Hindi News »National »Latest News »National» Jammu Kashmir Crpf Camp Attack Firing Security Force Terrorist Encounter News & Updates

कश्मीर में CRPF कैंप पर हमला: सिक्युरिटी फोर्स और आतंकियों के बीच 28 घंटे से फायरिंग जारी

सोमवार तड़के आतंकियों ने श्रीनगर के CRPF कैंप पर हमला किया था। इसमें एक जवान शहीद हो गया।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 13, 2018, 08:53 AM IST

    • VIDEO: श्रीनगर में आतंकियों और सिक्युरिटी के बीच एनकाउंटर।

      श्रीनगर. यहां के सीआरपीएफ कैंप हमले में 32 घंटे बाद सिक्युरिटी फोर्स को कामयाबी मिली। मंगलवार को लश्कर-ए-तैयबा के 2 आतंकियों को मार गिराया गया। सोमवार तड़के आतंकियों ने सीआरपीएफ कैंप में घुसने की कोशिश की थी, लेकिन एक संतरी की फायरिंग ने इसे नाकाम कर दिया। इसके बाद आतंकी कैंप के पास की एक बिल्डिंग में छिपकर गोलाबारी करने लगे। कैंप के आसपास घनी आबादी वाला इलाका है। लिहाजा फोर्स ने संभलकर ऑपरेशन चलाया। वहीं, सुंजवान आर्मी कैंप में एक और जवान का पार्थिव शरीर मिला। यहां शहीद होने वाले जवानों की संख्या 6 हो गई। उधर, जम्मू के रायपुर में फोर्स ने सर्च ऑपरेशन चलाया। इसमें हेलिकॉप्टर की भी मदद ली गई। बीते 4 दिन में कश्मीर में दो आतंकी हमले हुए। दोनों की जिम्मेदारी लश्कर-ए-तैयबा ने ली है।

      CRPF हमला, 5 प्वाइंट्स

      ऐसे हुआ कैंप पर हमला

      - 12 फरवरी को श्रीनगर के सीआरपीएफ कैंप पर आतंकियों ने हमला किया। ये आतंकी AK-47 राइफल समेत कई हथियार लिए हुए थे।
      - सीआरपीएफ के स्पोक्सपर्सन ने बताया, "कैंप के संतरी ने सोमवार तड़के 4.30 बजे दो संदिग्धों को बैग और हथियारों के साथ देखा। संतरी चिल्लाया और फायरिंग की।"
      - "आतंकी फौरन उस जगह से भागे और पास की एक अंडरकंस्ट्रक्शन बिल्डिंग में पनाह ली। सीआरपीएफ ने बिल्डिंग को घेरा हुआ है।"

      CRPF कैंप के पास से ही फरार हुआ था आतंकी नवीद भट्ट

      - श्री महाराजा हरि सिंह हॉस्पिटल के पास ही CRPF कैंप स्थित है। इस हॉस्पिटल पर 6 फरवरी को आतंकियों ने हमला कर पाकिस्तान के आतंकी नवीद भट्ट को पुलिस कस्टडी से छुड़ाया था।
      - पुलिस रूटीन चेकअप के लिए लश्कर के आतंकी नवीद को हॉस्पिटल ले आई थी। जहां पार्किंग में छिपे साथियों ने पुलिस पर हमला कर उसे भगा ले गए थे।

      घुसपैठ रोकने में कामयाबी मिली है
      - रक्षा मंत्री ने कहा, "पाकिस्तान पीरपंजाल के दक्षिण में टेररिज्म को स्पॉन्सर कर रहा है और घुसपैठ के लिए सीजफायर वॉयलेशन कर रहा है। इन कोशिसों का माकूल जवाब दिया गया। लाइन ऑफ कंट्रोल पर घुसपैठ रोकने के लिए हमारे सिस्टम के जरिए बड़ी कामयाबी मिली है। सिक्युरिटी फोर्सेस की लगातार कोशिशों के चलते आतंकी गतिविधियों पर रोक लगी है। मौसम और बर्फबारी के चलते घुसपैठ को पूरी तरह नहीं रोका जा सकता है, इसके लिए सरकार मॉडर्न तकनीक का इस्तेमाल कर रही है। एडिशनल सेंसर्स, यूएवी और लॉन्ग रेंज सर्विलांस डिवाइसेस को लाइन ऑफ कंट्रोल को कवर करने के लिए लगाया गया है।'

      जंग विकल्प नहीं- महबूबा मुफ्ती
      - महबूबा मुफ्ती ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर विधानसभा में कहा- "राज्य में खूनी-खेल को रोकने के लिए पाकिस्तान से बातचीत की जरूरत है। इस बात के लिए मुझे आज रात टीवी चैनल के एंकर्स एंटी-नेशनल कहेंगे, लेकिन यह बात मायने नहीं रखती है। जम्मू-कश्मीर के लोग इससे प्रभावित हो रहे हैं। हमें बातचीत करनी होगा, क्योंकि जंग कोई विकल्प नहीं है।"
      -"इस बात पर हैरानी नहीं होगी, जब कुछ मीडिया हाउस अटलजी को भी कटघरे में खड़ा कर देते यदि वे आज के वक्त में बातचीत के लिए लाहौर बस ले जाते।"

      फारूक ने पाक को दी वॉर्निंग
      - कश्मीर में सीआरपीएफ कैम्प हमले के बाद पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने पाकिस्तान को वॉर्निंग दी। उन्होंने कहा- "जितना आतंकवाद बढ़ेगा उतनी मुसीबतें आएंगी, उनके मुल्क (पाकिस्तान) में ज्यादा मुसीबत आएंगी, वहां कुछ भी नहीं बचेगा। लगातार बढ़ती हुए आतंकी हमले के बाद सरकार को भी अगले कदम के बारे में सोचने की जरूरत है।"
      - इससे पहले फारूक के बेटे और पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने कहा था कि सुंजवान हमले में शहीदों की कुर्बानी बेकार नहीं जाएगी।

    • कश्मीर में CRPF कैंप पर हमला: सिक्युरिटी फोर्स और आतंकियों के बीच 28 घंटे से फायरिंग जारी, national news in hindi, national news
      +2और स्लाइड देखें
      श्रीनगर के सीआरपीएफ कैंप के पास आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन में जुटी फोर्स।
    • कश्मीर में CRPF कैंप पर हमला: सिक्युरिटी फोर्स और आतंकियों के बीच 28 घंटे से फायरिंग जारी, national news in hindi, national news
      +2और स्लाइड देखें
      सीआरपीएफ कैंप हमले के चलते इलाके से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    More From National

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×