--Advertisement--

हवाला रैकेट: जेट एयरवेज की एयर होस्टेस के बाद मास्टरमाइंड भी दिल्ली से गिरफ्तार

जेट एयरवेज की हांगकांग फ्लाइट में एयर होस्टेस को 4.80 लाख अमेरिकी डॉलर के साथ पकड़ा गया।

Dainik Bhaskar

Jan 09, 2018, 05:36 PM IST
डीआरआई ने कहा है कि मास्टरमाइं डीआरआई ने कहा है कि मास्टरमाइं

नई दिल्ली. जेट एयरवेज की हांगकांग फ्लाइट में एयर होस्टेस को 4.80 लाख अमेरिकी डॉलर के साथ पकड़ा गया। आरोप है कि वह इंटरनेशनल हवाला रैकेट में शामिल है। सोमवार रात हुई कार्रवाई के बाद डीआरआई (डायरेक्टोरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस) ने दिल्ली से हवाला रैकेट के मास्टरमाइंड अमित मल्होत्रा (40) को गिरफ्तार किया। कोर्ट ने मंगलवार को दोनों को ज्यूडीशियल कस्टडी में भेजा है। डीआरआई अफसरों के मुताबिक, मल्होत्रा एक साल में दिल्ली के कई करोड़पति लोगों का पैसा इसी तरीके से विदेश भेज चुका है। बाद में गोल्ड खरीदकर इसे अवैध तरीके से भारत लाया जाता था। मल्होत्रा ने सफर के दौरान एयर होस्टेस से दोस्ती की थी।

खाने के पैकेट छिपा रखे थे अमेरिकी डॉलर

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, डीआरआई ने बयान में कहा कि सोमवार रात हांगकांग जाने वाली फ्लाइट से भारी मात्रा में फॉरेन करंसी ले जाने की इन्फॉर्मेशन मिली थी।
- टीम ने आईजीआई एयरपोर्ट पर जेट एयरवेस की फ्लाइट में तलाशी ली। इस दौरान एयर होस्टेस देवाशी कुलश्रेष्ठ (25) के कब्जे से 4,80,200 डॉलर मिले। भारतीय मुद्रा में इनकी कीमत 3.21 करोड़ है। डॉलर हांगकांग ले जाने के लिए इन्हें एल्यूमिनियम फॉइल में लपेटकर खाने के पैकेट में रखा गया था।

विदेश भेजे गए पैसे से खरीदा जाता था गोल्ड

- डीआरआई अफसरों ने बताया कि अमित मल्होत्रा फॉरेन करंसी की स्मगलिंग का मास्टरमाइंट है। उसने एयरलाइंस क्रू को रैकेट में शामिल कर तस्करी का तरीका खोजा। उनसे फ्लाइट में क्रू से दोस्ती की और कमीशन का लालच देकर उन्हें हवाला रैकेट में शामिल कर लिया।
- मल्होत्रा दिल्ली के करोड़पति लोगों से पैसे लेकर इन्हें एयर होस्टेस के जरिए विदेश भेजता है। बाद में इसी रकम से विदेशों में गोल्ड खरीदा जाता है, फिर इस सोने को अवैध तरीके से भारत लाया जाता था।

6 महीने पहले फ्लाइट में हुई थी एयर होस्टेस से दोस्ती

- एयर होस्टेस से मल्होत्रा की दोस्ती 6 महीने पहले फ्लाइट में हुई थी। तब वह विदेश से भारत आ रहा था। उसने कमीशन का लालच देकर एयर होस्टेस को धंधे में शामिल किया था।

- डीआरआई के अफसर ने बताया कि मल्होत्रा एक साल से करंसी विदेश बाहर भेज रहा था। जेट एयरवेज के कुछ और क्रू के रैकेट में शामिल होने का शक है। मल्होत्रा के जरिए रकम विदेश भेजने वाले करोड़पति लोगों की कुंडली खंगाली जा रही है।

50% हिस्सेदारी के एवज में करती थी काम

- आरोपी एयर होस्टेस ने पूछताछ में बताया कि वह दिल्ली के एजेंट अमित मल्होत्रा के साथ काम करती है, जो विवेक विहार इलाके में रहता है। वह 50% हिस्सेदारी के एवज में करंसी दूसरे देशों में लेकर जाती थी। कई दिनों ने इसे अंजाम दे रही थी।

जेट एयरवेज ने क्या कहा?

- हवाला रैकेट में एयर होस्टेस के शामिल होने के खुलासे के बाद जेट एयरवेस उसके खिलाफ कार्रवाई कर सकती है। मामले पर जारी बयान में एयरलाइंस ने कहा है कि जांच और एजेंसियों के इनपुट के आधार पर क्रू के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा। डोमेस्टिक और इंटरनेशनल रूल्स के वॉयलेशन को लेकर हमारी जीरो टॉलरेंस पॉलिसी है।

X
डीआरआई ने कहा है कि मास्टरमाइंडीआरआई ने कहा है कि मास्टरमाइं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..