--Advertisement--

25 साल में पकड़ी 962 करोड़ रुपए की टैक्स चोरी, राष्ट्रपति ने अवार्ड देकर किया सम्मानित

डायरेक्ट्रेट जनरल ऑफ गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स इंटेलिजेंस के ऑफिसर रवि दत्त शंकर मिला राष्ट्रपति की ओर से सम्मान।

Dainik Bhaskar

Jan 27, 2018, 09:47 PM IST
शंकर ने 541.61 करोड़ के सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी/सर्विस टैक्स चोरी के मामले पकड़ने में भी अहम रोल निभाया। शंकर ने 541.61 करोड़ के सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी/सर्विस टैक्स चोरी के मामले पकड़ने में भी अहम रोल निभाया।

नई दिल्ली. डायरेक्ट्रेट जनरल ऑफ गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स इंटेलिजेंस (DGGSTI) के एक अफसर रवि शंकर दत्त को उनके बेहतरीन काम के लिए राष्ट्रपति की ओर से मेडल दिया गया। शनिवार को एक प्रोग्राम में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने राष्ट्रपति की तरफ से यह सम्मान दिया। बता दें कि दत्त ने अपनी 25 साल की नौकरी में 962 करोड़ की टैक्स चोरी का पता लगाया।

47 केसों में पकड़ी 962 करोड़ की टैक्स चोरी

- रवि शंकर दत्त ने 1992 में सर्विस ज्वॉइन की थी। अपने काम और टैलेंट के दम पर वे इंटेलिजेंस ऑफिसर के पद तक प्रमोट किए गए थे। इस दौरान उन्होंने कुल 47 केसों में 961.92 करोड़ की टैक्स चोरी पकड़ी।

- शंकर ने 541.61 करोड़ के सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी/सर्विस टैक्स चोरी के मामले पकड़ने में भी अहम रोल निभाया। इन केसों में करीब 270 करोड़ रुपए डिपार्टमेंट को मिले थे।

डायरेक्टरेट ने की तारीफ

- डायरेक्टरेट की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि शंकर को उनकी बेहतरीन सर्विस और ऐसे केस पकड़ने की जबरदस्त क्षमता के लिए राष्ट्रपति मेडल दिया जाना गर्व की बात है। वो इसके हकदार हैं।

टैक्स चोरी के 47 केसों में पकड़े थे 962 करोड़ रूपए। टैक्स चोरी के 47 केसों में पकड़े थे 962 करोड़ रूपए।
X
शंकर ने 541.61 करोड़ के सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी/सर्विस टैक्स चोरी के मामले पकड़ने में भी अहम रोल निभाया।शंकर ने 541.61 करोड़ के सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी/सर्विस टैक्स चोरी के मामले पकड़ने में भी अहम रोल निभाया।
टैक्स चोरी के 47 केसों में पकड़े थे 962 करोड़ रूपए।टैक्स चोरी के 47 केसों में पकड़े थे 962 करोड़ रूपए।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..