--Advertisement--

SSC पेपर लीक की जांच सीबीआई से कराने की मांग, आयोग ने कहा- कैंडिडेट्स पहले सबूत दें

एसएससी परीक्षा में पेपर लीक का आरोप लगाते हुए दिल्ली में कैंडिडेट्स ने प्रदर्शन किया।

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 02:48 PM IST
भर्ती परीक्षाओं में धांधली का आरोप लगाते हुए करीब 2 हजार कैंडिडेट एसएससी ऑफिस के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं। भर्ती परीक्षाओं में धांधली का आरोप लगाते हुए करीब 2 हजार कैंडिडेट एसएससी ऑफिस के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं।

नई दिल्ली. कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) की परीक्षाओं के लिए तैयारी करने वाले स्टूडेंट्स ने पेपर लीक और धांधली का आरोप लगाया है। दिल्ली समेत देश के कई राज्यों से आए करीब 2 हजार लड़के-लड़कियां एसएससी ऑफिस के बाहर 4 दिन से प्रदर्शन कर रहे हैं। गुरुवार को स्वराज इंडिया (पार्टी) के नेता योगेंद्र यादव कैंडिडेट्स से मिलने पहुंचे और उन्हें संबोधित किया। दूसरी ओर, आयोग के चेयरमैन ने कम्बाइंड ग्रेजुएट लेवल (सीजीएल) टियर-II परीक्षा में पेपर लीक के आरोपों को लेकर कैंडिडेट्स से सबूत मांगे। कैंडिडेट्स ने कहा है कि एसएससी ने उनके सबूतों के दरकिनार कर दिया है। जब तक धांधली के रैकेट की सीबीआई जांच नहीं कराई जाती प्रदर्शन जारी रहेगा।

स्टूडेंट्स के क्या आरोप हैं?

- प्रदर्शन में शामिल कुमार अग्निवेश ने भास्कर को बताया कि एसएससी की भर्ती परीक्षाओं में बड़े स्तर पर धांधली का रैकेट चल रहा है। उन्होंने नौकरी दिलाने के लिए रेट तय कर रखा है। जैसे- एग्जामिनर के लिए 40 लाख, इनकम टैक्स के लिए 35 लाख, सब इंस्पेक्टर के लिए 25 लाख और क्लर्क के लिए 8 लाख रुपए तक मांगे जाते हैं।

- भर्ती परीक्षा की तैयारी कर रहे उत्कर्ष सिंह ने बताया कि एडमिनिस्ट्रेशन हमारी कोई सुनवाई नहीं कर रहा है। गुरुवार को कैंडिडेट्स का एक डेलिगेशन सबूतों के साथ चेयरमैन से मिला था, लेकिन उन्होंने सबूतों को मानने से इनकार कर दिया। हम सीबीआई जांच शुरू होने तक नहीं हटेंगे।

- वहीं, स्टूडेंट संदीप कुमार ने कहा कि एसएससी परीक्षाओं के लिए एक रैकेट काम कर रहा है, जो दिन-रात तैयारी करने वाले स्टूडेंट्स की मेहनत पर पानी फेर देता है। हम चाहते हैं कि भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई करने वाली मोदी सरकार परीक्षाओं से भी धांधली दूर करे।

क्या मामला है और कैसे जुटी भीड़?

- 22 फरवरी को ग्रेजुएट लेवल टियर-II की परीक्षा हुई थी। इसके पहले पार्ट में 17 फरवरी को भी दिल्ली के एक सेंटर पर एग्जाम कराया गया। इसी में पेपर लीक का आरोप लगाया जा रहा है।

- आयोग से 17 फरवरी को हुई परीक्षा रद्द करने और धांधली के रैकेट की जांच सीबीआई से कराए जाने की मांग कैंडिडेट कर रहे हैं।

- बताया जा रहा है कि परीक्षाओं में धांधली से तंग आकर कुछ स्टूडेंट्स ने सोशल मीडिया में मुहिम छेड़ी हुई थी। इसी में शामिल होने के लिए भीड़ जुटी।

