--Advertisement--

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम: आज दावोस रवाना होंगे मोदी, चुनौतियों से निपटने के लिए भारत के विजन को पेश करेंगे

WEF में मोदी पहली बार हिस्सा लेने जा रहे हैं। फोरम में ट्रम्प, जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल समेत कई लीडर शामिल होंगे।

Dainik Bhaskar

Jan 22, 2018, 08:27 AM IST
मोदी सोमवार को पहले ज्यूरिख पहुंचे। फिर दावोस गए। मोदी सोमवार को पहले ज्यूरिख पहुंचे। फिर दावोस गए।

नई दिल्ली. वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम (WEF) में शामिल होने के लिए नरेंद्र मोदी सोमवार को दावोस पहुंचे। वे पहली बार इस समिट में शामिल हो रहे हैं। ऑफिशियली सेशन मंगलवार को शुरू होगा। शुरू हो रहा है। मोदी यहां दुनिया की मौजूदा चुनौतियों को लेकर भारत के विजन को पेश करेंगे। बता दें कि इस बार WEF एक स्कीइंग रिजॉर्ट में हो रहा है, जहां पिछले 48 घंटे में करीब 3 फीट तक बर्फबारी हुई। टेम्परेचर माइनस 18 डिग्री तक पहुंच गया है।

- दावोस में इस वक्त रिकॉर्ड बर्फबारी हो रही है। शहर का टेम्परेचर करीब माइनस 18 डिग्री के आसपास पहुंच गया है। दावोस स्थित एवलांच रिसर्च इंस्टीट्यूट की वेबसाइट पर हिमस्खलन (एवलांच) को 5 की रेटिंग दी गई है। ये खतरे का हाइएस्ट लेवल है।

- दावोस को दूसरे शहरों से जोड़ने वाली मेन रोड पर बर्फ की मोटी परत जम गई है। हालांकि, समिट के ऑर्गनाइजर क्लाउस श्वाब के मुताबिक, खराब मौसम से यहां आने वाले लोगों में कमी नहीं होगी।

ट्विटर पर फैला हिमस्खलन का डर
- कई लोग ट्विटर पर दावोस की बर्फबारी की फोटोज पोस्ट कर रहे हैं। इन फोटोज में सड़कों और घरों पर जमा बर्फ दिखाई दे रही है।
- एक यूजर ने ट्वीट में लिखा है कि ये 1999 के बाद इस साल हिम्सखलन का सबसे ज्यादा खतरा है। लोकल अफसर घरों को खाली करा रहे हैं और लोगों को कल सुबह तक घरों से बाहर ना निकलने के लिए कहा गया है।
- वहीं एक और ट्विटर यूज ने अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प पर निशाना साधा। उसने लिखा, “भारी बर्फबारी की वजह से दावोस का रेलवे नेटवर्क कट गया है। क्या मदर नेचर (प्रकृति) भी मिस्टर ट्रम्प को यहां पहाड़ों पर नहीं आने देना चाहती।

- भारी बर्फबारी के चलते अधिकारियों ने दावोस में लेफ्ट-विंग ग्रुप्स को प्रोटेस्ट की इजाजत नहीं दी है। सोमवार को जारी किए गए ऑफिशियल स्टेटमेंट के मुताबिक, आने वाले कुछ दिनों तक रैली की इजाजत नहीं दी जाएगी।

मोदी ने किए ट्वीट

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक मोदी ने हैशटैग इंडियामीन्सबिजनेस से कई ट्वीट किए। उन्होंने कहा कि मैं इंटरनेशनल कम्युनिटी के सामने अपने विचार रखूंगा।
- "मुझे भरोसा है कि दावोस में कई देशों के साथ होने वाली बाइलेटरल मीटिंग भारत के रिश्तों को और मजबूती देंगी।''
- "मैं पहली बार दावोस WEF में हिस्सा लेने जा रहा हूं। इसे लेकर काफी उत्साहित हूं। मुझे ये न्योता भारत के दोस्त और समिट के फाउंडर प्रोफेसर क्लॉस श्वॉब की तरफ से मिला है।''

