Hindi News »National »Latest News »National» Padmaavat Release Rajput Karni Sena Chief Lokendra Singh Kalvi

ये गलत हो रहा है, लेकिन अब इसे मैं भी नहीं रोक सकता: पद्मावत के हिंसक विरोध पर करणी सेना चीफ

पद्मावत की रिलीज से पहले बुधवार को महाराष्ट्र, हरियाणा, राजस्थान समेत कई राज्यों में हिंसक प्रदर्शन हुए।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 24, 2018, 10:18 PM IST

  • ये गलत हो रहा है, लेकिन अब इसे मैं भी नहीं रोक सकता: पद्मावत के हिंसक विरोध पर करणी सेना चीफ, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें

    नई दिल्ली. पद्मावत की रिलीज से पहले बुधवार को महाराष्ट्र, हरियाणा, राजस्थान समेत कई राज्यों में हिंसक प्रदर्शन हुए। राजपूत करणी सेना और राजपूत संगठनों ने कई जगहों पर गाड़ियों में आगजनी और तोड़फोड़ की। इस हिंसा पर करणी सेना के चीफ लोकेंद्र सिंह कालवी ने कहा, "ये दुखद है, गलत है, लेकिन मन की ज्वाला को सड़कों पर धधकने से कोई नहीं रोक सकता.. मैं भी नहीं।" बता दें कि पद्मावत 25 जनवरी को रिलीज होनी है। लेकिन, विरोध को देखते हुए मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने 4 राज्यों में फिल्म की स्क्रीनिंग ना करने का फैसला किया है। एसोसिएशन ने कहा कि राजस्थान, गुजरात, मध्यप्रदेश और गोवा में हम फिल्म की स्क्रीनिंग नहीं करेंगे।

    पद्मावत रिलीज पर क्या बोले करणी सेना के चीफ?

    - लोकेंद्र सिंह कालवी ने कहा, "मन की ज्वाला है मत टटोलो। जौहर की ज्वाला बहुत कुछ जला देगी। पद्मावती रुक गई। पद्मावत को भी रोको। जल जाएगा देश, मत करो ये पाप।"

    - पूर्व बीजेपी लीडर सूरज पाल अम्मू ने इस घटना पर कहा, " एक स्कूल बस पर हमला किया गया। अगर किसी बच्चे को कुछ हो जाता तो हम अपने आपको कभी माफ नहीं कर पाते। मैं शांतिपूर्वक विरोध की अपील करता हूं। ये तभी खत्म होगा, जब पीएम-होम मिनिस्टर या अमित शाह आगे आकर कुछ बोलेंगे। मैं सबसे अपील करता हूं कि पद्मावत का बायकॉट करें।"

    किन राज्यों में पद्मावत का विरोध हिंसक हुआ?

    - हरियाणा, राजस्थान, मध्यप्रदेश, गुजरात, उत्तर प्रदेश, जम्मू-कश्मीर में हिंसक प्रदर्शन हुए।

    हिंसक प्रदर्शन पर राजनीतिक दलों ने क्या कहा?

    AAP: अरविंद केजरीवाल ने कहा, "सुप्रीम कोर्ट और सरकार मिलकर सुरक्षा के साथ फिल्म रिलीज नहीं करवा पा रहे हैं। ऐसे में निवेश कैसे होगा। एफडीआई को भूल जाएं। लोकल इन्वेस्टर्स भी ऐसे में कतराएंगे। ये रोजगार के लिए बुरा है।"

    TMC:प. बंगाल की चीफ मिनिस्टर ममता बनर्जी ने लोगों से अपील की कि वे शांति बनाए रखें। उन्होंने कहा, "अगर पद्मावत प. बंगाल में रिलीज होती है तो मुझे खुशी होगी।"

    CONGRESS: कांग्रेस लीडर रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, "हरियाणा में स्कूल बस और रोडवेज की बस पर हमला निंदनीय है। इस घटना में यात्रियों और बच्चों की जान खतरे में पड़ी। खट्टर सरकार कानून और व्यवस्था कायम करने में फेल हो गई। उसे सत्ता में रहने का कोई हक नहीं है।"

    पद्मावत को लेकर क्या विवाद है?

    - राजस्थान में करणी सेना, बीजेपी लीडर्स और हिंदूवादी संगठनों ने इतिहास से छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। राजपूत करणी सेना का मानना है कि ​इस फिल्म में पद्मिनी और खिलजी के बीच सीन फिल्माए जाने से उनकी भावनाओं को ठेस पहुंची। फिल्म में रानी पद्मावती को भी घूमर डांस करते दिखाया गया है। जबकि राजपूत राजघरानों में रानियां घूमर नहीं करती थीं। हालांकि, भंसाली साफ कर चुके हैं कि ये ड्रीम सीक्वेंस फिल्म में है ही नहीं।

    मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन का क्या स्टैंड है?

    - मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने कहा कि हम गोवा, राजस्थान, मध्यप्रदेश और गुजरात में फिल्म की स्क्रीनिंग नहीं करेंगे। एसोसिएशन ने कहा- लोकल मैनेजमेंट ने हमसे कहा है कि कानून-व्यवस्था की स्थिति ठीक नहीं है इसलिए हमने ये फैसला लिया है।

    - बता दें कि इस एसोसिएशन से देश के 75% मल्टीप्लेक्स मालिक जुड़े हुए हैं।

    ये भी पढ़ें-

    पद्मावत: 4 राज्यों में नहीं होगी फिल्म की स्क्रीनिंग- मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन; हरियाणा में स्कूल बस पर पथराव

  • ये गलत हो रहा है, लेकिन अब इसे मैं भी नहीं रोक सकता: पद्मावत के हिंसक विरोध पर करणी सेना चीफ, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Padmaavat Release Rajput Karni Sena Chief Lokendra Singh Kalvi
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×