--Advertisement--

कार्ति चिदंबरम को सीबीआई ने हिरासत में लिया, आईएनएक्स मीडिया केस में हैं आरोपी

सीबीआई के अलावा इस मामले की ईडी भी जांच कर रही है।

Dainik Bhaskar

Feb 28, 2018, 09:17 AM IST
सीबीआई ने बुधवार को कार्ति चिद सीबीआई ने बुधवार को कार्ति चिद

नई दिल्ली. आईएनएक्स मीडिया केस में आरोपी और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम को पटियाला कोर्ट ने बुधवार को एक दिन की सीबीआई रिमांड पर भेज दिया। सीबीआई ने कार्ति को बुधवार सुबह ही चेन्नई एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया था। इसके बाद उन्हें दिल्ली लाया गया। सीबीआई का कहना है कि वे जांच में सहयोग नहीं कर रहे। कोर्ट में पेशी के बाद उन्हें सीबीआई हेडक्वार्टर में रखा गया है। कांग्रेस ने इसे बदले की कार्रवाई करार दिया और कहा कि मोदी सरकार अपने घोटाले छिपा रही है।

गुरुवार दोपहर तक के लिए मिली रिमांड
- सीबीआई ने कोर्ट से अपील की थी कि कार्ति को 15 दिन की रिमांड पर भेजा जाए। हालांकि, ड्यूटी मजिस्ट्रेट सुमीत आनंद ने सीबीआई को कार्ति की सिर्फ एक ही दिन की रिमांड दी। कोर्ट ने साफ कर दिया कि कार्ति को दोपहर 2:30 बजे सीबीआई स्पेशल जज के सामने पेश किया जाए।

सीबीआई ने कोर्ट में बताई कार्ति को अरेस्ट करने की वजह

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, कोर्ट में सीबीआई के वकील वीके शर्मा ने कहा कि कार्ति जांच में कोई मदद नहीं कर रहे और लगातार विदेश आते-जाते रहते हैं, जिससे सीबीआई को जांच में परेशानी हो रही है।

- सीबीआई के वकील ने आरोप लगाया कि कार्ति को अरेस्ट करने की एक वजह इंद्राणी मुखर्जी का 17 फरवरी का वह बयान है, जो उसने मजिस्ट्रेट के सामने दिया था। इसमें उसने (इंद्राणी) खुद कबूल किया था कि कार्ति ने हयात होटल में आईएनएक्स मीडिया से 10 लाख डॉलर लिए थे।

कार्ति के वकील ने क्या कहा?
- कार्ति की तरफ से सीनियर वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि मेरे क्लाइंट पर लगाए गए दोनों ही आरोप झूठे हैं। उन्होंने कहा कि कार्ति सीबीआई और एन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ED) दोनों के ही सामने 30-40 घंटे के लिए पेश हो चुके हैं और लगातार जांच में सहयोग कर रहे हैं।

- सिंघवी ने सीबीआई पर आरोप लगाते हुए कहा कि जांच एजेंसी ने पिछले साल 28 अगस्त से ही कोई समन नहीं जारी किया। यहां तक कि कार्ति ने विदेश जाने से पहले हर बार कोर्ट की परमिशन ली।

गिरफ्तारी से कांंग्रेस की आवाज नहीं दबेगी

- कांग्रेस स्पोक्सपर्सन रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ''कार्ति की गिरफ्तारी कांग्रेस को मोदी सरकार के खिलाफ आवाज उठाने से नहीं रोक सकती है। यह बदले की कार्रवाई है। केंद्र सरकार भ्रष्टाचार से घिरी है और अपने घोटालों को छिपा रही है।''

- गुरुवार को पटियाला हाउस कोर्ट में सीनियर एडवोकेट अभिषेक मनु सिंघवी कार्ति की पैरवी करेंगे।

जेल जाएंगे कार्ति, ये बड़ी कामयाबी: स्वामी

- बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, ''सीबीआई ने उन्हें (कार्ति चिदंबरम को) कई मौके दिए, लेकिन सारे सबूत सामने होने के बाद भी वो झूठ बोलते रहे। सीबीआई आगे चार्जशीट पेश करेगी और कार्ति अंत में जेल जाएंगे। यह बड़ी कामयाबी है।''

कब दर्ज किया गया कार्ति के खिलाफ केस?

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, यह केस 2006-07 का है। इस संबंध में सीबीआई ने कार्ति के खिलाफ पिछले साल 15 मई को मामला दर्ज किया। उन पर आपराधिक साजिश रचने, धोखाधड़ी, रिश्वत लेने और अफसरों को अपने प्रभाव में लेने का आरोप है।

कार्ति के ठिकानों पर हुई थी छापेमारी

- ईडी ने इसी महीने कार्ति चिदंबरम के दिल्ली और चेन्नई स्थित ठिकानों पर छापेमारी की थी।
- ईडी ने 2007 में मुंबई स्थित आईएनएक्स मीडिया (अब 9X मीडिया) के लिए फॉरेन इन्वेस्टमेंट में अनियमितताओं के कारण कार्ति चिदंबरम के लिए समन जारी किया था।
- सीबीआई इस मामले की अलग से जांच कर रही है। मामले में आईएनएक्स मीडिया के ओनर रहे इंद्राणी और पीटर मुखर्जी को भी जांच के दायरे में लिया गया है।

क्या है INX मामला, कार्ति पर क्या हैं आरोप?

- मनी लॉन्ड्रिंग का यह मामला आईएनएक्स मीडिया कंपनी से जुड़ा है। इसकी डायरेक्टर शीना बोरा हत्याकांड की आरोपी इंद्राणी मुखर्जी थी।

- कार्ति पर आरोप है कि उन्होंने आईएनएक्स मीडिया के लिए गलत तरीके से फॉरन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड (FIPB) की मंजूरी ली। इसके बाद आईएनएक्स को 305 करोड़ का फंड मिला। इसके बदले में कार्ति को 10 लाख डॉलर की रिश्वत मिली।

- इसके बाद आईएनएक्स मीडिया और कार्ति से जुड़ी कंपनियों के बीच डील के तहत 3.5 करोड़ का लेनदेन हुआ।

- कार्ति पर यह भी आरोप है कि उन्होंने इंद्राणी की कंपनी के खिलाफ टैक्स का एक मामला खत्म कराने के लिए अपने पिता के रुतबे का इस्तेमाल किया।

पी चिदंबरम की क्या भूमिका थी?

- आईएनएक्स मामले में दर्ज एफआईआर में पी चिदंबरम का नाम नहीं है। हालांकि, आरोप है कि उन्होंने 18 मई 2007 की फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड (एफआईपीबी) की एक मीटिंग में आईएनएक्स मीडिया में 4.62 करोड़ रुपए के फॉरेन इन्वेस्टमेंट को मंजूरी दी थी।

X
सीबीआई ने बुधवार को कार्ति चिदसीबीआई ने बुधवार को कार्ति चिद
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..