पुलिस ने कैंडिडेट्स का मार्च रोका

- पिछले दिनों एसएसपी परीक्षा में बैठने वाले कैंडिडेट्स ने आयोग के ऑफिस बाहर पर प्रदर्शन के साथ राजधानी के लोधी एस्टेट इलाके में प्रदर्शन किया। पुलिस ने बुधवार रात पार्लियामेंट स्ट्रीट की ओर बढ़ रहा कैंडिडेट्स का मार्च रोक दिया। डीसीपी, मधुर वर्मा ने बताया कि पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को आयोग के साथ मीटिंग की समझाइश दी।

आरोपों पर आयोग ने क्या कहा?

- परीक्षाओं में गड़बड़ी के आरोप पर एसएससी ने चेयरमैन असीम खुराना की ओर से बुधवार रात ऑफिशियल बयान जारी किया। इसमें कहा कि एसएससी टियर-II परीक्षा में गड़बड़ी का आरोप लगा रहे स्टूडेंट्स दो कोचिंग इंस्टीट्यूट से जुड़े हुए हैं।
- आयोग उनके डेलिगेशन से बात करने के लिए तैयार है। साथ ही वे गुरुवार को मीटिंग कर आरोपों से जुड़े पुख्ता सबूत पेश करें। इसके बाद मामले में जांच कराने के लिए डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनेल एंड ट्रेनिंग (DoPT) से सलाह लेंगे।

कहां-कहां से कैंडिडेट्स पहुंचे हैं?

- एसएससी दफ्तर के बाहर प्रदर्शन करने वाले ज्यादातर स्टूडेंट दिल्ली में परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं। कई लड़के-लड़कियां बिहार, यूपी, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, राजस्थान, महाराष्ट्र समेत देशभर के अलग-अलग राज्यों से यहां पहुंचे हैं।

प्रदर्शन के चौथे दिन गुरुवार को स्वराज इंडिया (पार्टी) के नेता योगेंद्र यादव कैंडिडेट्स से मिले। प्रदर्शन के चौथे दिन गुरुवार को स्वराज इंडिया (पार्टी) के नेता योगेंद्र यादव कैंडिडेट्स से मिले।
एसएससी परीक्षाओं में धांधली का आरोप लगाने वाले कैंडिडेट्स ने सीबीआई जांच की मांग की है। एसएससी परीक्षाओं में धांधली का आरोप लगाने वाले कैंडिडेट्स ने सीबीआई जांच की मांग की है।
दिल्ली में प्रदर्शन के बाद एसएससी ने कैंडिडेट्स को गुरुवार को मीटिंग के लिए ऑफिस बुलाया। दिल्ली में प्रदर्शन के बाद एसएससी ने कैंडिडेट्स को गुरुवार को मीटिंग के लिए ऑफिस बुलाया।
X
भर्ती परीक्षाओं में धांधली का आरोप लगाते हुए करीब 2 हजार कैंडिडेट एसएससी ऑफिस के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं।भर्ती परीक्षाओं में धांधली का आरोप लगाते हुए करीब 2 हजार कैंडिडेट एसएससी ऑफिस के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं।
प्रदर्शन के चौथे दिन गुरुवार को स्वराज इंडिया (पार्टी) के नेता योगेंद्र यादव कैंडिडेट्स से मिले।प्रदर्शन के चौथे दिन गुरुवार को स्वराज इंडिया (पार्टी) के नेता योगेंद्र यादव कैंडिडेट्स से मिले।
एसएससी परीक्षाओं में धांधली का आरोप लगाने वाले कैंडिडेट्स ने सीबीआई जांच की मांग की है।एसएससी परीक्षाओं में धांधली का आरोप लगाने वाले कैंडिडेट्स ने सीबीआई जांच की मांग की है।
दिल्ली में प्रदर्शन के बाद एसएससी ने कैंडिडेट्स को गुरुवार को मीटिंग के लिए ऑफिस बुलाया।दिल्ली में प्रदर्शन के बाद एसएससी ने कैंडिडेट्स को गुरुवार को मीटिंग के लिए ऑफिस बुलाया।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..