देश

  • Home
  • National
  • Congress president Rahul Gandhi has asked party leaders from poll-bound Karnataka to prepare peoples manifesto.
--Advertisement--

राहुल गांधी ने पार्टी नेताओं से कर्नाटक के लिए पीपुल्स मेनिफेस्टो तैयार करने को कहा, राज्य में इसी साल हैं चुनाव

गुजरात चुनाव वक्त भी कांग्रेस ने इसी तर्ज पर पीपुल्स मेनिफेस्टो तैयार कराया था।

Danik Bhaskar

Jan 27, 2018, 02:48 PM IST
राहुल गांधी ने कर्नाटक कांग्रेस के नेताओं से कहा है कि वो आने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पीपुल्स मेनिफेस्टो यानी जनता का घोषणा पत्र तैयार कराएं।- फाइल राहुल गांधी ने कर्नाटक कांग्रेस के नेताओं से कहा है कि वो आने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पीपुल्स मेनिफेस्टो यानी जनता का घोषणा पत्र तैयार कराएं।- फाइल

नई दिल्ली. राहुल गांधी ने कर्नाटक कांग्रेस के नेताओं से कहा है कि वो आने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पीपुल्स मेनिफेस्टो यानी जनता का घोषणा पत्र तैयार कराएं। बता दें कि गुजरात चुनाव वक्त भी कांग्रेस ने इसी तर्ज पर पीपुल्स मेनिफेस्टो तैयार कराया था। तब राहुल के करीबी सलाहाकार सैम पित्रोदा ने गुजरात के पांच शहरों में लोगों से बातचीत कर उनकी राय जानी थी। कर्नाटक में भी कांग्रेस यही कवायद दोहराने जा रही है। यहां विधानसभा चुनाव इसी साल होने हैं। फिलहाल, यहां कांग्रेस की ही सरकार है।

वीरप्पा मोइली को सौंपी जिम्मेदारी

- न्यूज एजेंसी ने एक कांग्रेस नेता के हवाले से कहा- पीपुल्स मेनिफिस्टो बनाने के लिए पार्टी नेताओं की एक टीम बनाई गई है। इस टीम की अगुआई सीनियर लीडर वीरप्पा मोईली कर रहे हैं। माना जा रहा है कि यह कमेटी कुछ ही दिनों में राज्य के अलग-अलग हिस्सों से फीडबैक लेकर मेनिफेस्टो तैयार करेगी।
- ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के सेक्रेटरी और कर्नाटक में पार्टी इंचार्ज मधु गौड़ ने कहा- पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी नेताओं से कहा है कि वो एक ऐसा मेनिफेस्टो तैयार करें जो हकीकत में कर्नाटक की जनता की उम्मीदों को पूरा करता हो। इसके लिए राज्य में अलग-अलग तबकों के लोगों से संपर्क किया जा रहा है।

गुजरात में भी यही तरीका अपनाया गया था

- पिछले साल गुजरात में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान भी कांग्रेस ने यही तरीका अपनाया था। तब राहुल गांधी के एडवाइजर सैम पित्रोदा ने वडोदरा, अहमदाबाद, राजकोट, जामनगर और सूरत में लोगों से बातचीत की थी। इसके बाद कांग्रेस का मेनिफेस्टो तैयार किया गया गया था।
- इस दौरान एजुकेशन, हेल्थ और रोजगार से जुड़े कुछ मामलों को कांग्रेस ने अपने मेनिफेस्टो में शामिल किया था।

क्या कहते हैं कांग्रेस नेता?

- कांग्रेस के एक नेता ने पीपुल्स मेनिफेस्टो को एक बेहतरीन कोशिश बताया। उन्होंने कहा- इसके जरिए हम यह पता लगा पाएंगे कि राज्य की जनता आखिर किन मुद्दों पर हमसे उम्मीदें रखती है। पहले नेता अपने ऑफिस में बैठकर मेनिफेस्टो तैयार करते थे। अब उन्होंने जनता से सीधे बात करने का मौका दिया जा रहा है।
- उन्होंने कहा कि कर्नाटक की पार्टी यूनिट राज्य के विकास में सोशियो-इकोनॉमिक फैक्टर को भी नजर में रख रही है।
- कर्नाटक विधानसभा में 224 सीटें हैं। फिलहाल, चुनाव की तारीखों का एलान नहीं किया गया है। कांग्रेस की कोशिश सत्ता बरकरार रखने की है जबकि बीजेपी यहां कांग्रेस को हराकर एक और राज्य अपने कब्जे में करना चाहती है।
- कांग्रेस और बीजेपी के अलावा यहां जनता दल सेक्युलर भी है। इसके नेता एचडी. देवेगौड़ा हैं। राज्य के कुछ हिस्से पर इस पार्टी का अच्छा होल्ड माना जाता है।

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव इसी साल होने हैं। फिलहाल, यहां कांग्रेस की ही सरकार है।- फाइल कर्नाटक में विधानसभा चुनाव इसी साल होने हैं। फिलहाल, यहां कांग्रेस की ही सरकार है।- फाइल
Click to listen..