Hindi News »National »Latest News »National» Sachin Says On U 19 World Cup Victory Credit To Bcci In The Last 15 Years The Standard Of Playing Has Changed

शानदार अचीवमेंट का क्रेडिट BCCI को, 15 साल में खेल के स्टैंडर्ड बदले: U-19 वर्ल्ड कप में जीत पर सचिन

सचिन बोले- बेहतर इन्फ्रास्ट्रक्चर के चलते फील्डिंग बदल गई है। ग्राउंड मेंटेनेंस अच्छा हुआ है। इसका असर खेल पर दिखता है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 04, 2018, 10:44 AM IST

शानदार अचीवमेंट का क्रेडिट BCCI को, 15 साल में खेल के स्टैंडर्ड बदले: U-19 वर्ल्ड कप में जीत पर सचिन, national news in hindi, national news

मुंबई. सचिन तेंडुलकर ने U-19 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की जीत का क्रेडिट बोर्ड ऑफ क्रिकेट कंट्रोल ऑफ इंडिया (BCCI) को दिया है। सचिन ने कहा कि बीते 15 साल में क्रिकेट के स्टैंडर्ड काफी बदल गए हैं। बेहतर इन्फ्रास्ट्रक्चर के चलते फील्डिंग बदल गई है। ग्राउंड मेंटेनेंस अच्छा हुआ है। इसका असर सीधा खेल पर दिखता है।

सपने बड़े होना जरूरी है

- न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक सचिन ने कहा, "ये शानदार अचीवमेंट है। बड़े सपने पूरा करने के लिए गजब का टीम वर्क होना जरूरी है।''
- "प्लेयर्स का फिजिकली, मेंटली और प्लानिंग के तौर पर मजबूत होना जरूरी है ताकि फील्ड पर उनका कोई भी काम बेस्ट हो।''
- "पूरे टूर्नामेंट में एक बात सामने आई कि भारतीय टीम सभी कॉम्पिटीटर्स से अलग खड़ी नजर आई।''

भारत ने चौथी बार जीता U-19 वर्ल्ड कप

- भारत ने शनिवार को ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराकर रिकॉर्ड चौथी बार टूर्नामेंट जीत लिया। इससे पहले भारत ने 2000, 2008 और 2012 में U-19 वर्ल्ड कप जीता था।

- ऑस्ट्रेलिया ने पहले बैटिंग करते हुए भारत को 217 रन का टारगेट दिया था। ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 47.2 ओवर में 216 रन पर आउट हो गई।

- भारत ने 11 ओवर बाकी रहते मैच जीत लिया। मनजोत कालरा ने नॉटआउट 101 रन बनाए।

- बीसीसीआई ने कोच राहुल द्रविड़ को 50 लाख रुपए, टीम के सभी मेंबर को 30-30 लाख और सपोर्ट स्टाफ को 20-20 लाख रुपए देने का एलान किया है। जीत के बाद द्रविड़ ने कहा कि पिछले 14 महीने की मेहनत रंग लाई।

टूर्नामेंट में टीम इंडिया का परफॉर्मेंस कैसे खास रहा?

- टीम ने पूरे टूर्नामेंट के किसी भी मैच में अपोजिशन टीम को 228 रन का स्कोर नहीं करने दिया। भारतीय गेंदबाजों ने सभी छह मैचों में विरोधी टीम को ऑलआउट किया।

- सबसे बेहतरीन फास्ट बॉलिंग अटैक टीम इंडिया का रहा। कमलेश नागरकोटी और शिवम मावी ने लगातार 140 kmph से ज्यादा स्पीड से बॉलिंग की।

- ईशान पोरेल पूरे टूर्नामेंट में बेहद सटीक रहे। तेज गेंदबाजों के साथ स्पिनर्स ने भी कमाल दिखाया। अनुकूल रॉय 14 विकेट लेकर टॉप परफॉर्मर रहे।

- बैटिंग में शुभमन गिल ने अपनी 5 में से 4 इनिंग में 50+ स्कोर किया। इसमें 3 फिफ्टी और एक सेंचुरी शामिल है।

- कप्तान शॉ ने भी लगातार टीम को शानदार शुरुआत दिलाई। टूर्नामेंट के पहले मैच में हाफ सेंचुरी लगाकर टीम का पेस सेट किया।

जीत के बाद किसने क्या कहा?

- मैन ऑफ द मैच मनजोत कालरा ने कहा कि कंडीशन काफी अच्छी थी। विकेट फ्लैट था, इसलिए खेलने में कोई परेशानी नहीं हुई।

- मैन ऑफ द टूर्नामेंट शुभमन गिल ने कहा कि मुझे अपनी टीम पर गर्व है। हमारे कोच राहुल द्रविड़ ने कहा कि अपना नेचुरल गेम खेलो। न्यूजीलैंड का एक्सपीरियंस हमारे लिए काफी अच्छा रहा।

द्रविड़ बोले- बहुत कुछ सीखा जा सकता है इन लड़कों से
- जीत के बाद राहुल द्रविड़ ने कहा- "टीम का पूरे टूर्नामेंट में बेहद शानदार परफॉर्मेंस रहा। मेरे लिए इस लेवल पर रिजल्ट महत्व नहीं रखते। हार-जीत एक्साइटिंग हो सकती है। हमने फैसले लिए और यंग खिलाड़ियों को मौके दिए।''

- ''पिछली बार वर्ल्ड कप खेलने वाले कई खिलाड़ियों को इसका एक्सपीरियंस था और हम चाहते थे तो तब के 3-4 खिलाड़ियों को खिला सकते थे। लेकिन अगर इस टीम में सुंदर होता तो पृथ्वी शॉ कभी कप्तान नहीं बन पाता। इन खिलाड़ियों से काफी कुछ सीखा जा सकता है। वो हमेशा कुछ नया सीखने और करने का सोचते हैं।'' (पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें...)

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×