Hindi News »National »Latest News »National» Rahul Gandhi Asks 10th Question To Narendra Modi Gujarat Election

मोदीजी, कहां गए गुजरात की वनबंधु योजना के 55 हजार करोड़? राहुल का मोदी से 10वां सवाल

राहुल ट्विटर पर 22 सालों का हिसाब, गुजरात मांगे जवाब नाम की एक सीरीज चलाकर हर दिन मोदी से सवाल पूछ रहे हैं।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Dec 08, 2017, 10:07 AM IST

नई दिल्ली. गुजरात चुनाव के मद्देनजर राहुल गांधी हर दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से ट्विटर पर एक सवाल पूछ रहे हैं। शुक्रवार को उन्होंने 'गुजरात मांगे जवाब' सीरीज का 10वां सवाल किया। इसमें उन्होंने आदिवासियों से जुड़ी स्कीम्स का मुद्दा उठाया। राहुल ने ट्वीट कर पूछा कि वनबंधु योजना के तहत करोड़ों रुपए खर्च किए गए। इनके तहत क्या हुआ? उन्होंने ट्वीट में लिखा कि गुजरात में न स्कूल चल रहे हैं न हॉस्पिटल। यहां तक कि आदिवासियों से जमीन भी छीनी जा रही है। बता दें कि राहुल गांधी पिछले कुछ दिनोंं से मोदी और गुजरात सरकार को निशाना बनाकर एक मुद्दे पर सवाल पूछते हैं।

10वें सवाल में क्या लिखा राहुल गांधी ने ?

- आदिवासी से छीनी जमीन
नहीं दिया जंगल पर अधिकार
अटके पड़े हैं लाखों जमीन के पट्टे
न चले स्कूल न मिला अस्पताल
न बेघर को घर न युवा को रोजगार

पलायन ने दिया आदिवासी समाज को तोड़
मोदीजी, कहांं गए वनबंधु योजना के 55 हजार करोड़

ट्विटर पर सीरीज चलाकर सवाल पूछ रहे राहुल
- राहुल ट्विटर पर 22 सालों का हिसाब, गुजरात मांगे जवाब नाम की एक सीरीज चलाकर हर दिन मोदी से सवाल पूछ रहे हैं। अपने ट्वीट में वे गुजरात के हालात पर ‘प्रधानमंत्री जी से सवाल’ लिखकर ट्वीट कर रहे हैं।

पहले महिला सुरक्षा, शिक्षा, किसान और बेरोजगारी पर पूछे थे सवाल

नौवांं सवाल:

न की कर्ज माफी

न दिया फसल का सही दाम
मिली नहीं फसल बीमा राशि
न हुआ ट्यूबवेल का इंतजाम
खेती पर गब्बर सिंह की मार
छीनी जमीन, अन्नदाता को किया बेकार
PM साहब बतायें, खेडुत के साथ क्यों इतना सौतेला व्यवहार?

आठवां सवाल: 39% बच्चे कुपोषण से बेजार, हर 1000 में 33 नवजात मौत के शिकार, चिकित्सा के बढ़ते हुए भाव, डाक्टरों का घोर अभाव भुज में 'मित्र' को 99 साल के लिए दिया सरकारी अस्पताल, क्या यही है आपके स्वास्थ्य प्रबंध का कमाल?
सातवां सवाल: बढ़ते दामों से जीना दुश्वार बस अमीरों की होगी भाजपा सरकार?
छठवां सवाल: 7वें वेतन आयोग में 18000 रुपए मासिक होने के बावजूद फिक्स और कॉन्ट्रैक्ट पगार 5500 और 10000 क्यों?
पांचवां सवाल: न सुरक्षा, न शिक्षा, न पोषण। गुजरात की बहनों से किया सिर्फ वादा, पूरा करने का कभी नहीं था इरादा।
चौथा सवाल: सरकारी शिक्षा पर खर्च में गुजरात देश में 26वें स्थान पर क्यों? युवाओं ने क्या गलती की है?
तीसरा सवाल: 2002-16 के बीच 62,549 करोड़ रुपए की बिजली खरीद कर 4 निजी कंपनियों की जेब क्यों भरी? जनता की कमाई, क्यों लुटाई?

दूसरा सवाल: 1995 में गुजरात पर कर्ज- 9183 करोड़। 2017 में गुजरात पर कर्ज- 2,41,000 करोड़। आपके वित्तीय कुप्रबंधन और पब्लिसिटी की सजा गुजरात की जनता क्यों चुकाए?

पहला सवाल: 2012 में वादा किया कि 50 लाख नए घर देंगे। 5 साल में बनाए 4.72 लाख घर। प्रधानमंत्रीजी बताइए कि क्या ये वादा पूरा होने में 45 साल और लगेंगे?

सातवें सवाल में कर दी थी कैलकुलेशन मिस्टेक

- राहुल ने मंगलवार को मोदी से सातवां सवाल किया था। इसमें उन्होंने गुजरात में तीन साल में बढ़े जरूरी चीजों के दाम पर जवाब चाहा था। उन्होंने इसके साथ एक चार्ट पोस्ट किया था। इसमें कीमतों की बढ़ोत्तरी को पर्सेंट में बताया गया था। लेकिन चार्ट में यह पर्सेंट 100% ज्यादा लिखा गया था।
- मीडिया में यह खबर आने के बाद राहुल ने चार्ट डिलीट कर दिया और एक नया चार्ट पोस्ट किया था, जिसमें कीमतों में बढ़ोत्तरी फीसदी की बजाय रुपयों में बताई गई थी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: khaan gae gujarat ki vnbndhu yojnaa ke 55 hazaar karode? Rahul ka modi se 10vaan sawal
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×