Hindi News »National »Latest News »National» Terrorists Fired Shots At Shri Maharaja Hari Singh Hospital In Srinagar

श्रीनगर के हॉस्पिटल में आतंकियों को भगाने के लिए पुलिस पर फायरिंग, दो आतंकवादी फरार

यहां के श्री महाराजा हरि सिंह हॉस्पिटल में मंगलवार को फायरिंग की।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Feb 06, 2018, 12:05 PM IST

श्रीनगर के हॉस्पिटल में आतंकियों को भगाने के लिए पुलिस पर फायरिंग, दो आतंकवादी फरार, national news in hindi, national news

श्रीनगर.यहां के श्री महाराजा हरि सिंह हॉस्पिटल (SMHS) में मंगलवार को लश्कर-ए-तैयबा आतंकियों ने पुलिसकर्मियों पर खुलेआम फायरिंग की। दो पुलिसकर्मियों की मौत हो गई और एक जख्मी हो गया। गोलीबारी का मकसद एक पाकिस्तानी आतंकी अबु हंजाल उर्फ नवीद जट को पुलिस से छुड़ाना था। आतंकियों का मंसूबा पूरा हुआ और पाक आतंकी नवीद गोलीबारी का फायदा उठाकर भागने में कामयाब रहा।

पुलिस ने क्या कहा?

- श्रीनगर के एसएसपी इम्तियाज इस्माइल के मुताबिक, पुलिसवाले 6 आरोपियों को रुटीन चेकअप के लिए सेंट्रल जेल से हॉस्पिटल लाए थे। इन कैदियों में पाकिस्तान का एक आतंकी नवीद भी था। उसी ने पुलिस ने पिस्टल खींचकर गोली चलाई।

- पुलिस के मुताबिक, नवीद को इलाज के लिए हॉस्पिटल लाया गया था। वह भागने में कामयाब रहा। आतंकियों ने पुलिस पर खुलेआम गोलियां चलाईं। इसमें 2 पुलिसकर्मी शहीद हो गए। आतंकी हमले में मारे गए पुलिस वालों के नाम मुश्ताक अहमद और बाबर अहमद बताए गए हैं।

- एक ऑफिशियल के मुताबिक- एक जवान की कार्बाइन भी गुम हो गई है। सिक्युरिटी फोर्सेस भगोड़े आतंकियों की जांच में जुटी है।

डीजीपी ने क्या कहा?

- जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीजीपी एसपी. वैद ने कहा- यह बहुत अफसोस वाली घटना है। आतंकी अपने एक साथी को बचाने में कामयाब रहे। हमने रेड अलर्ट जारी किया है। उम्मीद है कि ये आतंकी जल्द ही पकड़ लिए जाएंगे।

पार्किंग में मौजूद थे नवीद के साथी

- न्यूज एजेंसी ने चश्मदीदों के हवाले से बताया कि नवीद को छुड़ाने के लिए उसके साथी पहले से हॉस्पिटल की पार्किंग में मौजूद थे। पुलिस जैसे ही आतंकियों को लेकर हॉस्पिटल पहुंची, आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। हमलावरों की संख्या दो बताई गई है। बाद में ये सभी श्रीनगर की तंग गलियों में खो गए।

4 साल पहले अरेस्ट हुआ था नवीद

- भागने वाला आतंकी नवीद पाकिस्तान के मुल्तान जिले के बोरेवाला इलाके के रहने वाला है। वो कई आतंकी हमलों में शामिल था। उसे 26 अगस्त 2014 को गिरफ्तार किया गया था।
- पुलिस उसे घाटी के बाहर किसी जेल में शिफ्ट करना चाहती थी। इसके लिए 26 दिसंबर 2017 को सेशन कोर्ट से इजाजत भी मांगी गई थी। लेकिन, कोर्ट ने तब इसकी मंजूरी देने से इनकार कर दिया था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×