Hindi News »National »Latest News »National» CONTROVERSIAL STATEMENT BY INDIAN POLITICIAN

एक और स्वच्छ भारत अभियान चलाओ, ऐसे नेताओं को देश से बाहर भगाओ

देश विरोधी बयान देने वाले नेताओं को पाकिस्तान भेज देना चाहिए?

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 07, 2018, 07:19 PM IST

  • एक और स्वच्छ भारत अभियान चलाओ, ऐसे नेताओं को देश से बाहर भगाओ, national news in hindi, national news
    +4और स्लाइड देखें

    नेशनल डेस्क. पाकिस्तानी हमले में शहीद कैप्टन कपिल कुंडू का शव उनके घर पहुंचा। शरीर का निचला हिस्सा क्षत-विक्षत हो चुका था। हड्डियां टूट चुकी थीं। उनपर पाकिस्तानी सैनिकों ने मोर्टार से हमला किया था। अटैक में भारत के चार जवान शहीद हो गए। हमले के एक दिन बाद ही जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला पाकिस्तान की वकालत करते हुए कहते हैं कि पाकिस्तान ही नहीं भारत भी सीजफायर का उल्लघंन करता है। इस बयान के बाद फारूक का जमकर विरोध हो रहा है। आखिर हो भी क्यों न। जहां एक तरफ पूरा देश पाकिस्तान की नापाक हरकत से गुस्से में है वहीं कोई नेता पाकिस्तान की तरफदारी करे तो भला किसे पचने वाला है।

    फारूक अब्दुल्ला के अलावा और भी कई भारतीय नेताओं ने देश विरोधी बयान देकर माहौल खराब करने की कोशिश की है। उनके बयानों की काफी आलोचना भी की गई। फिर वो चाहे असदुद्दीन ओवैसी हों या फिर रामपुर से बीजेपी सांसद नेपाल सिंह। ऐसे में सवाल कि क्या देश विरोधी बयानबाजी करने वालों को पाकिस्तान भेज देना चाहिए?

    आगे की स्लाइड्स में देखें, कुछ और नेताओं के देश विरोधी बयान...

  • एक और स्वच्छ भारत अभियान चलाओ, ऐसे नेताओं को देश से बाहर भगाओ, national news in hindi, national news
    +4और स्लाइड देखें
    जहां एक तरफ पाकिस्तान बार-बार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है वहीं फारूक अब्दुल्ला का ऐसा बयान पाकिस्तान की हरकतों को और भी बढ़ावा देता है।
  • एक और स्वच्छ भारत अभियान चलाओ, ऐसे नेताओं को देश से बाहर भगाओ, national news in hindi, national news
    +4और स्लाइड देखें
    ये बयान तब दिया जब सीआरपीएफ के ट्रेनिंग सेंटर में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने हमला किया था। इस हमले में 5 जवान शहीद हो गए थे।
  • एक और स्वच्छ भारत अभियान चलाओ, ऐसे नेताओं को देश से बाहर भगाओ, national news in hindi, national news
    +4और स्लाइड देखें
    एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने ये बयान 22 दिसंबर 2017 को हैदराबाद में दिया था। बयान में हरा रंग पर काफी आपत्ति की गई थी।
  • एक और स्वच्छ भारत अभियान चलाओ, ऐसे नेताओं को देश से बाहर भगाओ, national news in hindi, national news
    +4और स्लाइड देखें
    ओवैसी के इस बयान का काफी विरोध हुआ था।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×