--Advertisement--

हॉस्पिटल में भर्ती जयललिता के कथित फोटो सामने आए, आरके नगर सीट पर कल होना है चुनाव

जयललिता आरके नगर सीट पर बाईपोल से एक दिन पहले वीडियो आने के राजनीतिक मायने देखे जा रहे हैं।

Danik Bhaskar | Dec 20, 2017, 11:31 AM IST
जयललिता का जो वीडियो जारी किया जयललिता का जो वीडियो जारी किया

चेन्नई. यहां की आरके नगर सीट पर गुरुवार को बाईपोल होना है। इससे एक दिन पहले तमिलनाडु की पूर्व सीएम स्वर्गीय जयललिता के अपोलो हॉस्पिटल में भर्ती होने के वक्त का एक कथित वीडियो सामने आया है। इसे वीके शशिकला के भतीजे टीटीवी दिनाकरण के सपोर्टर पी वेत्रिवेल ने जारी किया है। हालांकि, बाद में चुनाव आयोग ने इसे मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट का वॉयलेशन मानते हुए इसके टेलिकास्ट पर रोक लगा दी है। बता दें कि जयललिता के निधन के बाद आरके नगर सीट खाली हुई थी।

क्या है इस वीडियो में?

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, इस वीडियो में कथित तौर पर नजर आ रहीं जयललिता नाइट गाउन में हैं। उनके हाथों में स्ट्रॉ लगा सफेेद गिलास है। उससे वे कुछ पी रही हैं।

- वे लगातार सामने देख रही हैं। ऐसा लग रहा है कि वे टीवी देख रही हैं। उनके बेड के पीछे भगवान की तस्वीर रखी है।

वीडियो दिखाने पर रोक

- खबर सामने के बाद तमिलनाडु के चीफ इलेक्टोरल ऑफिसर ने रिपोर्टर्स से कहा कि टीवी चैनल्स से यह वीडियो नहीं दिखाने के लिए कहा गया है। इस संबंध में ईसी की ओर से एक लेटर भी जारी किया गया है। उनका कहना है कि वोटिंग से 48 घंटे पहले तक इस पर असर डालने वाले मटेरियल को रिलीज करना या दिखाना चुनाव कानून के खिलाफ है।

हॉस्पिटल ने कहा- हमने शूट नहीं किया वीडियो

- उधर अपोलो हॉस्पिटल की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि यह वीडियो उनकी ओर से शूट नहीं किया गया है। उन्हें इसकी जानकारी भी नहीं है। वीडियो कब का है इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है।

दिनाकरण के सपोर्टर्स ने क्या कहा?

- इस बारे में पी वेत्रिवेल ने कहा, "यह कहना गलत है कि जयललिता से हॉस्पिटल में कोई नहीं मिला। इसका वीडियो प्रूफ है। हम कई दिनों से इसे रिलीज करने का इंतजार कर रहे थे, लेकिन अब हमारे पास इसे रिलीज करने के सिवाय कोई ऑप्शन नहीं बचा। जांच आयोग ने अभी तक हमें नहीं बुलाया, अगर वह ऐसा करेगा तो हम उनके सामने सबूत पेश करेंगे।"

'हम हर केस का सामने करने को तैयार'

- दिनाकरण के एक अन्य सपोर्टर टी सेल्वन ने कहा, "यह वीडियो जारी करने पर हम किसी भी केस का सामना करने को तैयार हैं। यह वीडियो हॉस्पिटल में 'अम्मा' की सिर्फ हकीकत बताता है। हॉस्पिटल में अम्मा की हेल्थ को लेकर गलत आरोप लगाए जा रहे थे, यह वीडियो उन गलत दावों को नकारने के लिए है न कि आरके नगर बाईपोल पर असर डालने के लिए।"

विपक्ष ने क्या कहा?

विपक्षी दल डीएमके के वर्किंग प्रेसिडेंट एमके स्टालिन ने कहा, "जयललिता की मौत न सिर्फ रहस्य है, बल्कि यह वीडियो रिलीज करने से लगता है कि सबसे निचले स्तर पर इसका राजनीतिकरण किया जा रहा है। वीडियो से आरके नगर बाईपोल पर कोई असर नहीं होगा।"

'शशिकला ने शूट किया था वीडियो'

- वेत्रिवेल ने कहा, "कई लोग पूछ रहे हैं कि यह वीडियो कैसे शूट किया गया। यह वीडियो उन्हें आईसीयू से शिफ्ट करने के बाद शशिकला ने शूट किया था। मैंने दिनाकरण या शशिकला से पूछे बगैर यह वीडियो जारी किया है। ओ पन्नीरसेल्वम और ई पलानीसामी का गुट जयललिता के निधन को लेकर सवाल उठाया करता था और मैंने साजिश की अटकलों को विराम देने के लिए यह वीडियो जारी किया।"

- बता दें कि भ्रष्टाचार के आरोपों में शशिकला जेल में बंद है।

क्या है मामला?

- जयललिता को पिछले साल 22 सितंबर में चेन्नई के अपोलो हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था। बताया गया था कि उनके सीने में दर्द उठा था। 5 दिसंबर को हॉस्पिटल में ही उनकी मौत हो गई थी।

- एआईएडीएमके का ओ पन्नीरसेल्वम और ई पलानीसामी गुट उनकी मौत के पीछे साजिश का आरोप लगाता रहा है। इस मामले की ज्यूडिशियल कमीशन जांच कर रहा है।