--Advertisement--

U-19 वर्ल्ड कप: पहले मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 100 रन से हराया, कैप्टन पृथ्वी शॉ ने बनाए 94 रन

भारत के 328 रन के जवाब में 228 पर सिमटी ऑस्ट्रेलियाई टीम।

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2018, 02:26 PM IST
भारत ने ऑस्ट्रेलिया को पहले U-19 वर्ल़्ड कप में 100 रन से हरा दिया। भारत ने ऑस्ट्रेलिया को पहले U-19 वर्ल़्ड कप में 100 रन से हरा दिया।

नई दिल्ली. भारत ने अंडर-19 वर्ल्ड कप के अपने पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया को 100 रन के बड़े अंतर से हरा दिया। न्यूजीलैंड के ‘बे-ओवल’ स्टेडियम में कैप्टन पृथ्वी शॉ और साथी ओपनर मनोज कालरा की 180 रन की रिकॉर्ड पार्टनरशिप की बदौलत भारत ने अपनी पारी में 7 विकेट खोकर 328 रन बनाए थे, इसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया की पारी 228 रन पर ही सिमट गई। U-19 वर्ल्ड कप में एेसा पहली बार हुआ है कि किसी टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 300+ का स्कोर बनाया है। कैप्टन पृथ्वी शॉ को 94 रन की पारी खेलने के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

स्कोरकार्ड

टीम स्कोर सबसे ज्यादा रन सबसे ज्यादा विकेट
इंडिया 328/7 पृथ्वी शॉ (94) 4/65 (जैक एडवर्ड)
ऑस्ट्रेलिया 228/10 जैक एडवर्ड (73)

3/29 (कमलेश नागरकोट्टी

भारतीयों के नाम था सबसे बड़ी पार्टनरशिप का रिकॉर्ड

- बता दें कि इससे पहले सबसे बड़ी पार्टनरशिप का रिकॉर्ड भारत के ही शिखर धवन और रॉबिन उथप्पा के नाम था। दोनों ने 2006 के U-19 वर्ल्ड कप में 173 रन की रिकॉर्ड पार्टनरशिप की थी।

भारत को मिली सधी शुरुआत

- शॉ और कालरा ने भारत को सधी शुरुआत दिलाते हुए मजबूत स्कोर तक पहुंचाने में अहम रोल निभाया। हालांकि, शतक से 6 रन पहले ही शॉ ऑस्ट्रेलिया के बॉलर सदरलैंड का शिकार हो गए। शॉ के आउट होने के कुछ ही देर बार कालरा भी स्पिनर परम उप्पल की गेंद पर आउट हो गए।

- मिडिल ऑर्डर में उतरे वाइस-कैप्टन शुभम गिल के 63 और अभिषेक शर्मा के 8 बॉल पर 23 रन की बदौलत भारत का स्कोर 300 के पार पहुंच गया।

गेंदबाजी में दिखाई ताकत

- भारत के दो गेंदबाज शिवम मावी और कमलेश नगरकोटी की 145+ की स्पीड के आगे ऑस्ट्रेलियाई टीम परेशानी में नजर आई। दोनों ने अपनी सधी लाइन-लेंथ की बदौलत 3-3 विकेट झटके।

गांगुली ने की दो गेंदबाजों की तारीफ

- मैच के दौरान सौरव गांगुली भारत के दो तेज गेंदबाज शिवम मावी और कमलेश नागरकोट्टी से खासे प्रभावित नजर आए। उन्होंने ट्वीट में विराट कोहली और बीसीसीआई को टैग करते हुए लिखा “न्यूजीलैंड में 145 kmph की स्पीड से बॉलिंग करने वाले मावी और नगरकोट्टी पर नजर रखने की जरूरत है... शानदार!

शॉ को इसलिए कहते हैं सचिन

- 15 साल की उम्र में हैरिस शील्ड टूर्नामेंट में पृथ्वी शॉ ने 546 रन बनाए थे। इसमें 85 चौके और 5 छक्के शॉ ने लगाए थे। अपनी इस इनिंग से शॉ पूरे देश की नजरों में आ गए थे। सचिन ने भी इसी टूर्नामेंट में विनोद कांबली के साथ 664 रनों की साझेदारी की थी। इस साझेदारी की बदौलत सचिन चर्चा में आए थे।

- शॉ ने पिछले साल दिलीप ट्रॉफी में डेब्यू किया। इसी मैच में उन्होेंने 154 रनों की इनिंग खेली थी। इसी के साथ पृथ्वी शॉ सचिन के बाद दूसरे ऐसे क्रिकेटर बन गए, जिन्होंने दिलीप ट्रॉफी और रणजी ट्रॉफी के डेब्यू मैच में सेन्चुरी बनाई थी।

- पृथ्वी शॉ अभी 12th में हैं। सचिन तेंडुलकर शॉ की बैटिंग को पसंद करते हैं और उनका बेटा अर्जुन भी शॉ का अच्छा दोस्त है।

India defeats Australia by margin of 100 runs in U-19 World cup match
India defeats Australia by margin of 100 runs in U-19 World cup match
X
भारत ने ऑस्ट्रेलिया को पहले U-19 वर्ल़्ड कप में 100 रन से हरा दिया।भारत ने ऑस्ट्रेलिया को पहले U-19 वर्ल़्ड कप में 100 रन से हरा दिया।
India defeats Australia by margin of 100 runs in U-19 World cup match
India defeats Australia by margin of 100 runs in U-19 World cup match
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..