• Home
  • National
  • विराट कोहली : Virat Kohli says cricket is in my blood while talking about marriage with Anushka Sharma
--Advertisement--

अनुष्का से शादी के दौरान भी अफ्रीका टूर की तैयारी कर रहे थे विराट, कहा- क्रिकेट मेरे खून में

कोहली ने कहा- ये दौर हम दोनों (विराट-अनुष्का) के लिए स्पेशल था। लेकिन प्रोफेशनल फ्रंट पर दोबारा वापसी मुश्किल नहीं है।

Danik Bhaskar | Dec 27, 2017, 07:02 PM IST
विराट और अनुष्का ने 11 दिसंबर को इटली के टस्कनी में शादी की थी। विराट और अनुष्का ने 11 दिसंबर को इटली के टस्कनी में शादी की थी।

नई दिल्ली. टीम इंडिया साउथ अफ्रीका टूर के लिए रवाना होने वाली है। इसके पहले विराट कोहली और रवि शास्त्री ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। विराट से यह भी पूछा गया कि अनुष्का शर्मा से शादी के मकसद से उन्होंने टीम इंडिया से ब्रेक लिया था, इसके बाद वापसी कितनी मुश्किल है? इस पर कोहली ने कहा, ‘‘कुछ बेहद अहम वजह के चलते मैं टीम से दूर था। लेकिन क्रिकेट के मैदान पर वापसी बिल्कुल भी मुश्किल नहीं है। क्रिकेट मेरे खून में है।’’ कोहली ने ये भी बताया कि शादी के लिए ब्रेक के दौरान भी वे साउथ अफ्रीका टूर की ट्रेनिंग ले रहे थे। बता दें कि कोहली ने श्रीलंका के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज से ब्रेक लिया था।


- कोहली ने कहा- ये दौर हम दोनों (विराट-अनुष्का) के लिए स्पेशल था। लेकिन प्रोफेशनल फ्रंट पर दोबारा वापसी मुश्किल नहीं है। ऐसा नहीं है कि बीते तीन हफ्ते में मैंने कुछ नहीं किया। मैं ट्रेनिंग कर रहा था ताकि साउथ अफ्रीका में खेल सकूं। दिमाग में यही था कि एक अहम दौरा आने वाला है।
- कोहली ने कहा- हम किसी के सामने कुछ साबित करने के लिए साउथ अफ्रीका नहीं जा रहे हैं। हम वहां सिर्फ इसलिए जा रहे हैं ताकि वहां क्रिकेट खेलें और देश के लिए अपना सौ फीसदी दें।

इस बार साउथ अफ्रीका दौरे पर क्या करेगी टीम?
- अफ्रीका टूर के बारे में पूछे जाने पर विराट कोहली ने कहा- 2013 में जब हम साउथ अफ्रीका गए थे, तो वहां हम काफी एक्साइटेड थे। हमने वहां जोहानिसबर्ग में एक टेस्ट जीता था। हमारा बॉलिंग अटैक बहुत एक्सपीरियंस्ड था। इस बार हम वहां वो करेंगे, जो हम पिछली बार नहीं कर पाए थे। हम विदेश में परफॉर्म करने को लेकर प्रेशर में नहीं हैं। हम बतौर टीम पूरी तरह कॉन्फिडेंट हैं। हम चैम्पियंस ट्राॅफी को छोड़कर लगातार अलग कंडीशंस में नहीं खेलें हैं लेकिन हम मजबूत टीम हैं।

टेस्ट सीरीज के लिए कैसे करेंगे तैयारी?
- कोहली ने कहा- हमारे पास साउथ अफ्रीका के हालात में ढलने के लिए वहां काफी दिन होंगे। हम लोग प्रिफर करते हैं कि ज्यादा देर तक प्रैक्टिस करें। हम कई बार दिन में तीन-तीन प्रैक्टिस सेशन करते हैं ताकि टेस्ट जैसे हालात में ढल सकें। इससे समझ आता है कि किस सेशन में मौसम या हालात कैसे होंगे?

