Hindi News »National »Latest News »National» VK Singh Leaves For Iraq To Get Back Mortal Remains Of 38 Indians

38 भारतीयों के शव लाने वीके सिंह इराक रवाना, आईएस ने मोसुल के बदूश में की थी हत्या

इन भारतीयों के मारे जाने की आशंका जून 2014 में जताई गई थी। लेकिन, सरकार ने इसकी पुष्टि हाल ही में की।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Apr 01, 2018, 02:32 PM IST

  • 38 भारतीयों के शव लाने वीके सिंह इराक रवाना, आईएस ने मोसुल के बदूश में की थी हत्या, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    वीके सिंह भारतीय वायु सेना के विमान से इराक के लिए रवाना हुए।

    • मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वीके सिंह साेमवार देर शाम तक बोइंग सी-17 प्लेन से शव लेकर भारत लौट सकते हैं।
    • 39 भरतीयों में से एक का डीएनए पूरी तरह से मैच नहीं होने की वजह से इराक से क्लियरेंस नहीं मिली।

    नई दिल्ली.विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह मोसुल में आईएस के हाथों मारे गए 38 भारतीयों के शव लाने के लिए रविवार को इराक रवाना हो गए। कुल 39 भारतीय मारे गए थे, लेकिन एक का डीएनए पूरी तरह मैच नहीं होने की वजह से वहां से क्लियरेंस नहीं मिली है। इन भारतीयों के मारे जाने की आशंका जून 2014 में जताई गई थी। लेकिन, इसकी पुष्टि हाल ही में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संसद में की थी। सुषमा ने कहा था- हम चाहते थे कि हर तरफ से हम संतुष्ट हो जाएं कि ऐसी कोई अनहोनी हुई है।

    1) मैं इराक के लिए निकल रहा हूं : सिंह

    - वीके सिंह ने कहा, "मारे गए भारतीयों के शव लाने के लिए मैं इराक के लिए निकल रहा हूं। वहां से आने के बाद पहले अमृतसर, फिर कोलकाता और फिर पटना जाकर उनके परिजनों को शव सौंपूंगा। इस बारे में मृतकों के परिजनों को सूचना दे दी गई है।''

    2) केस पेंडिंग होने से एक शव नहीं मिलेगा

    - सिंह ने कहा, "हमें एक आदमी का शव केस पेंडिंग होने की वजह से नहीं मिलेगा। हम उसके परिवार को सबूताें के साथ ताबूत सौंप देंगे, जिससे उन्हें कोई शंका न रहे। मैं मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति सहानुभूति व्यक्त करता हूं।''

    3) सोमवार देर शाम तक लौट सकते हैं
    - मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वीके सिंह साेमवार देर शाम तक शव लेकर भारत लौट सकते हैं। शव लाने के लिए वे बोइंग सी-17 प्लेन का इस्तेमाल करेंगे। बता दें कि बोइंग सी-17 एक बड़ा मिलिट्री ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट है।

    4) वीके सिंह ने बदूश में डाला था डेरा

    - इराक के मोसुल शहर से पिछले साल आईएसआईएस का सफाया हो गया था। इसका एलान होने के अगले ही दिन वीके सिंह मोसुल गए। उन्होंने वहां भारतीयों का पता लगाने की कोशिश की। यहां कोई कामयाबी नहीं मिली।

    - इसके बाद एक शख्स ने वीके सिंह को बताया कि बदूश शहर में एक टीले में बहुत से शव दफनाए गए हैं। इसके बाद भारत के राजदूत और वीके सिंह ने बदूश में डेरा डाल दिया। सिंह और उनके अफसर बदूश के एक खंडहरनुमा मकान में रुके। वे वहां जमीन पर सोते थे।

    5) राडार से खोज
    - सुषमा स्वराज ने संसद और बाद में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा- जब हमें ये पता लगा कि टीले में कुछ शव हैं तो हमने इराक सरकार के साथ मिलकर डीप पेनिट्रेशन राडार से सच्चाई का पता लगाने का फैसला किया।
    - जब ये पुख्ता हो गया कि इसमें शव हैं तो हमने उसकी खुदाई करवाई। जो शव मिले उन सभी का डीएनए टेस्ट कराया गया। 98 से 100 फीसदी तक सैंपल मैच हो गए तो हमने संसद में इसकी जानकारी देना उचित समझा।

    6) मारे गए लोगों में 31 पंजाब के
    - 31 लोग पंजाब के हैं। चार हिमाचल और बाकी बिहार और पश्चिम बंगाल के हैं।

  • 38 भारतीयों के शव लाने वीके सिंह इराक रवाना, आईएस ने मोसुल के बदूश में की थी हत्या, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    सुषमा स्वराज ने संसद में इराक में भारतीयों के मारे जाने की जानकारी दी थी। -फाइल
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×