--Advertisement--

कॉकपिट में भिड़ने वाले पायलटों को जेट एयरवेज ने दिखाया बाहर का रास्ता

1 जनवरी की सुबह लंदन से मुंबई आने वाली जेट एयरवेज की फ्लाइट के कॉकपिट में दो पायलटों के बीच मारपीट करने की खबर आई थी।

Dainik Bhaskar

Jan 09, 2018, 04:29 PM IST
यह घटना 1 जनवरी की है। जेट एयरवे यह घटना 1 जनवरी की है। जेट एयरवे

नई दिल्ली. जेट एयरवेज ने मंगलवार को लंदन से मुंबई उड़ान के दौरान झगड़ने वाले दो पायलट्स को नौकरी से निकाल दिया। इससे पहले, मामला सामने आने के बाद एयरलाइन ने दोनों पायलट को डयूटी से हटा दिया था। डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (डीजीसीए‌‌‌‌) ने भी कार्रवाई करते हुए मेल पायलट का लाइसेंस सस्पेंड कर दिया था।

कब हुई थी यह घटना?

- यह घटना 1 जनवरी की है। जेट एयरवेज की फ्लाइट 9W119 लंदन से मुंबई आ रही थी।

क्या हुआ था कॉकपिट में?

- जेटएयरवेज की कॉकपिट में हमेशा की तरह पायलट और को-पायलट मौजूद थे, जो कि रिश्ते में लिव-इन पार्टनर भी थे। विमान हवा में ही था, तभी दोनों के बीच किसी बात पर बात बिगड़ गई। झगड़ा शुरू हो गया। बात इतनी बढ़ी कि पायलट ने अपनी महिला को-पायलट पर हाथ उठा दिया।

- फीमेल-पायलट ने बीच हवा में ही कॉकपिट छोड़ दिया। रोते हुए बाहर गई। कहा- नहीं उड़ाऊंगी प्लेन। विमान पूरी रफ्तार में था। इतने में कॉकपिट से पायलट मदद के लिए को-पायलट को कॉकपिट में वापस भेजने के सिग्नल देने लगा। महिला को-पायलट ने जाने से साफ मना कर दिया। केबिन क्रू के हाथ-पांव तब और फूल गए जब को-पायलट को कॉकपिट में वापस ले जाने के लिए पायलट भी बाहर गया। कॉकपिट के बाहर गैलरी में खड़े दोनों पायलट झगड़ने लगे। केबिन क्रू ने पहले तो पायलट को वापस कॉकपिट में भेजा, फिर तमाम मिन्नतों के बाद को-पायलट को भी मनाकर वापस कॉकपिट में भेजा।

- कुछ मिनट ही बीते थे कि महिला पायलट फिर रोते हुए बाहर गई। केबिन क्रू ने फिर समझाकर वापस कॉकपिट में भेजा। फिल्मी ड्रामे के बीच जैसे-तैसे फ्लाइट की मुंबई में सेफ लैंडिंग कराई गई।

लिव-इन रिलेशन में हैं दोनों पायलट

- दोनों पायलट लिव-इन पार्टनर भी हैं। मेल पायलट को सस्पेंड कर दिया था, जबकि फीमेल पायलट को ग्राउंड अटैच किया गया।

फ्लाइट में कितने पैसेंजर्स सवार थे?

- जेट की इस फ्लाइट 9डब्ल्यू-119 में केबिन क्रू और पायलट टीम के 14 सदस्यों समेत कुल 324 लोग सवार थे।

एयरलाइंस का क्या कहना था?

- जेट एयरवेज ने माना कि पायलट और को-पायलट ने लापरवाही की और अनप्रोफेशनल रवैया दिखाया। जेट ने बयान जारी किया किया था कि जेट एयरवेज के लिए यात्रियों, चालक दल और विमान की सुरक्षा सबसे अहम है।

X
यह घटना 1 जनवरी की है। जेट एयरवेयह घटना 1 जनवरी की है। जेट एयरवे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..