• Home
  • National
  • Shopian firing Centre files plea in SC to quash FIR against Major Aditya
--Advertisement--

शोपियां फायरिंग केस: केंद्र सरकार ने मेजर आदित्य के खिलाफ एफआईआर रद्द करने के लिए SC में दायर की याचिका

सुप्रीम कोर्ट ने 5 मार्च को अगली सुनवाई तक मेजर आदित्य के खिलाफ जांच शुरू करने पर रोक लगाई थी।

Danik Bhaskar | Mar 09, 2018, 03:39 PM IST
शोपियां में 27 जनवरी को आर्मी पर कुछ प्रदर्शनकारियों ने पत्थरबाजी कर दी थी, सेना की जवाबी कार्रवाई में तीन लोगों की मौत हो गई थी। शोपियां में 27 जनवरी को आर्मी पर कुछ प्रदर्शनकारियों ने पत्थरबाजी कर दी थी, सेना की जवाबी कार्रवाई में तीन लोगों की मौत हो गई थी।

नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने शोपियां फायरिंग केस को लेकर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में एक नई याचिका दायर की। इस याचिका में सरकार ने कोर्ट से मेजर आदित्य के खिलाफ एफआईआर रद्द करने की मांग की। इससे पहले 5 मार्च को सुप्रीम कोर्ट ने अगली सुनवाई (24 अप्रैल) तक मेजर आदित्य के खिलाफ जांच शुरू करने पर रोक लगाई थी। बता दें कि 27 जनवरी को शोपियां फायरिंग में दो लोगों की जान चली गई थी।

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक मेजर आदित्य के पिता लेफ्टिनेंट कर्नल करमवीर सिंह की वकील ऐश्वर्या भाटी ने बताया कि केंद्र सरकार ने शुक्रवार को शोपियां फायरिंग केस में में मेजर आदित्य के खिलाफ दर्ज एफआईआर रद्द करने के लिए आवेदन दिया।

- इस मामले में जम्मू कश्मीर सरकार ने पिछली सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि मेजर आदित्य का नाम आरोपियों की लिस्ट में शामिल नहीं है।


कब और कहां हुई थी फायरिंग?
- अफसरों के मुताबिक, 27 जनवरी को आर्मी का एक काफिला शोपियां के गनोवपोरा गांव से गुजर रहा था। इसी दौरान कुछ प्रदर्शनकारियों ने काफिले पर पत्थर फेंकने शुरू कर दिए। जवाब में सिक्युरिटी फोर्स ने उन्हें भगाने के लिए कुछ राउंड फायरिंग की, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई।

राज्य सरकार के आदेश के बाद दर्ज हुई थी एफआईआर
शोपियां में फायरिंग की घटना को लेकर महबूबा सरकार के ऑर्डर पर जम्मू-कश्मीर पुलिस ने आर्मी अफसरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की। इसमें मेजर आदित्य का नाम भी शामिल है।

सुप्रीम कोर्ट पहुंचे आदित्य के पिता

आर्मी मेजर आदित्य के खिलाफ FIR दर्ज होने के बाद इसे रद्द कराने के लिए आदित्य के पिता लेफ्टिनेंट कर्नल कर्मवीर सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की। उनका कहना है कि बेटे ने साथियों को बचाने के लिए फायरिंग की। इसमें कुछ भी गलत नहीं है।

सुप्रीम कोर्ट ने एफआईआर पर लगाई थी रोक
- शोपियां फायरिंग मामले में मेजर आदित्य समेत दूसरे आर्मी अफसरों के खिलाफ दर्ज FIR पर सुप्रीम कोर्ट ने 12 फरवरी को स्टे लगाया था।
- सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू-कश्मीर सरकार पर मेजर आदित्य समेत दूसरे अफसरों के खिलाफ 24 अप्रैल तक कोई भी कानूनी (दंडात्मक) कार्रवाई न करने का आदेश दिया था।

मेजर आदित्य के पिता की वकील ऐश्वर्या भाटी ने बताया कि केंद्र सरकार ने शुक्रवार को शोपियां फायरिंग केस में  में मेजर आदित्य के खिलाफ दर्ज एफआईआर रद्द करने के लिए आवेदन दिया। मेजर आदित्य के पिता की वकील ऐश्वर्या भाटी ने बताया कि केंद्र सरकार ने शुक्रवार को शोपियां फायरिंग केस में में मेजर आदित्य के खिलाफ दर्ज एफआईआर रद्द करने के लिए आवेदन दिया।