--Advertisement--

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन का विपक्ष पर आरोप- सांसद मुझे बोलने नहीं देते

शुक्रवार को दोनों सदनों में पीएनबी घोटाले, नीरव मोदी, और आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा देने की मांग को लेकर हंगामा हुआ।

Dainik Bhaskar

Mar 09, 2018, 07:30 PM IST
बजट सत्र का दूसरा फेज 5 मार्च को शुरू हुआ था। तब से कोई सदन नहीं चल पा रहा है। बजट सत्र का दूसरा फेज 5 मार्च को शुरू हुआ था। तब से कोई सदन नहीं चल पा रहा है।

नई दिल्ली. लोकसभा में पिछले पांच दिन से कोई कामकाज न होने पर स्पीकर सुमित्रा महाजन खुश नहीं हैं। उन्होंने शुक्रवार को कहा- "कुछ पार्टियों के सांसद लगातार हंगामा कर रहे हैं। इस वजह सदन की कार्यवाही नहीं चल पा रही है। ये मुझे भी नहीं बोलने दे रहे हैं। विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे भी नहीं बोल पा रहे हैं।" बता दें कि बजट सत्र का दूसरा फेज 5 मार्च को शुरू हुआ था। लेकिन पीएनबी फ्रॉड, आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की मांग और मूर्ति तोड़ने की घटनाओं जैसे मुद्दों को लेकर लोकसभा की कार्यवाही नहीं चल पा रही है।

महाजन ने कहा- उम्मीद है जल्द ही कामकाज होगा

- स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा- "किसी को भी यहां तक कि मुझे भी बोलने की इजाजत नहीं दी जा रही है। कोई भी तभी बोल सकता है, जब सदन व्यवस्थित तरीके से चले। उम्मीद है कि सदन की कार्यवाही अगले हफ्ते से सुचारू रूप से चलेगी। यह पहला हफ्ता है, देखते हैं कि आगे क्या होता है। जरुरत पड़ी तो वे एक और सर्वदलीय बैठक बुलाएंगी।"

- बता दें कि स्पीकर ने गुरुवार को भी कई राजनीतिक पार्टियों के नेताओं के साथ इस मुद्दे पर मीटिंग की थी। पर कोई नतीजा नहीं निकला था।

विपक्ष किन मुद्दों पर हंगामा कर रहा है?

- आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा: तेलुगु देशम पार्टी के सांसद सदन शुरू होते ही वेल में आ जाते हैं और नारेबाजी शुरू कर देते हैं। इस मुद्दे पर पार्टी के दो मंत्रियों ने सरकार से इस्तीफा दे दिया है।

- पीएनबी घोटाले: कांग्रेस और टीएमसी के सांसद इस मुद्दे पर चर्चा और प्रधानमंत्री का बयान चाहते हैं।

- मूर्ति तोड़ने की घटनाओं: इस मुद्दे पर सीपीएम के सांसद कार्यवाही को चलने नहीं दे रहे हैं।

- शुक्रवार को इन सभी मुद्दों पर लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही चल नहीं सकी।

बैंक घोटाले पर कांग्रेस और बीजेपी आमने सामने
- पीएनबी में हुए 12672 करोड़ के घोटाले में बीजेपी और कांग्रेस दोनों एक दूसरे के आमने- सामने आ गईं हैं। कांग्रेस का आरोप है कि यह घोटाला बीजेपी सरकार के दौरान ही हुआ है वहीं, बीजेपी कहती है कि यह कांग्रेस का वक्त का स्कैम है। कांग्रेस का कहना है कि सरकार जानबूझ कर पुराने मामले के नाम पर इस घोटाले से जनता का ध्यान भटकाना चाहती है।

- विपक्ष बैंक घोटाले पर नियम 52 के तहत चर्चा कराना चाहता है, जिसमें वोटिंग का प्रावधान है। सरकार इसके राजी नहीं है।

शुक्रवार को लोकसभा में कार्यवाही शुरू होते ही विपक्षी सांसदों ने पीएनबी घोटाले, नीरव मोदी, मूर्ति तोड़ने की घटनाओं और आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा देने की मांग को लेकर हंगामा किया। शुक्रवार को लोकसभा में कार्यवाही शुरू होते ही विपक्षी सांसदों ने पीएनबी घोटाले, नीरव मोदी, मूर्ति तोड़ने की घटनाओं और आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा देने की मांग को लेकर हंगामा किया।
X
बजट सत्र का दूसरा फेज 5 मार्च को शुरू हुआ था। तब से कोई सदन नहीं चल पा रहा है।बजट सत्र का दूसरा फेज 5 मार्च को शुरू हुआ था। तब से कोई सदन नहीं चल पा रहा है।
शुक्रवार को लोकसभा में कार्यवाही शुरू होते ही विपक्षी सांसदों ने पीएनबी घोटाले, नीरव मोदी, मूर्ति तोड़ने की घटनाओं और आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा देने की मांग को लेकर हंगामा किया।शुक्रवार को लोकसभा में कार्यवाही शुरू होते ही विपक्षी सांसदों ने पीएनबी घोटाले, नीरव मोदी, मूर्ति तोड़ने की घटनाओं और आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा देने की मांग को लेकर हंगामा किया।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..