कश्मीर में एनकाउंटर: अनंतनाग में एक आतंकी ढेर, शोपियां में फोर्स और टेररिस्टों के बीच गोलीबारी जारी

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

श्रीनगर.    जम्मू-कश्मीर में रविवार को आतंकियों के खिलाफ इस साल की सबसे बड़ी कार्रवाई की गई। शोपियां और अनंतनाग में हुए तीन एनकाउंटर में 12 आतंकी मारे गए। इनमें लेफ्टिनेंट उमर फैयाज के दो हत्यारे भी शामिल हैं। मुठभेड़ में 3 जवान भी शहीद हो गए। सुरक्षाबलों के साथ झड़प में 4 नागरिकों की मौत हो गई, 31 जख्मी हो गए। इस साल आतंकियों के खिलाफ एक दिन में की गई यह सबसे बड़ी कार्रवाई है। इससे पहले 15 जनवरी को उड़ी सेक्टर के दुलंजा में छह आतंकी मारे गए थे। सेना की ओर से घाटी में चलाए जा रहे ऑपरेशन क्लीनस्वीप के तहत पिछले साल 200 से ज्यादा आतंकी मारे गए थे।

 

 

किस एनकाउंटर में कितने आतंकी मारे गए?

द्रगड़, शोपियां: 7 आतंकी

कचदूरु, शोपियां: 4 आतंकी (इनमें एक लश्कर का टॉप कमांडर था)। यहां और आतंकियों के शव मिल सकते हैं। सोमवार को मलबे में दोबारा तलाशी ली जाएगी। 

दायलगाम, अनंतनाग: 1 आतंकी (यहां आतंकी का एक मददगार गिरफ्तार किया गया है।)

 

शोपियां में मारे गए आतंकी स्थानीय

- जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद और लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्ट ने ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि शोपियां में 11 आतंकियों की पहचान कर ली गई है। वे सभी स्थानीय ही थे। ये हिजबुल मुजाहिदीन और लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े थे। उनके शवों पर परिवार ने दावा किया है। 
- "शोपियां के मारे गए आतंकियों में दो- इश्फाक मलिक और रईस ठोकर, लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की हत्या में शामिल थे।"

- 10 मई 2017 को लेफ्टिनेंट उमर फैयाज को अगवा कर हत्या कर दी गई थी। फैयाज अपने मामा की बेटी की शादी में शामिल होने गए थे।

- मारे गए आतंकियों में से एक की पहचान हिजबुल कमांडर रऊफ खांदे के तौर पर हुई है। 

 

4 नागरिकों की मौत कैसे हुई?

- एनकाउंटर के विरोध में स्थानीय लोग घरों से बाहर आ गए। सुरक्षाबलों पर पथराव शुरू कर दिया। जवाबी कार्रवाई में 4 लोगों की मौत हो गई। 

- खबर लगते ही शोपियां, अनंतनाग, कुलगाम और पुलवामा जिले में भी तनाव भी फैल गया।

 

3 जवान कहां शहीद हुए?

- तीनों जवान शोपियां के कचदूरु में हुए ऑपरेशन में शहीद हुए।

 

एनकाउंटर का घाटी में क्या असर?

- अलगाववादियों ने एनकाउंटर के विरोध में घाटी में 2 दिन के बंद का एलान किया है। 

- एहतियात के तौर पर प्रशासन ने दक्षिण कश्मीर में इंटरनेट सर्विस बंद कर दी है।

- जम्मू इलाके के बनिहाल से कश्मीर घाटी के बारामूला के बीच रेल सर्विस भी बंद कर दी गई है। 

 

दुनिया में पहले कभी भी ऐसा नहीं हुआ...

- एसपी वैद्य ने कहा, ''अनंतनाग में हमारे एसएसपी ने दुनिया में पहली बार ऐसी कोशिश की। उन्होंने आतंकवादियों के परिवार को मुठभेड़ स्थल पर बुलवाया। 30 मिनट तक आतंकवादियों से उनकी बातचीत कराई, ताकि वे सरेंडर कर दें। लेकिन हिजबुल के एक आतंकी ने परिवार की बात नहीं मानी और गोलियां चलाता रहा। जवानों ने उसे मार गिराया, जबकि दूसरे ने सरेंडर कर दिया।''

- शनिवार को इसी इलाके में एक विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) की हत्या कर दी गई थी और एक अन्य घायल हुआ था।

 

पिछले साल 200 आतंकी मारे गए

- कश्मीर में सेना ऑपरेशन क्लीनस्वीप चला रही है। पिछले साल सेना ने कश्मीर में 200 से ज्यादा आतंकी मार गिराए थे।

खबरें और भी हैं...