देश

  • Home
  • National
  • Temperature falls considerably in Jammu and Kashmir Srinagar, leh, ladakh, Kargil
--Advertisement--

कश्मीर में माइनस 6 डिग्री तक गिरा टेम्परेचर, डल लेक के किनारों पर जमी बर्फ

श्रीनगर और ऊंचे इलाकों में बर्फबारी के चलते पिछले दो दिनों 5 डिग्री तक गिरा पारा। कारगिल में माइनस 18.8 डिग्री रही ठंड।

Danik Bhaskar

Jan 07, 2018, 05:31 PM IST
जम्मू-कश्मीर के लद्दाख में पारा माइनस 18.6 डिग्री तक नीचे गिर गया है।     -फाइल जम्मू-कश्मीर के लद्दाख में पारा माइनस 18.6 डिग्री तक नीचे गिर गया है। -फाइल

नई दिल्ली. श्रीनगर मेें शुक्रवार की रात को टेम्परेचर माइनस 6 डिग्री तक गिर गया। इसके चलते डल लेक के किनारे जम गए। पिछले दो दिनों से वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के चलते कश्मीर के ऊंचे इलाकों में बर्फबारी हो रही है, जिसकी वजह से निचले इलाकों में सर्दी का असर पड़ने लगा है। बता दें कि ये कश्मीर में इस सीजन का सबसे कम टेम्परेचर है। करगिल में पारा माइनस 19 डिग्री तक पहुंच गया। ठंड के चलते लोग अपने घरों में ही रहने को मजबूर हैं।

पूरे कश्मीर में गिरा पारा

- कश्मीर में विंटर सीजन के इस हिस्से को चिल्लाई-कलां कहा जाता है। ये ठंड के 40 दिनों का सबसे कठिन पीरियड होता है। इस दौरान राज्य में बर्फबारी की आशंका सबसे ज्यादा रहती है।
- वेदर डिपार्टमेंट के मुताबिक, शुक्रवार तक कश्मीर का टेम्परेचर माइनस 1.2 डिग्री सेल्सियस तक था। लेकिन एक ही दिन में करीब 5 डिग्री तक गिरने के बाद कुपवाड़ा, कोकरनाग और काजीगंद में सीजन की सबसे सर्द रात दर्ज की गई।
- पहलगाम में रात को पारा माइनस 8.9 डिग्री तक गिर गया। यहीं पर अमरनाथ यात्रा का बेस कैंप भी मौजूद है।
- राज्य का सबसे ठंडा इलाका लद्दाख का करगिल रहा। यहां पारा माइनस 18.8 डिग्री के निचले स्तर पर रहा। वहीं, लेह में पारा माइनस 16.8 डिग्री दर्ज किया गया।
- इस साल चिल्लाई-कलां 31 जनवरी तक चलेगा। हालांकि, ठंड और बर्फीली हवाओं का सिलसिला इसके बाद भी जारी रहेगा।

दो बार पूरी तरह जम चुकी है लेक

- डल लेकर अबतक दो बार पूरी तरह से जम चुकी है। पहली बार 1965 में और उसके बाद 1986 में। दोनों ही बार टेम्परेचर में रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की गई थी।

सर्दी में हो रही पानी की कमी

- शहर के कई हिस्सों में पानी के पाइप जमने की वजह से पानी की कमी पैदा हो गई है। इससे निपटने के लिए लोग पाइपों के नीचे लकड़ी जलाकर बर्फ पिघलाने की कोशिश कर रहे हैं।
- ज्यादा ठंड में लोगों ने डॉक्टरों ने हार्ट और हड्डी के मरीजों को घर से नहीं निकलने की सलाह दी है।

डल लेक के किनारों पर भी बर्फ जम गई है।   -फाइल डल लेक के किनारों पर भी बर्फ जम गई है। -फाइल
Click to listen..