• Hindi News
  • National
  • Pyarelal Wadali, legendary Sufi set Wadali Brothers, Amritsar after cardiac arrest वडाली ब्रदर्स सूफी गायकों में से एक प्यारेलाल वडाली का निधन
--Advertisement--

वडाली ब्रदर्स की जोड़ी के प्यारेलाल वडाली का निधन, सूफी गायकी के लिए दुनियाभर में थे मशहूर

सूफियाना गायकी के लिए मशहूर वडाली ब्रदर्स में से एक प्यारेलाल वडाली का अमृतसर में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया।

Dainik Bhaskar

Mar 09, 2018, 11:32 AM IST
प्यारेलाल अपने बड़े भाई पूरणचंद के साथ गाते थे। - फाइल प्यारेलाल अपने बड़े भाई पूरणचंद के साथ गाते थे। - फाइल

अमृतसर. सूफियाना गायकी के लिए दुनियाभर में मशहूर वडाली ब्रदर्स में से एक प्यारेलाल वडाली का अमृतसर में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। प्यारेलाल अपने बड़े भाई पूरणचंद के साथ गाते थे। उनकी जोड़ी ने दुनियाभर में अपने अलहदा गायकी से एक अलग मुकाम बनाया था। हाल ही में उन्होंने कंगना रणौत की फिल्म ‘तनु वेड्स मनु’ में रंगरेज मेरे....गाया था। यह नंबर बेहद हिट रहा था। प्यारेलाल कुछ वक्त से बीमार थे। इसलिए पूरणचंद अपने बेटे लखविंदर वडाली के साथ स्टेज शेयर कर रहे थे। लखविंदर भी क्लासिकल सिंगिंग का उभरता हुआ नाम हैं।

अंतिम संस्कार अमृतसर में - प्यारेलाल वडाली के निधन पर शोक में डूबा उनका परिवार। उनका अंतिम संस्कार अमृतसर के ‘गुरु की वडाली’ में किया जाएगा।

पंजाब की मिट्टी की खुशबू

- वडाली ब्रदर्स शुरू से ही संगीत में रमे थे। उनके घर में ही संगीत का माहौल था। वो उसी संगीत घराने से थे जिससे उस्ताद बड़े गुलाम अली थे। इसे संगीत के क्षेत्र में पटियाला घराना कहा जाता है।
- कहा जाता है कि वडाली ब्रदर्स फिल्मों में गाने से परहेज करते थे। लेकिन, रंगरेज गाने का जब उन्हें ऑफर मिला तो उन्होंने इनकार नहीं किया। बाद में ये गाना बेहद हिट हुआ।

तू माने या ना माने दिलदारा....

- वडाली ब्रदर्स ने एक से बढ़कर एक सूफियाना नंबर्स गाए। दौर कोई भी रहा हो लेकिन उनका गाया ‘तू माने या ना माने दिलदारा, असां तो तेनू रब मनया...’ हमेशा हिट रहा है। आज भी ये यू ट्यूब पर खूब देखा और सुना जाता है। खासतौर पर युवाओं में उनका ये गीत बहुत पसंद किया जाता है।
- हाल ही में लोगों की गुजारिश पर वडाली ब्रदर्स ने इस गाने में कुछ नए अंतरे और ठुमरी के अंंश जोड़े थे। इसके अलावा दमा दम मस्त कलंदर और आवां भी उनके हिट नंबर्स थे।

प्यारेलाल कुछ वक्त से बीमार थे। इसलिए पूरणचंद अपने बेटे लखविंदर वडाली के साथ स्टेज शेयर कर रहे थे। लखविंदर भी क्लासिकल सिंगिंग का उभरता हुआ नाम हैं। - फाइल प्यारेलाल कुछ वक्त से बीमार थे। इसलिए पूरणचंद अपने बेटे लखविंदर वडाली के साथ स्टेज शेयर कर रहे थे। लखविंदर भी क्लासिकल सिंगिंग का उभरता हुआ नाम हैं। - फाइल
X
प्यारेलाल अपने बड़े भाई पूरणचंद के साथ गाते थे। - फाइलप्यारेलाल अपने बड़े भाई पूरणचंद के साथ गाते थे। - फाइल
प्यारेलाल कुछ वक्त से बीमार थे। इसलिए पूरणचंद अपने बेटे लखविंदर वडाली के साथ स्टेज शेयर कर रहे थे। लखविंदर भी क्लासिकल सिंगिंग का उभरता हुआ नाम हैं। - फाइलप्यारेलाल कुछ वक्त से बीमार थे। इसलिए पूरणचंद अपने बेटे लखविंदर वडाली के साथ स्टेज शेयर कर रहे थे। लखविंदर भी क्लासिकल सिंगिंग का उभरता हुआ नाम हैं। - फाइल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..