• Home
  • National
  • Chappal Chor slogans sounds in Washington outside the Pakistan embassy.
--Advertisement--

US में चप्पल चोर पाकिस्तान के नारे, भारत-बलूचिस्तान के लोग हुए शामिल- जाधव की फैमिली के अपमान से थे नाराज

पाकिस्तान की मंजूरी के बाद 25 दिसंबर को कुलभूषण जाधव की पत्नी चेतना और मां अवंतिका उनसे मिलने इस्लामाबाद गईं थीं।

Danik Bhaskar | Jan 08, 2018, 10:59 AM IST
VIDEO: पाकिस्तान एम्बेसी के बाहर मौजूद लोग साथ में जूते-चप्पल लेकर पहुंचे थे। VIDEO: पाकिस्तान एम्बेसी के बाहर मौजूद लोग साथ में जूते-चप्पल लेकर पहुंचे थे।

वॉशिंगटन/नई दिल्ली. वॉशिंगटन में सोमवार को पाकिस्तान एम्बेसी के सामने अजीब नजारा देखने को मिला। यहां कई लोग हाथ में जूते और चप्पल लेकर पहुंचे। इन लोगों ने ह्यूमन चेन बनाई। इसके बाद चप्पल चोर के नारे लगाए जाने लगे। दरअसल, ये मामला पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से जुड़ा है। जाधव की पत्नी और मां पिछले महीने उनसे मिलने पाकिस्तान गईं थीं। वहां, पाकिस्तान की फॉरेन मिनिस्ट्री के अफसरों ने जाधव की पत्नी चेतना की जूतियां उतरवा लीं थी। अफसरों ने शक जताया था कि चेतना की जूतियों में जासूसी की कुछ चीजें लगी हो सकती हैं।

पाकिस्तान को जूतों का दान

- पाकिस्तान की एम्बेसी के बाहर जो लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। इनके हाथों में कई बैनर और प्लेकार्ड्स थे। इन पर लिखा गया था, चप्पल चोर पाकिस्तान और पाकिस्तान को जूतों के दान की जरूरत है।
- विरोध प्रदर्शन करने वालों ने शूज और स्लीपर्स के कई पेयर पाकिस्तान की एम्बेसी के बाहर एक बोर्ड लगाकर रख दिए। इन लोगों ने कहा कि पाकिस्तान को अब सिर्फ जूते और चप्पलों की ही जरूरत रह गई है।

पाकिस्तान का दूसरा नाम ही तालिबान है

- इस प्रोटेस्ट को ‘अमेरिकन फ्रेंड्स ऑफ बलूचिस्तान’ ऑर्गनाइजेशन ने ऑर्गनाइज किया था। इसके हेड अहमर मुस्तकीन ने कहा- कुलभूषण जाधव पर पाकिस्तान ने जो केस चलाया वो इंटरनेशनल लॉ का वॉयलेशन है। पाकिस्तान ने जाधव की पत्नी और मां से जो सलूक किया उसे क्या कहा जाए। वो ‘चप्पल चोर’ पाकिस्तान नहीं तो और क्या है?
- मुस्तकीन ने आगे कहा- वो तालिबान को पालता है। पाकिस्तान का दूसरा नाम है तालिबान है। वो अमेरिका से पैसे लेता और उन्हें आतंकियों को खुश करने पर खर्च करता है।

हम जाधव की फैमिली के साथ

- विरोध प्रदर्शन में शामिल एक शख्स ने कहा- अगर एक वो दुखी महिला की चप्पल भी चुरा सकते हैं तो क्या नहीं कर सकते। इसलिए, हम उनके लिए चप्पल और जूते लेकर आए हैं। उम्मीद है, इनसे उनकी जरूरतें पूरी हो जाएंगी।
- एक और शख्स ने कहा- पाकिस्तान बहुत घटिया और छोटी सोच वाला देश है।

क्या हुआ था पाकिस्तान में जाधव की फैमिली के साथ?

- पाकिस्तान की मंजूरी के बाद 25 दिसंबर को जाधव की पत्नी चेतना और मां अवंतिका उनसे मिलने इस्लामाबाद गईं।
- मुलाकात के पहले उनकी तलाशी ली गई। बिंदी, मंगलसूत्र, चूड़ियां के अलावा चेतना की जूतियां भी पाक अफसरों ने उतरवा लीं। मुलाकात करीब 44 मिनट चली। इसके बाद फैमिली को जूतियां छोड़कर बाकी सामान लौटा दिया गया।
- पाकिस्तान सरकार ने कहा- हमें शक है कि चेतना की जूतियों में जासूसी में मदद आने वाला कुछ सामान (जैसे कैमरा या ऑडियो चिप) लगा हो सकता है।

पाकिस्तान की एम्बेसी के बाहर जो लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। इनके हाथों में कई बैनर और प्लेकार्ड्स थे। इन पर लिखा गया था, चप्पल चोर पाकिस्तान और पाकिस्तान को जूतों के दान की जरूरत है। पाकिस्तान की एम्बेसी के बाहर जो लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। इनके हाथों में कई बैनर और प्लेकार्ड्स थे। इन पर लिखा गया था, चप्पल चोर पाकिस्तान और पाकिस्तान को जूतों के दान की जरूरत है।
विरोध प्रदर्शन करने वालों ने शूज और स्लीपर्स के कई पेयर पाकिस्तान की एम्बेसी के बाहर एक बोर्ड लगाकर रख दिए। विरोध प्रदर्शन करने वालों ने शूज और स्लीपर्स के कई पेयर पाकिस्तान की एम्बेसी के बाहर एक बोर्ड लगाकर रख दिए।