• Home
  • National
  • Parliamentary Panel Slams Indigo Airline for Rude Behavior of Crew with Passengers
--Advertisement--

पार्लियामेंट्री पैनल की इंडिगो एयरलाइन को खराब बर्ताव के लिए फटकार, कहा- क्रू को पोलाइट रहना चाहिए

पिछले कुछ दिनों में एयरलाइन्स के क्रू और ग्राउंड स्टाफ द्वारा पैसेंजर्स से मारपीट, बदतमीजी और खराब व्यवहार के मामले सामन

Danik Bhaskar | Jan 05, 2018, 04:17 PM IST
53 साल के राजीव कत्याल से मारपीट 53 साल के राजीव कत्याल से मारपीट

नई दिल्ली. ट्रांसपोर्ट, टूरिज्म और कल्चर पर बनी पार्लियामेंट्री स्टैंडिंग कमेटी ने शुक्रवार को अपनी रिपोर्ट राज्यसभा में पेश की। इसमें इंडिगो एयरलाइन के स्टाफ को पैसेंजर्स के साथ उनके बर्ताव को लेकर फटकार लगाई गई। रिपोर्ट में कहा गया है कि सभी एयरलाइन्स को पैसेंजर फ्रेंडली होना चाहिए। स्टाफ को प्लीज और थैंक यू कहना सिखाया जाना चाहिए।

कमेटी ने और क्या आपत्तियां जताईंं?

- रिपोर्ट में एयरलाइन्स चलाने वाली कंपनियों को लेकर कुछ गंभीर सवाल उठाए गए हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि फेस्टिव सीजन के दौरान एयरलाइन कंपनियां बहुत ज्यादा किराया बढ़ाती हैं। इसके मुताबिक, हाल ही में ऐसे कई मामले सामने आए जब एयरलाइंस कंपनियों के स्टाफ मेंबर्स ने पैसेंजर्स के साथ गलत बर्ताव किया।

कैसे तैयार की गई ये रिपोर्ट?

- यह रिपोर्ट 26 पेज की है। इसे तैयार करते वक्त सिविल एविएशन मिनिस्ट्री के अफसरों और बाकी पक्षों से भी बात की गई है। इसमें एयरलाइन्स के स्टाफ के बर्ताव को निजी नहीं बल्कि इंस्टीट्यूशनल खराबी बताया गया है।

रिपोर्ट में इंडिगो का खास जिक्र

- रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले कुछ दिनों में एयरलाइन्स के क्रू और ग्राउंड स्टाफ के पैसेंजर्स के साथ मारपीट, बदतमीजी और खराब व्यवहार के मामले सामने आए। इनमें से कुछ तो मीडिया के जरिए सामने आए, लेकिन कुछ ऐसे भी हैं जो सामने नहीं आ पाए।

- रिपोर्ट में खासतौर पर इंडिगो एयरलाइन का जिक्र करते हुए कहा गया है कि इसके स्टाफ का बर्ताव अच्छा नहीं है। ये स्टाफ कोऑपरेट नहीं करता और कई बार बदतमीजी पर उतर आता है।

- इंडिगो के बारे में कहा गया है- इस एयरलाइन को पैसेंजर्स से दोस्ताना रवैया रखना चाहिए। यह पता लगाने की कोशिश करनी चाहिए कि उसका स्टाफ बुरा व्यवहार क्यों करता है, फिर चाहे वो कैबिन क्रू हो या ग्राउंड स्टाफ। कमेटी ने इस बात पर जोर दिया कि स्टाफ का घमंड वाला बर्ताव बंद होना चाहिए।

एयरलाइन्स के CEOs से भी जानकारी ली
- कमेटी ने रिपोर्ट तैयार करने से पहले कई एयरलाइन कंपनियों के CEOs से भी बातचीत की। इसमे ये विचार किया गया कि अलग-अलग तरह के स्टाफ को किस तरह की ट्रेनिंग दी जा सकती है।
- रिपोर्ट में कहा गया है कि कैबिन क्रू हो या ग्राउंड स्टाफ, इनको सैलरी पैसेंजर्स की वजह से ही मिलती है। लिहाजा, उनसे सभ्य बर्ताव किया जाना चाहिए।

पैसेंजर के साथ खराब बर्ताव का मामला रहा था चर्चा में

- 53 साल के राजीव कत्याल चेन्नई से आने वाली इंडिगो एयरलाइन्स की फ्लाइट 6ई-487 से आईजीआई एयरपोर्ट पहुंचे थे। वहां कत्याल और इंडिगो एयरलाइन के स्टाफ में जमकर मारपीट हुई। मामला 15 अक्टूबर का है, जिसका वीडियो वायरल हुआ।

- कत्याल जब तक प्लेन से टर्मिनल तक जाने के लिए इंडिगो की ट्रांसफर बस तक पहुंचते, वह पैसेंजर्स से भर चुकी थी। इस वजह से इंडिगो एयरलाइन के स्टाफ ने कत्याल को बस में चढ़ने से रोक दिया। वीडियो में कत्याल यह शिकायत करते सुने जा रहे हैं कि वे लाइन में खड़े हैं लेकिन उनसे बार-बार कहा जा रहा है कि इधर आ जाओ-उधर आ जाओ।
- आरोप है कि इससे नाराज होकर कत्याल ने इंडिगो स्टाफ जुबी थॉमस को अपशब्द बोल दिए। वीडियो में ग्राउंड स्टाफ को यह कहते सुना गया कि आप अपनी उम्र को देखिए, फिर गाली दीजिए।