--Advertisement--

ट्रेड वार: चीन का अमेरिका को जवाब, 128 अमेरिकी प्रोडक्‍ट पर लगाई 25% इम्पोर्ट ड्यूटी

डोनाल्ड ट्रम्प प्रशासन ने 22 मार्च को चीन से आयात पर 3.25 लाख करोड़ की इम्पोर्ट ड्यूटी लगाई थी।

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 12:31 PM IST
चीन बड़े पैमाने पर अमेरिका को स्‍टील और एल्‍युमीनि‍यम प्रोडक्‍ट एक्सपोर्ट करता है। -फाइल चीन बड़े पैमाने पर अमेरिका को स्‍टील और एल्‍युमीनि‍यम प्रोडक्‍ट एक्सपोर्ट करता है। -फाइल

  • चीन का दावा है कि आयात पर अमेरि‍का का टैरि‍फ वि‍श्‍व व्‍यापार संगठन के नि‍यमों के खि‍लाफ है
  • हर साल अमेरिका से चीन में करीब 11.18 लाख करोड़ रुपए का आयात होता है

बीजिंग. चीन ने साेमवार को अमेरि‍का के 128 प्रोडक्‍ट पर 25 फीसदी तक आयात शुल्क लगा दिया। वि‍त्‍त मंत्रालय ने कहा है कि अमेरि‍का ने चीन के स्‍टील और एल्‍युमीनि‍यम पर टैरि‍फ लगाया, यह कदम उस फैसले के जवाब में उठाया गया। बता दें कि डोनाल्ड ट्रम्प प्रशासन ने 22 मार्च को चीन से आयात पर 3.25 लाख करोड़ का आयात शुल्क लगाया था। इसका चीन ने विरोध किया था।

फलों पर 15, पॉर्क पर 25 फीसदी आयात शुल्क
- चीनी वित्तमंत्रालय की वेबसाइट के मुताबिक, चीन ने अमेरि‍का से आने वाले फल और इसी तरह के अन्य 120 प्रोडक्‍ट पर 15 फीसदी का टैक्‍स लगाया।

- वहीं, पॉर्क और अन्‍य 8 प्रोडक्‍ट पर 25 फीसदी का टैरिफ लगाया गया। ये टैरिफ साेमवार से ही लागू कर दिए गए हैं।

नि‍यमों के खि‍लाफ अमेरि‍का का कदम
- कई देशों के वि‍रोध करने के बावजूद अमेरि‍का ने स्‍टील के आयात पर 25 फीसदी और एल्‍युमीनि‍यम के आयात पर 10 फीसदी टैक्‍स लगा दि‍या था।
- चीन का दावा है कि अमेरि‍का ने जो टैरि‍फ लगाया वह वि‍श्‍व व्‍यापार संगठन के नि‍यमों के खि‍लाफ है। इसके बावजूद टैरि‍फ 23 मार्च से लागू हो गया।

चीन ने कहा था जवाब देंगे
- चीन बड़े पैमाने पर अमेरिका को स्‍टील और एल्‍युमीनि‍यम प्रोडक्‍ट एक्सपोर्ट करता है। चीन ने ट्रम्प प्रशासन के फैसले के वक्‍त काफी वि‍रोध कि‍या था और कहा था कि वह इसका जवाब देगा। उसने 128 अमेरिकी प्रोडक्ट की लिस्ट भी जारी की थी।
- हालांकि, चीनी सरकार की ओर से सोमवार को जारी बयान में यह भी कहा गया कि चीन बहुपक्षीय व्‍यापार तंत्र को सपोर्ट करता है। अमेरि‍की इम्पोर्ट पर टैक्‍स छूट को नि‍लंबि‍त करने का फैसला चीन के हि‍तों की सुरक्षा के लि‍ए कि‍या गया।
- बता दें कि हर साल चीन में अमेरिका से करीब 11.18 लाख करोड़ रुपए का आयात होता है।

बौद्धिक संपदा की चोरी पर चीन को सजा दी
- मीडिया रिपोर्ट्स में मुताबिक, ट्रंप प्रशासन ने चीन को अमेरिकी बौद्धिक संपदा की चोरी करने पर इम्पोर्ट ड्यूटी लगाकर सजा दी। अमेरिका पिछले सात महीनों से बौद्धिक संपदा की चोरी पर नजर बनाए था।
- ट्रम्प ने कहा था कि बौद्धिक संपदा की चोरी को हमें हर हाल में रोकना होगा। यह हमें बेहद मजबूत, और सबसे संपन्न देश बनाने में मदद करेगा।

विश्‍व कारोबार पर पड़ रहा असर
- अमेरिका और चीन के बीच व्यापारिक रिश्तों में जारी तनातनी से ट्रेड वाॅर की स्थिति बन गई है। इसका शेयर बाजार पर असर देखा जाने लगा है।
- वहीं, अन्य देश अगर इसमें शामिल होते हैं तो एक बड़ी कारोबारी जंग की शुरुआत हो सकती है। इससे देशों के बीच कारोबारी संबंध बिगड़ने लगेंगे।
- बता दें कि डोनाल्‍ट ट्रम्प ने इम्पोर्ट ड्यूटी लगाने के दौरान यह भी एलान किया था कि हम जंग के लि‍ए तैयार हैं।

डोनाल्‍ट ट्रप्म ने चीन पर इम्पोर्ट ड्यूटी लगाने के दौरान एलान किया था कि हम जंग के लि‍ए तैयार हैं। -फाइल डोनाल्‍ट ट्रप्म ने चीन पर इम्पोर्ट ड्यूटी लगाने के दौरान एलान किया था कि हम जंग के लि‍ए तैयार हैं। -फाइल
X
चीन बड़े पैमाने पर अमेरिका को स्‍टील और एल्‍युमीनि‍यम प्रोडक्‍ट एक्सपोर्ट करता है। -फाइलचीन बड़े पैमाने पर अमेरिका को स्‍टील और एल्‍युमीनि‍यम प्रोडक्‍ट एक्सपोर्ट करता है। -फाइल
डोनाल्‍ट ट्रप्म ने चीन पर इम्पोर्ट ड्यूटी लगाने के दौरान एलान किया था कि हम जंग के लि‍ए तैयार हैं। -फाइलडोनाल्‍ट ट्रप्म ने चीन पर इम्पोर्ट ड्यूटी लगाने के दौरान एलान किया था कि हम जंग के लि‍ए तैयार हैं। -फाइल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..