• Hindi News
  • National
  • UP By Election Result LIVE Updates, गोरखपुर चुनाव रिजल्ट, फूलपुर चुनाव रिजल्ट, बिहार विधानसभा उपचुनाव रिजल्ट

LIVE: गोरखपुर-फूलपुर समेत 3 लोकसभा और 2 विधानसभा सीटों के उपचुनाव के नतीजे आज; योगी के लिए आज का दिन अहम

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नई दिल्ली/पटना. यूपी और बिहार में हुए उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने 3 लोकसभा और एक विधानसभा सीट गंवा दी है। बीजेपी यूपी की गोरखपुर, फूलपुर और बिहार की अररिया लोकसभा सीट हार चुकी है। बिहार की भभुआ सीट जीती तो जहानाबाद में हार गई। अब अररिया से आरजेडी के प्रत्याशी सरफराज आलम की जीत पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने तंज कसा है। बिहार बीजेपी के इस बड़े नेता ने कहा- अररिया अब आतंकवादियों का गढ़ बन जाएगा। इस पर आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की पत्नी और बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी ने कहा- पूरे देश के आतंकवादी भाजपा के ही दफ्तर में बैठे हैं। 

 

 

गिरिराज ने क्या कहा?
- गिरिराज सिंह ने कहा, “अररिया अब आतंकवादियों का गढ़ बन जाएगा। अररिया केवल सीमावर्ती इलाका नहीं है। यह सिर्फ नेपाल और बंगाल से भी जुड़ा नहीं है। एक कट्टरपंथी विचारधारा को उन्होंने जन्म दिया है। यह बिहार के लिए ही नहीं देश के लिए खतरा होगा। यह आतंकवादियों का गढ़ बनेगा।”

 

हार से बौखला गए हैं भाजपाई : राबड़ी 
-  राबड़ी देवी ने कहा, “पूरे देश के आतंकवादी भाजपा के ही दफ्तर में बैठे हैं। जनता ने जवाब दे दिया है, इसलिए भाजपाई बौखलाए हुए हैं। बिहार और उत्तर प्रदेश की जनता रास्ता दिखा रही है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि भाजपा नेता अपनी भाषा को वश में रखें और अररिया की जनता से माफी मांगें। वरना 2019 में जनता माफ नहीं करेगी।” 

भाजपा 8 में से 6 सीट हारी
- 2014 लोकसभा चुनाव के बाद 11 राज्यों में 19 लोकसभा सीटों पर उपचुनाव हुए हैं। इनमें 8 सीटें भाजपा के पास थीं। पर भाजपा सिर्फ दो सीट ही बरकरार रख सकी है। छह सीटों पर उसे हार मिली है। भाजपा सिर्फ वड़ोदरा और शहडोल सीट ही जीत पाई है।

 

आगे क्या संभावना?
- 2019 में सपा, बसपा और उनके साथ कांग्रेस भी आ सकती है। अगर अभी यूपी में सपा-बसपा के वोटों को मिला दें तो भाजपा की सीटें 73 से घटकर 37 हो जाती हैं।

और पढ़ें: यूपी उपचुनाव के नतीजे: गोरखपुर में बीजेपी और फूलपुर में सपा आगे, सीएम-डिप्टी सीएम की साख दांव पर

यूपी उपचुनाव: गोरखपुर में सपा कैंडिडेट ने ईवीएम पर उठाये सवाल, काउंटिंग जारी

 

पहले जानिए: क्यों हुए थे गोरखपुर-फूलपुर सीट पर चुनाव?
1) गोरखपुर- योगी आदित्यनाथ यहां से लगातार 5 बार सांसद चुने गए। यूपी के मुख्यमंत्री बनने के बाद उन्होंने 21 सितंबर, 2017 को सीट छोड़ दी।
2) फूलपुर- केशव प्रसाद मौर्य यहां से सांसद थे। उनके यूपी के डिप्टी सीएम बनने के बाद यह सीट खाली हुई।

 

गोरखपुर में कौन थे कैंडिडेट?
बीजेपी: उपेंद्र दत्त शुक्ल 
सपा+बसपा का उम्मीदवार: प्रवीण निषाद


फूलपुर में उम्मीदवार कौन थे?
बीजेपी: कौशलेंद्र सिंह पटेल। वो वाराणसी के मेयर रह चुके हैं।
सपा+बसपा का उम्मीदवार: नागेंद्र सिंह पटेल। 
निर्दलीय अतीक अहमद: फूलपुर से सांसद रह चुके हैं। इस बार जेल से चुनाव लड़ रहे हैं।

खबरें और भी हैं...