रवि शास्त्री ने क्या कहा?
- रवि शास्त्री ने कहा- हम जानते हैं कि साउथ अफ्रीका दौरा बड़ा चैलेंज साबित होगा, लेकिन लड़के तैयार हैं। हमने तीन साल पहले ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था। वहां अच्छा परफॉर्म किया। फिर हमने इंग्लैंड का भी दौरा किया था। हमारी तैयारियां अच्छी हैं।
- शास्त्री ने कहा- साउथ अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड का दौरा अगले डेढ़ साल में होगा। इससे टीम और बेहतर निखरकर आएगी।

पृथ्वी शॉ की तारीफ
- कोहली ने अंडर-19 वर्ल्ड कप के लिए पृथ्वी शॉ की कप्तानी में जा रही टीम को बेस्ट विशेज दी। उन्होंने कहा- पृथ्वी के बारे में हमने बहुत सुना है। उसने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में बहुत अच्छी परफॉर्मेंस दी है। दूसरों से आगे उसे मौका दिया गया है। हमारे दौर में ऐसा हुआ कि जब हम टीम इंडिया में खेले तो हमें लोगों ने देखा। लेकिन इस अंडर-19 टीम के साथ ऐसा नहीं है। वे अभी से मीडिया की खबरों में नजर आ रहे हैं। वे इसे मौके के रूप में लें।

ऐसा रहेगा टीम इंडिया का साउथ अफ्रीका टूर
पहला टेस्ट
: 5 जनवरी से केपटाउन में
दूसरा टेस्ट : 13 जनवरी से सेन्चुरियन में
तीसरा टेस्ट : 24 जनवरी से जोहानिसबर्ग में
पहला वनडे : 1 फरवरी को डरबन में
दूसरा वनडे : 4 फरवरी को सेन्चुरियन में
तीसरा वनडे : 7 फरवरी को केपटाउन में
चौथा वनडे : 10 फरवरी को जोहानिसबर्ग में
पांचवां वनडे : 13 फरवरी को पोर्ट एलिजाबेथ में
छठा वनडे : 16 फरवरी को सेन्चुरियन में
पहला टी-20 : 18 फरवरी को जोहानिसबर्ग में
दूसरा टी-20 : 21 फरवरी को सेन्चुरियन में
तीसरा टी-20 : 24 फरवरी को केपटाउन में

इंडियन क्रिकेट का गोल्डन एरा
- जिस तरह 70-80 के दशक में वेस्टइंडीज और इस सदी की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया का क्रिकेट जगत पर दबदबा रहा, उसी तरह अब टीम इंडिया का दबदबा हो रहा है। पिछले दो साल से टीम इंडिया ने जो पैटर्न सेट किया है, उससे पहले वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया की टीम ही वैसा कर पाई थी।
- 70 और 80 के दशक में वेस्टइंडीज की टीम लगातार कई साल सबसे ज्यादा मैच जीतने वाली टीम रही। इसी तरह 2000 से 2009 के बीच ऑस्ट्रेलियाई टीम ने कई बार यह कारनामा किया। अब टीम इंडिया भी उसी लाइन पर है। भारतीय टीम ने 2016 और 2017 में सबसे ज्यादा मैच जीते।
- दो साल में टीम इंडिया ने कुल 69% मुकाबले जीते। टीम इंडिया ने 2017 में तीनों फॉर्मेट मिलाकर 37 मैचों में जीत हासिल की। यह किसी भी अन्य टीम से ज्यादा है। हमारी टीम को पिछले साल यानी 2016 में 31 मैचों में जीत मिली थी। तब भी किसी अन्य टीम से ज्यादा थी।
- जब से क्रिकेट तीन फॉर्मेट में खेला जा रहा है, तब से यह पहला मौका है जब टीम इंडिया लगातार दो साल सबसे ज्यादा मैच जीतने वाली टीमों में टॉप पर है।

मंगलवार को मुंबई में विराट-अनुष्का के दूसरे वेडिंग रिसेप्शन के दौरान रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, यजुवेंद्र चहल और अक्षर पटेल। मंगलवार को मुंबई में विराट-अनुष्का के दूसरे वेडिंग रिसेप्शन के दौरान रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, यजुवेंद्र चहल और अक्षर पटेल।