Hindi News »National »Latest News »National» UIDAI Introduces Virtual ID To Address Privacy Concerns Of Aadhar Card

कल से 16 अंकों की वर्चुअल आधार ID से भी होगा वेरिफिकेशन; UIDAI ने दी नई सुविधा

आधार नंबर शेयर नहीं करना चाहते हैं तो 16 डिजिट की वर्चुअल आईडी का इस्तेमाल ऑप्शन के तौर पर केवाईसी के लिए कर सकते हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - May 30, 2018, 01:06 PM IST

  • कल से 16 अंकों की वर्चुअल आधार ID से भी होगा वेरिफिकेशन; UIDAI ने दी नई सुविधा, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    आधार डेटा की सेफ्टी के लिहाज से UIDAI ने नई व्यवस्था का एलान किया। -फाइल

    नई दिल्ली.आधार डेटा की सुरक्षा के लिहाज से यूनिक आइडेंटि‍फि‍केशन अथॉरि‍टी ऑफ इंडि‍या (UIDAI) ने यूजरवेरिफिकेशन के लिए वर्चुअल आईडी देने की सुविधा 1 जून से शुरू करने वाली है । यह सुविधा ऑप्शनल होगी, कोई यूजर वेरिफिकेशन के लिए अपना 12 अंक का आधार नंबर नहीं बताना चाहता है तो वह वर्चुअल आईडी दे सकता है। शुक्रवार से सभी एजेंसियां इस आईडी के जरिए भी वेरिफिकेशन करेंगी। कोई भी आधार होल्डर UIDAI की वेबसाइट से वर्चुअल आईडी जनरेट कर सकता है। 16 डिजिट की इस आईडी का इस्तेमाल मोबाइल नंबर के वेरिफिकेशन समेत कई स्कीम में KYC के लिए किया जा सकता है।

    वेरिफिकेशन प्रॉसेस में क्या बदलाव होगा?

    - UIDAI के सर्कुलर में कहा गया है कि आधार होल्डर 12 डिजिट के नंबर की जगह वर्चुअल आईडी से वेरिफिकेशन करा सकते हैं। केवाईसी की प्रॉसेस आधार जैसी ही होगी।

    - 1 जून, 2018 से सभी एजेंसियों के लिए जरूरी होगा कि वे वर्चुअल आईडी से भी यूजर्स का वेरिफिकेशन करें। इससे इनकार करने पर एजेंसियों के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा।
    - आधार की सेफ्टी और प्राइवेसी को ध्यान में रखते हुए वर्चुअल आईडी जारी किया जाएगा। चूंकि यह बैक एंड पर आधार से मैप होगी, इससे बिना आधार नंबर शेयर किए ही वेरिफिकेशन प्रॉसेस पूरी हो जाएगी। इससे एजेंसियां के पास आधार डेटा का स्टोरेज कम होगा।

    कैसे जनरेट होगी वर्चुअल आईडी?

    - वर्चुअल आईडी आधार से मैप होगी। इसे यूआईडीएआई की वेबसाइट से जनरेट किया जा सकेगा। जरूरत के मुताबिक, आधार होल्डर कई बार आईडी जनरेट कर सकते हैं। नई वर्चुअल आईडी जनरेट होने पर पुरानी अपने आप कैंसल हो जाएगी।
    - वर्चुअल आईडी कम्प्‍यूटर से बना 16 डिजिट का नंबर होगा, जो जरूरत पड़ने पर तत्‍काल जारी किया जाएगा। इसे 1 मार्च से ट्रायल के तौर पर जनरेट भी किया जा रहा है।

    लिमिटेड होगी आधार से जुड़ी केवाईसी

    - दूसरी ओर, सरकार केवाईसी के लि‍ए आधार के इस्‍तेमाल को भी सीमित करेगी। अभी कई एजेंसि‍यों के पास आपकी डि‍टेल पहुंच जाती है और वो उसे अपने पास रखते हैं।
    - जब केवाईसी के लि‍ए आधार का जरूरत ही कम हो जाएगी, तो ऐसी एजेंसि‍यों की संख्‍या भी घट जाएगी, जि‍नके पास आपकी डि‍टेल होगी।

    देश में अब तक कितने आधार होल्डर?

    - अथॉरिटी के मुताबिक, अब तक देश के 119 करोड़ लोगों को आधार नंबर (बायोमैट्रिक आईडी) जारी किए जा चुके हैं। कोई भी इसे पहचान के तौर पर पेश कर सकता है।

    मोबाइल नंबर को आधार से जोड़ा जा रहा

    - कालेधन पर लगाम कसने के लिए सरकार इसे बैंक अकाउंट और पैन नंबर से लिंक करना जरूरी कर चुकी है। इसी तरह मोबाइल नंबर्स को भी आधार से जोड़ा जा रहा है।

  • कल से 16 अंकों की वर्चुअल आधार ID से भी होगा वेरिफिकेशन; UIDAI ने दी नई सुविधा, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    अब वेरिफिकेशन के लिए आधार के अलावा वर्चुअल आईडी दी जा सकेगी। -फाइल
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: UIDAI Introduces Virtual ID To Address Privacy Concerns Of Aadhar Card
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×