देश

  • Hindi News
  • National
  • Three Army personnel lost their lives after an avalanche hit an Army post in Kupwaras Machil Sector.
--Advertisement--

J&K के कुपवाड़ा में आर्मी पोस्ट से टकराया एवलांच, 3 सैनिकों की मौत- एक घायल

बर्फीले तूफान को हिम स्खलन या एवलांच कहा जाता है। ये तूफान हिमालय के ऊंचे इलाकों में अक्सर आते हैं।

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 08:07 PM IST
J&K में जनवरी के आखिरी हफ्ते में कई एवलांच आए, जिनमें 15 जवानों की जान चली गई थी। - फाइल J&K में जनवरी के आखिरी हफ्ते में कई एवलांच आए, जिनमें 15 जवानों की जान चली गई थी। - फाइल

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में शुक्रवार शाम एवलांच (हिमस्खलन) के बाद बर्फ का ढेर एक आर्मी पोस्ट से टकरा गया, जिससे तीन सैनिकों की मौत हो गई। एक जवान घायल है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, यह एवलांच कुपवाड़ा के माछिल सेक्टर में हुआ। यह इलाका काफी सेंसेटिव माना जाता है। माछिल सेक्टर में अक्सर पाकिस्तान गोलीबारी करता रहता है। आतंकी घुसपैठ के लिए पाकिस्तान यहां फायरिंग करता है।

इन सैनिकों ने गंवाई जान

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, एवलांच में जान गंवाने वाले सैनिकों के नाम हैं- हवलदार कमलेश सिंह (39), नायक बलवीर (33) और सिपाही रजिंदर हैं।

दिसंबर में गई थी 5 जवानों की जान

- कश्मीर के कुपवाड़ा में दिसंबर में कुपवाड़ा और बांदीपोरा में हिमस्खलन हुआ था। नौगाम सेक्टर में हुई भारी बर्फबारी के बाद लापता दो जवानों में से एक की बॉडी मिल गई थी। बांदीपोरा के गुरेज सेक्टर में आए हिमस्खलन में भी तीन सैनिक बर्फ के नीचे दब गए थे, जिनकी तलाश के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया था। बाद में इनकी बॉडी भी रिकवर की गईं थीं।

पिछले साल जनवरी में भी हुआ था हादसा

- जनवरी 2017 में भी कुपवाड़ा, बांदीपोरा, बारामूला, गांदेरबाल, कुलगाम, कारगिल में एवलांच का अलर्ट जारी किया गया था।
- जनवरी के आखिरी हफ्ते में कई एवलांच हुए, जिनमें 15 जवानों की जान चली गई और कई लापता हो गए थे। 6 नागरिकों की भी मौत हो गई थी।

क्यों और कैसे आता है एवलांच?

- किसी पहाड़ या बहुत ऊंची जगह पर जमी बर्फ का बढ़ा हिस्सा टूटकर या फिसलकर नीचे गिरना एवलांच या हिमस्खलन कहलाता है।
- हिमालय के ऊंचे इलाकों में अक्सर एवलांच होते हैं, लेकिन ये तब और खतरनाक हो जाते हैं, जब चोटियों पर ज्यादा बर्फ जम जाती है।
- भारी मात्रा में बर्फ खिसकना खतरनाक हो जाता है। एवलांच के रास्ते में जो भी आता है, खत्म हो जाता है।

बर्फ के बड़े हिस्से का ऊंची जगह से टूटकर नीचे गिरना या फिसलना एवलांच कहा जाता है।- फाइल बर्फ के बड़े हिस्से का ऊंची जगह से टूटकर नीचे गिरना या फिसलना एवलांच कहा जाता है।- फाइल
X
J&K में जनवरी के आखिरी हफ्ते में कई एवलांच आए, जिनमें 15 जवानों की जान चली गई थी। - फाइलJ&K में जनवरी के आखिरी हफ्ते में कई एवलांच आए, जिनमें 15 जवानों की जान चली गई थी। - फाइल
बर्फ के बड़े हिस्से का ऊंची जगह से टूटकर नीचे गिरना या फिसलना एवलांच कहा जाता है।- फाइलबर्फ के बड़े हिस्से का ऊंची जगह से टूटकर नीचे गिरना या फिसलना एवलांच कहा जाता है।- फाइल
Click to listen..