Hindi News »National »Latest News »National» Supreme Court Order To Proof Of Identity In NEET And Other Exam, Cheif Justice Deepak Misra,

NEET समेत सभी परीक्षाओं में आईडेंटिटी प्रूफ के लिए आधार नंबर जरूरी नहीं: सुप्रीम कोर्ट

नीट के लिए फॉर्म भरने की आखिरी तारीख 9 मार्च है और यह परीक्षा 6 मई को होगी।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Mar 09, 2018, 11:30 AM IST

  • NEET समेत सभी परीक्षाओं में आईडेंटिटी प्रूफ के लिए आधार नंबर जरूरी नहीं: सुप्रीम कोर्ट, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    इस साल 6 मई को मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन के लिए नीट परीक्षा होगी। -फाइल

    नई दिल्ली.सुप्रीम कोर्ट ने नेशनल एलिजिबलिटी कम एंट्रेस टेस्ट (NEET) समेत ऑल इंडिया लेवल की सभी परीक्षाओं में आधार को लेकर अंतरिम आदेश दिया। कोर्ट ने बुधवार को सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) से कहा कि इस साल नीट परीक्षा के लिए आधार जरूरी नहीं किया जाए। आधार की संवैधानिक वैधता पर फैसला होने तक यह आदेश जारी रहेगा। बता दें कि सीजेआई दीपक मिश्रा की अध्यक्षता में 5 जजों की बेंच नीट के नोटिफिकेशन के खिलाफ दायर याचिकाओं पर सुनवाई कर रही है। नीट के लिए फॉर्म भरने की आखिरी तारीख 9 मार्च है, परीक्षा 6 मई को होगी। इसके जरिए देशभर के मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस और बीडीएस कोर्स में दाखिला दिया जाता है।

    कोर्ट ने कहा- बोर्ड साइट पर जानकारी अपलोड करे

    - न्यूज एजेंसी के मुताबिक, सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने कहा है कि नीट 2018 के लिए फॉर्म भरते वक्त स्टूडेंट्स के लिए आधार को जरूरी नहीं किया जाना चाहिए। साथ ही बोर्ड इसकी जानकारी अपनी वेबसाइट पर भी अपलोड करे।

    यूआईडीएआई का क्या रुख है?

    - दूसरी ओर, आधार अथॉरिटी यूआईडीएआई ने कोर्ट से कहा कि हमने सीबीएसई को ये अधिकार नहीं दिया है कि वो मेडिकल एंट्रेस टेस्ट में फॉर्म भरने या बैठने के लिए आधार को जरूरी करे।

    राशन कार्ड और बैंक पासबुक भी आईडेंटिटी प्रूफ

    - एटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने कहा कि यूआईडीएआई की ओर से पहले ही बताया जा चुका है कि जम्मू-कश्मीर, असम और मेघालय जैसे राज्यों के स्टूडेंट्स सीबीएसई की ऑल इंडिया लेवल परीक्षाओं में पहचान के तौर पर पासपोर्ट, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी और बैंक पासबुक इस्तेमाल कर सकते हैं।

    हाईकोर्ट ने 5 कैटेगरी में स्टूडेंट्स को राहत दी

    - दिल्ली हाईकोर्ट ने 5 मार्च को नीट के लिए जारी सीबीएसई के नोटिफिकेशन पर रोक लगाई थी। जिसमें बोर्ड ने इस बार स्टूडेंट्स की योग्यता और एज लिमिट में बदलाव किए थे। इस फैसले के बाद सीबीएसई ने 5 कैटेगरी के स्टूडेंट्स को नीट के फाॅर्म भरने के लिए एलिजिबल कर दिया।

    - इसमें 25 साल से ज्यादा उम्र के स्टूडेंट, 30 साल से ज्यादा के एससी, एसटी, ओबीसी और फिजिकल हैंडीकैप्ड कैंडीडेट्स, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग और स्टेट ओपन स्कूल के स्टूडेंट, एडिशनल बायोलॉजी लेकर 12वीं पास करने वाले छात्र और प्राइवेट स्टूडेंट्स शामिल हैं।
    - हालांकि, अभी तय नहीं है कि इन स्टूडेंट्स को परीक्षा में बैठने का मौका मिलेगा या नहीं? इस पर अगली सुनवाई नीट परीक्षा से पहले 6 अप्रैल को होगी।

    9 मार्च तक कर सकते हैं अप्लाई

    - नीट के लिए ऑनलाइन एप्लीकेशन प्रॉसेस 8 फरवरी से शुरू हुई, जो 9 मार्च रात 11:50 मिनट तक चलेगी। फीस का भुगतान 8 फरवरी से लेकर 10 मार्च रात 11:50 बजे तक किया जा सकेगा।
    - जनरल कैटेगरी की रजिस्ट्रेशन फीस 1400 रुपए, रिजर्व कैटेगरी और फिजिकली हैंडीकैंप्ड के लिए 750 रुपए रखी गई है। फॉर्म भरने के दौरान स्टूडेंट्स को कॉमन सर्विस सेंटर्स और फैलीसिटेशन सेंटर्स पर हेल्प मिल रही है।

  • NEET समेत सभी परीक्षाओं में आईडेंटिटी प्रूफ के लिए आधार नंबर जरूरी नहीं: सुप्रीम कोर्ट, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    नीट परीक्षा के लिए सीबीएसई के नोटिफिकेशन के खिलाफ दायर याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई कर रहा है। -फाइल
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Supreme Court Order To Proof Of Identity In NEET And Other Exam, Cheif Justice Deepak Misra,
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×