डिनर देंगे मोदी, पांच दिन चलेगा WEF

- नरेंद्र मोदी ग्लोबल CEOs को डिनर देंगे। मंगलवार को वे ओपनिंग सेशन में भाषण देंगे और ग्लोबल बिजनेस कम्युनिटी से मुलाकात भी करेंगे।

- WEF पांच दिन चलेगा। इसे स्विट्जरलैंड के स्कीइंग रिजॉर्ट में ऑर्गनाइज किया गया है। WEF में इस बार सबसे ज्यादा 130 देश हिस्सा ले रहे हैं।

- फोरम में शाहरुख खान, ऑस्ट्रेलियन एक्ट्रेस केट ब्लेंचेट, लेजेंडरी ब्रिटिश सिंगर एल्टन जॉन का सम्मान भी किया जाएगा।

मोदी देंगे ओपनिंग स्पीच

- समिट में मोदी मंगलवार को ओपनिंग स्पीच देंगे। माना जा रहा है कि इस दौरान पीएम दुनिया के सामने भारत की ओपन इकोनॉमी का नजरिया पेश करेंगे। इसके अलावा और ग्लोबल इकोनॉमी और भारत में इन्वेस्टमेंट के मामले में भी चर्चा कर सकते हैं।
- 1997 में एचडी. देवेगौड़ा पीएम थे। तब वो दावोस समिट में शामिल हुए थे। इसके बाद यानी करीब 20 साल में मोदी ऐसे पहले भारतीय पीएम हैं, जो इस समिट में शिरकत करने जा रहे हैं।

ट्रम्प देंगे क्लोजिंग स्पीच

- इस बार डोनाल्ड ट्रम्प भी WEF में शिरकत कर रहे हैं। वे यहां क्लोजिंग स्पीच देंगे। हालांकि मोदी-ट्रम्प के बीच मुलाकात संभव नहीं है क्योंकि दोनों एक ही दिन एक शहर में नहीं रहेंगे।

- पाक प्राइम मिनिस्टर शाहिद खाकान अब्बासी भी दावोस पहुंचेंगे। लेकिन भारत के अफसरों का कहना है कि मोदी-अब्बासी के बीच मुलाकात तय नहीं है। साथ ही जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल, फ्रेंच प्रेसिडेंट इमैनुएल मैक्रों, यूके की पीएम थेरेसा मे भी शिरकत करेंगी।

दावोस में पिछले 48 घंटों में करीब 3 फीट तक बर्फबारी हुई। दावोस में पिछले 48 घंटों में करीब 3 फीट तक बर्फबारी हुई।
दावोस स्थित एवलांच रिसर्च इंस्टीट्यूट की वेबसाइट पर हिमस्खलन को 5 की रेटिंग दी है। दावोस स्थित एवलांच रिसर्च इंस्टीट्यूट की वेबसाइट पर हिमस्खलन को 5 की रेटिंग दी है।
डब्ल्यूईएफ में करीब 3000 वर्ल्ड लीडर हिस्सा लेंगे। डब्ल्यूईएफ में करीब 3000 वर्ल्ड लीडर हिस्सा लेंगे।
X
मोदी सोमवार को पहले ज्यूरिख पहुंचे। फिर दावोस गए।मोदी सोमवार को पहले ज्यूरिख पहुंचे। फिर दावोस गए।
दावोस में पिछले 48 घंटों में करीब 3 फीट तक बर्फबारी हुई।दावोस में पिछले 48 घंटों में करीब 3 फीट तक बर्फबारी हुई।
दावोस स्थित एवलांच रिसर्च इंस्टीट्यूट की वेबसाइट पर हिमस्खलन को 5 की रेटिंग दी है।दावोस स्थित एवलांच रिसर्च इंस्टीट्यूट की वेबसाइट पर हिमस्खलन को 5 की रेटिंग दी है।
डब्ल्यूईएफ में करीब 3000 वर्ल्ड लीडर हिस्सा लेंगे।डब्ल्यूईएफ में करीब 3000 वर्ल्ड लीडर हिस्सा लेंगे।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..