केस में सुनवाई करते हुए कहा कि फेसबुक के जरिए होने वाली शादियों का टूटना तय है। इसी के साथ कोर्ट ने कपल को तलाक लेकर आपस में मामला सुलझाने की सलाह भी दी है। जस्टिस जेबी परदीवाला ने ये कमेंट एक ऐसे मामले में किए जिसमें पति और पत्नी दोनों ने ही फेसबुक के जरिए शादी की थी और शादी के दो महीने बाद ही पत्नी ने पति और उसके घरवालों पर दहेज के लिए प्रताड़ित करने का आरोप लगा दिया था।

क्या था मामला?

दरअसल, राजकोट की फैंसी शाह नाम की एक महिला ने पति जयदीप सिंह और उसके घरवालों पर दहेज के लिए प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। दोनों की मुलाकात 2011 में फेसबुक के जरिए हुई थी, जिसके बाद 2015 में पैरेंट्स की सहमति के बाद दोनों ने शादी कर ली थी।
- हालांकि दो महीने बाद ही कपल में झगड़े शुरू हो गए और महिला ने पति पर डोमेस्टिक वॉयलेंस का केस दर्ज करा दिया।
- फैंसी ने जयदीप के साथ उसके भाई पीयूष और सास-ससुर विकेशभाई और अनिताबेन पर भी FIR दर्ज कराई थी।

जज ने क्या कहा?

- जज जेबी परदीवाला ने कहा, “शादी के दो महीने बाद ही कपल की शादीशुदा जिंदगी में परेशानियां शुरू हो गईं। दोनों पार्टियों ने मामला सुलझाने की कोशिशें की लेकिन मामला सुलझ नहीं सका।”
- “ये फेसबुक पर मॉडर्न शादी का उदाहरण है, ये शादियां टूटने के लिए ही होती हैं।”
- जज ने दोनों को तलाक लेकर अलग-अलग जिंदगी शुरू करने की सलाह देते हुए कहा, “कपल को आपस में सेटलमेंट कर के शादी को खत्म करना चाहिए। दोनों युवा हैं और शादी खत्म होने के बाद अपने भविष्य के बारे में सोच सकेंगे।”

परिवार से हटाए केस

- महिला ने केस में सभी आरोप पति जयदीप के खिलाफ ही लगाए थे, जिसके चलते जज ने केस से बाकी लोगों के नाम हटा दिए। हालांकि, जयदीप के खिलाफ इन्वेस्टिगेशन जारी रखने के ऑर्डर दिए गए हैं।

गुजरात हाईकोर्ट ने कपल को तलाक लेने की सलाह दी है। गुजरात हाईकोर्ट ने कपल को तलाक लेने की सलाह दी है।