देश

  • Home
  • National
  • Sachin Tendulkar was not able to deliver his maiden speech in the Rajya Sabha on Thursday now tune social media platform Facebook.
--Advertisement--

अनफिट इंडिया भयानक खतरा, देश के लिए स्पोर्ट्स कल्चर जरूरी: संसद में हंगामे की वजह नहीं बोल पाए सचिन ने जारी किया वीडियो

सचिन ने बताया कि डायबिटीज और मोटापा किस तरह भारत पर आर्थिक तौर पर बोझ डाल रहे हैं।

Danik Bhaskar

Dec 22, 2017, 04:56 PM IST
VIDEO: सचिन ने शनिवार को वीडियो के जरिए अपना विजन रखा.. VIDEO: सचिन ने शनिवार को वीडियो के जरिए अपना विजन रखा..

नई दिल्ली. हंगामे की वजह संसद में अपना पहला भाषण देने में नाकाम रहे सचिन ने शुक्रवार को एक वीडियो जारी किया। इसमें उन्होंने कहा कि अनफिट और अनहेल्दी इंडिया भयानक खतरा साबित होगा। सचिन ने कुछ आंकड़े भी शेयर किए। इसमें उन्होंने बताया कि डायबिटीज और मोटापा किस तरह भारत पर आर्थिक तौर पर बोझ डाल रहे हैं। बता दें कि गुरुवार को सचिन राज्यसभा में पहली बार ‘राइट टू प्ले’ पर स्पीच देने के लिए खड़े हुए। लेकिन, कांग्रेस सांसदों के हंगामे की वजह से वो कुछ भी नहीं बोल पाए थे।

हम खेलों को प्यार करने वाला देश बनें

- सचिन ने 15 मिनट का यह वीडियो मैसेज अपने फेसबुक पेज पर शेयर किया है। इसमें मास्टर ब्लास्टर ने अपना स्पोर्ट्स विजन दिया है।
- सचिन ने अपने मैसेज में देश को ‘स्पोर्ट्स प्लेइंग नेशन से स्पोर्ट्स लविंग नेशन’ में बदलना होगा।

हेल्दी और फिट इंडिया का मंत्र

- सचिन ने हेल्दी और फिट इंडिया के लिए अपना विजन दिया है। मास्टर ब्लास्टर ने कहा कि एक स्पोर्टस पर्सन होने के नाते वो खेलों की ही बात करना चाहते हैं। हेल्थ और फिटनेस बहुत जरूरी है।

- सचिन ने कहा कि फिट और हेल्थ का देश की इकोनॉमी पर भी गहरा असर पड़ता है।

आंकड़े भी दिए

- सचिन ने देश में दो बीमारियों को खतरनाक संकेत बताया। उन्होंने कहा- भारत डायबिटीज का वर्ल्ड कैपिटल हो चुका है। हमारे 7.5 करोड़ लोग इस भयानक बीमारी का शिकार हैं।
- सचिन ने मोटापे (obesity) को भी चिंता की बड़ी वजह बताया। उन्होंने कहा कि मोटापा एक बीमारी है। मोटापे के मामले में हम दुनिया के टॉप तीन देशों में गिने जाते हैं। दुनिया में सबसे ज्यादा सेंचुरी लगाने वाले इस लीजेंड ने कहा कि डायबिटीज और मोटापे जैसी बीमारियां देश की इकोनॉमिक प्रोग्रेस में भी बड़ी दिक्कत पैदा करती हैं।

देश में स्पोर्ट्स कल्चर जरूरी

- सचिन ने देश में स्पोर्ट्स कल्चर बनाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि अगर देश में स्पोर्ट्स कल्चर नहीं होगा तो हम एक युवा लेकिन अनफिट और अनहेल्दी भारत देखेंगे। उन्होंने इसके लिए तीन ‘I’ ( Invest, Insure and Immortalise) का फॉर्मूला दिया। इन तीन ‘I’ का मतलब निवेश, तय करना और अमर हो जाना है।
- मास्टर ब्लास्टर ने कहा- हम अपना वक्त देना होगा। प्रयास करने होंगे। हम सभी को एक्टिव स्पोर्ट का हिस्सा बनना होगा।
- सचिन ने आगे कहा- देश के नागरिकों और स्कूली बच्चों को स्पोर्ट्स के लिए ज्यादा बेहतर इन्फ्रास्ट्रचर देना होगा। स्मार्ट सिटीज के साथ ओपन स्पेस और खेल के मैदान होने चाहिए। हमको खेलों के लिए भी स्मार्ट स्पोर्ट सिटीज बनानी चाहिए।

गुरुवार को सचिन राज्यसभा में पहली बार स्पीच देने के लिए खड़े हुए। लेकिन, कांग्रेस सांसदों के हंगामे की वजह से वो कुछ भी नहीं बोल पाए थे। गुरुवार को सचिन राज्यसभा में पहली बार स्पीच देने के लिए खड़े हुए। लेकिन, कांग्रेस सांसदों के हंगामे की वजह से वो कुछ भी नहीं बोल पाए थे।
Click to listen..