• Hindi News
  • National
  • Sonia Gandhi attack on Narendra Modi, सोनिया गांधी का नरेंद्र मोदी पर हमला
--Advertisement--

सोनिया गांधी ने कहा- नरेंद्र मोदी को निजी तौर पर नहीं जानती, कांग्रेस को नई स्टाइल अपनाने की जरूरत

कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार पर जमकर हमला बोला।

Dainik Bhaskar

Mar 09, 2018, 02:52 PM IST
सोनिया गांधी ने कहा है कि वो नरेंद्र मोदी को निजी तौर पर नहीं जानतीं।- फाइल सोनिया गांधी ने कहा है कि वो नरेंद्र मोदी को निजी तौर पर नहीं जानतीं।- फाइल

नई दिल्ली. कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार पर जमकर हमला बोला। एक चैनल के प्रोग्राम में शिरकत करते हुए सोनिया ने कहा- मैं उन्हें (नरेंद्र मोदी) को निजी तौर पर नहीं जानती। प्रधानमंत्री बनने के बाद उन्हें देखा और देश-विदेश में बोलते हुए सुना। हां, अटल बिहारी वाजपेयी को व्यक्तिगत रूप से जानती थी। सोनिया ने माना कि कांग्रेस को सुधार के लिए नए तौर-तरीके अपनाने की जरूरत है।


सभी पार्टियों को साथ लाना मुश्किल

- एक सवाल के जवाब में सोनिया ने कहा- सभी पार्टियों को एक साथ लाना मुश्किल है। नेशनल लेवल पर हम कुछ मुद्दों पर जरूर साथ आ सकते हैं। लेकिन, जमीनी स्तर पर हम एक-दूसरे के खिलाफ हैं। पश्चिम बंगाल को ही ले लें, वहां हमारी और दूसरी पार्टियों पर दबाव है। इसलिए, अलायंस करना आसान नहीं है।

कांग्रेस को नया तरीका अपनाने की जरूरत

- इसी दौरान, सोनिया गांधी ने माना कि लोगों से जुड़ने के लिए कांग्रेस को नई स्टाइल यानी नए तौर-तरीकों की जरूरत है। ये काम संगठन के स्तर पर किया जाना चाहिए।
- 2004 में मनमोहन को पीएम बनाए जाने के सवाल पर सोनिया ने कहा- मैं जानती थी कि मनमोहन जी मुझसे बेहतर पीएम साबित होंगे। मुझे अपनी सीमाएं पता थीं।

राहुल के इटली जाने पर सफाई

- उत्तर-पूर्व के तीन राज्यों में चुनाव के बाद और नतीजों के पहले राहुल गांधी के इटली जाने के सवाल पर उन्होंने कहा- राहुल अपनी नानी को देखने गए थे। इसके पहले उन्होंने तीनों राज्यों में चुनाव प्रचार किया था।
- प्रियंका गांधी के राजनीति में आने के बारे में कहा- वो अपने परिवार में व्यस्त हैं। सियासत में आने का फैसला उन्हें खुद लेना है। और वैसे भी भविष्य के बारे में कोई नहीं जानता।

ज्यूडिशियरी खतरे में

- सोनिया ने कहा, “सरकार जो दावे कर रही है, क्या वो देश के लोगों की समझ को गलत ठहराने जैसा नहीं है।”
- “हमारे देश की ज्यूडिशियरी खतरे में है। हम पारदर्शिता लाने के लिए आरटीआई लेकर आए थे लेकिन आज इस कानून को कोल्ड स्टोरेज में डाल दिया गया है। आधार को चीजों को नियंत्रित करने के हथियार के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है।”

नोटबंदी ने अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाया

- “देश की अर्थव्यवस्था को नोटबंदी ने पीछे ढकेल दिया। किसानों को परेशानी में डाल दिया।”
- “सत्ताधारी दल की तरफ से लगातार भड़काऊ बयान दिए जाते हैं, जो देश को बांटने का काम करते हैं।”
-"मौजूदा समय में लोगों को खुद के बारे में भी सोचने नहीं दिया जा रहा है। देश में धार्मिक तनाव बढ़ रहा है। दलितों और महिलाओं पर सुनियोजित तरीके से हमला किया जा रहा है।"
- “बीजेपी लोगों के सामने कांग्रेस को मुस्लिम पार्टी के रूप में रखती है। हम हमेशा से मंदिर जाते रहे हैं। मैं खुद राजीव गांधी के साथ कई मंदिरों में गई। हमने कभी इसका दिखावा नहीं किया।”

एक प्रोग्राम के दौरान सोनिया, मोदी और मनमोहन।- फाइल एक प्रोग्राम के दौरान सोनिया, मोदी और मनमोहन।- फाइल
X
सोनिया गांधी ने कहा है कि वो नरेंद्र मोदी को निजी तौर पर नहीं जानतीं।- फाइलसोनिया गांधी ने कहा है कि वो नरेंद्र मोदी को निजी तौर पर नहीं जानतीं।- फाइल
एक प्रोग्राम के दौरान सोनिया, मोदी और मनमोहन।- फाइलएक प्रोग्राम के दौरान सोनिया, मोदी और मनमोहन।- फाइल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..