• Home
  • National
  • Punjab minister flips coin to decide on posting of lecturers
--Advertisement--

पंजाब: मंत्री ने सिक्का उछालकर लेक्चरर को अप्वाइंट किया, अपोजिशन का तंज- टाइमपास चल रहा है

पंजाब के टेक्निकल एजुकेशन मिनिस्टर ने लेक्चरर की पोस्टिंग का फैसला करने का फैसला सिक्का उछालकर किया।

Danik Bhaskar | Feb 13, 2018, 10:04 PM IST
चरनजीत सिंह चन्नी पंजाब के टेक्निकल एजुकेशन मिनिस्टर हैं। - फाइल चरनजीत सिंह चन्नी पंजाब के टेक्निकल एजुकेशन मिनिस्टर हैं। - फाइल

चंडीगढ़. पंजाब के टेक्निकल एजुकेशन मिनिस्टर ने लेक्चरर की पोस्टिंग का फैसला सिक्का उछालकर किया। इस पोस्ट के लिए दो कैंडिडेट्स ने दावेदारी की थी। इस घटना का वीडियो न्यूज चैनल्स पर दिखाया गया। मिनिस्टर चरनजीत सिंह चन्नी ने सिक्का उछालने पर सफाई दी, "मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है। लेक्चरर की पोस्टिंग मेरिट और ट्रांसपेरेंट तरीके से की है।" अपोजिशन पार्टियों ने मंत्री को पद से हटाए जाने की मांग की है। शिरोमणि अकाली दल ने कहा कि अमरिंदर सरकार में मंत्री टाइमपास कर रहे हैं।

Q&A में समझें मामला

पोस्टिंग को लेकर सिक्का उछालने की नौबत क्यों आई?
- ये घटना सोमवार की है। पंजाब पब्लिक सर्विस कमीशन एग्जामिनेशन के जरिए चुने गए 37 लेक्चरर्स को मिनिस्टर ने पोस्टिंग ऑर्डर देने के लिए बुलाया।
- नाभा और पटियाला के दो लेक्चरर्स पटियाला के गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक में पोस्टिंग चाहते थे।
- टेक्निकल एजुकेशन डिपार्टमेंट के स्पोक्सपर्सन ने कहा, "दोनों कैंडिडेट एक ही पोस्ट के लिए दावेदारी कर रहे थे। एक कैंडिडेट का कहना था कि उसकी मेरिट ज्यादा है तो दूसरा कैंडिडेट अपने को ज्यादा अनुभवी बता रहा था। पोस्टिंग ट्रांसपेरेंट तरीके से हुई है। मीडिया बेवजगह कंट्रोवर्सी खड़ी कर रहा है।"

सिक्का उछालने पर मंत्री ने क्या दलील दी?
- चन्नी ने कहा, "दोनों ही कैंडिडेट्स की मेरिट एक ही जैसी थी। उन्होंने ही सिक्का उछालकर मामला सुलझाने की बात कही। कुछ भी गलत नहीं हुआ। कैंडिडेट्स ने ही सिक्का उछालकर फैसला करने का प्रपोजल दिया था। सबकुछ पारदर्शी तरीके से और योग्यता के आधार पर हुआ। कैंडिडेट्स को उनकी चॉइस के आधार पर पोस्टिंग दी गई। पहले की SAD-BJP सरकार के दौरान पोस्टिंग की सौदेबाजी होती थी और करप्शन होता था। मैंने इस साठगांठ को खत्म किया है।"

अपोजिशन का इस मामले पर क्या कहना है?
- बीजेपी स्टेट सेक्रेटरी विनीत जोशी ने कहा, "एक मिनिस्टर को शिष्टाचार को बनाए रखना चाहिए, लेकिन चन्नी ऐसा करने में नाकाम रहे। उन्होंने आधिकारिक मसले का फैसला सिक्का उछालकर दिया। उन्होंने सरकार को शर्मिंदा किया है। इससे पहले कि वे ऐसा और कुछ करें, उन्हें पद से हटा दिया जाना चाहिए।"
- शिरोमणि अकाली दल के स्पोक्सपर्सन दलजीत सिंह चीमा ने कहा, "सिक्का उछालना ये दिखाता है कि अमरिंदर सिंह की कांग्रेसी सरकार गवर्नेंस को लेकर कितनी गंभीर है। ऐसा लगता है कि मंत्री केवल टाइमपास कर रहे हैं और मंत्री पद का लुत्फ उठा रहे हैं।"

अपोजिशन ने तंज कसा कि पंजाब की अमरिंदर सरकार में मिनिस्टर्स टाइम पास कर रहे हैं। - फाइल अपोजिशन ने तंज कसा कि पंजाब की अमरिंदर सरकार में मिनिस्टर्स टाइम पास कर रहे हैं। - फाइल