Hindi News »National »Latest News »National» Railway Waiting Rooms To Have TVs, Beverages, Light Snacks

वेटिंग रूम को अपग्रेड करेगा रेलवे, पैसेंजर्स को अंदर ही मिलेंगी टीवी और रिफ्रेशमेंट जैसी फैसिलिटी

रेलवे PPP मॉडल के तहत दिल्ली डिवीजन में शुरू करेगी पायलट प्रोजेक्ट, सफल होने पर देशभर में लागू होगा।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 17, 2018, 08:37 PM IST

  • वेटिंग रूम को अपग्रेड करेगा रेलवे, पैसेंजर्स को अंदर ही मिलेंगी टीवी और रिफ्रेशमेंट जैसी फैसिलिटी, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    वेटिंग रूम्स को अपग्रेड करने की तैयारी कर रहा है भारतीय रेलवे।

    नई दिल्ली. सर्दी के सीजन में पैसेंजर्स की परेशानी को कम करने के लिए रेलवे वेटिंग रूम्स की फैसिलिटीज बढ़ाने जा रहा है। रेलवे के प्लान के तहत अब वेटिंग रूम्स्स में पैसेंजर्स के लिए टीवी, बेवरेजस और लाइट स्नैक्स का इंतजाम किया जाएगा, ताकि ट्रेन लेट होने पर लोगों को परेशानी का सामना ना करना पड़े। रेलवे के एक अधिकारी के मुताबिक, सबसे पहले इस प्रोजेक्ट की टेस्टिंग दिल्ली डिवीजन में की जाएगी। इसके बाद ही इसे पूरे देश में लाया जाएगा।

    किस डिवीजन में होगी प्रोजेक्ट की टेस्टिंग?

    - पायलट प्रोजेक्ट में टेस्टिंग के लिए सबसे पहले दिल्ली डिवीजन के वेटिंग रूम्स को अपग्रेड किया जाएगा। रेलवे इनको PPP मॉडल के तहत डेवलप करेगा।
    - डिवीजन को इस प्रोजेक्ट को 3 महीनों तक टेस्ट करने के लिए कहा गया है, जिसके बाद उसे रेलवे बोर्ड को रिपोर्ट सबमिट करनी होगी। अधिकारियों के मुताबिक, इस प्रोजेक्ट के सफल होने के बाद ही बोर्ड इस मॉडल को देशभर में लागू करेगा।
    - बता दें कि दिल्ली नॉर्दर्न रेलवे जोन का ही एक डिवीजन है। इसमें 213 स्टेशनों के साथ 1386 किलोमीटर का रेल नेटवर्क भी आता है। हर रोज 500 पैसेंजर ट्रेन्स के अलावा 210 फ्रेट ट्रेन्स भी यहां से गुजरती हैं।

    क्यों अपग्रेड किए जा रहे वेटिंग रूम्स?

    - रेलवे के एक सीनियर अफसर के मुताबिक, सर्दी के मौसम में कई बार कोहरे की वजह से ट्रेनें लेट हो जाती हैं, जिसके चलते पैसेंजर्स को घंटों इंतजार करना पड़ता है। इसीलिए रेलवे इन वेटिंग रूम्स को अपग्रेड कर रहा है, ताकि पैसेंजर्स को लेट ट्रेनों की वजह से परेशानी का सामना ना करना पड़े।

    अपग्रेडेशन से क्या बदलेगा?

    - रूम्स में पैसेंजर्स को बेवरेज वेंडिंग मशीन्स, लाइट रिफ्रेशमेंट, टीवी, नए फर्नीचर, अपग्रेडेड टॉयलेट्स जैसी कई मॉडर्न फैसिलिटीज मिलेंगी। रेलवे इसके लिए नॉर्दर्न रेलवे के जनरल मैनेजर को इंस्ट्रक्शन भी दे चुका है।

    सलून कोच लाने का भी है प्लान

    रेलवे जल्द ही बेडरूम्स, किचन, लाउंज और टॉयलेट वाले अपने लग्जरी सलून में आम लोगों को सफर करने का मौका दे सकता है। कुछ ही दिन पहले रेलवे के सीनियर अफसरों ने इन कोचेज को आम लोगों के लिए लाने की बात कही थी। रेलवे ने अपने अफसरों से ऐसे दो कोच को टूरिज्म के मकसद से मुहैया कराने का प्लान बनाने को कहा है। इसका मकसद इस तरह के लग्जरी कोच में सफर को प्रमोट करना है।

    क्या होते हैं सलून कोच?

    - रेलवे के सलून कोच उसके सीनियर अफसरों के लिए होते हैं। वे एक्सीडेंट वाली जगह या दूर-दराज के इलाकों में इंस्पेक्शन पर जाने के लिए इन कोच का इस्तेमाल करते हैं।
    - देश के सभी रेलवे जोन में मौजूद सलून को मिलाकर ऐसे कुल 336 कोच हैं। इनमें से 62 एयरकंडीशंड हैं।

  • वेटिंग रूम को अपग्रेड करेगा रेलवे, पैसेंजर्स को अंदर ही मिलेंगी टीवी और रिफ्रेशमेंट जैसी फैसिलिटी, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    वेटिंग रूम्स में पैसेंजर्स को टीवी, लाइट स्नैक्स और बेवरेज के लिए वेंडिंग मशीन जैसी फैसिलिटी दी जाएंगी।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×