Hindi News »National »Latest News »National» How To Protect Yourself Against False FIR

किसी ने आपके खिलाफ लिखवा दी झूठी FIR, तो ये है बचने का तरीका

यदि किसी ने आपके खिलाफ झूठी FIR कर दी है तो आप उसे चैलेंज कर सकते हैं।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Feb 01, 2018, 12:02 AM IST

  • किसी ने आपके खिलाफ लिखवा दी झूठी FIR, तो ये है बचने का तरीका, national news in hindi, national news
    +2और स्लाइड देखें

    यूटिलिटी डेस्क।यदि किसी ने आपके खिलाफ झूठी FIR कर दी है तो आप उसे चैलेंज कर सकते हैं। ऐसे में आपकी दलीलें सही रहीं तो आपको हाईकोर्ट के जरिए राहत मिल सकती है। हम बता रहे हैं कोई झूठी एफआईआर कर दे तो उससे कैसे बचा जाए। इस बारे में हाईकोर्ट एडवोकेट संजय मेहरा का कहना है कि भारतीय दंड संहिता की धारा 482 के तहत इस तरह के मामलों में चैलेंज किया जा सकता है। कोर्ट ने याचिकाकर्ता की दलीलें सही पाईं तो रिलीफ मिल सकता है।

    क्या है धारा 482


    किसी ने आपके खिलाफ झूठी एफआईआर करवाई है तो इस धारा का आप इस्तेमाल कर सकते हैं। इस धारा के तहत वकील के माध्यम से हाईकोर्ट में प्रार्थनापत्र लगाया जा सकता है। इस पत्र के साथ में आप अपनी बेगुनाही के सबूत भी दे सकते हैं। जैसे आप, वीडियो रिकॉर्डिंग, ऑडियो रिकॉर्डिंग, फोटोग्राफ्स, डॉक्युमेंट्स प्रार्थनापत्र के साथ अटैच कर सकते हैं। इससे आप अपनी बेगुनाही को मजबूती से कोर्ट में रख पाएंगे।

    पुलिस को तुरंत रोकना होगी कार्रवाई, देखिए अगली स्लाइड्स में...

  • किसी ने आपके खिलाफ लिखवा दी झूठी FIR, तो ये है बचने का तरीका, national news in hindi, national news
    +2और स्लाइड देखें

    पुलिस को तुरंत रोकना होगी कार्रवाई


    > चोरी, मारपीट, बलात्कार या किसी दूसरे मामले में आपको षडयंत्र करके फंसाया गया है तो आप हाईकोर्ट में अपील कर सकते हैं। हाईकोर्ट में केस चलने के दौरान पुलिस आपके खिलाफ कोई कानूनी कार्रवाई नहीं कर सकती। इतना ही नहीं यदि आपके खिलाफ वारंट भी जारी कर दिया गया है, तब भी केस चलने के दौरान आपको गिरफ्तार नहीं किया जा सकता। कोर्ट जांच अधिकारी को जांच के लिए जरूरी दिशा-निर्देश भी दे सकती है।

  • किसी ने आपके खिलाफ लिखवा दी झूठी FIR, तो ये है बचने का तरीका, national news in hindi, national news
    +2और स्लाइड देखें

    तैयार करना होती है फाइल


    > यदि आप इस धारा के तहत हाईकोर्ट में याचिका लगाना चाहते हैं तो पहले एक फाइल तैयार करें। इस फाइल में एफआईआर की कॉपी के साथ ही एविडेंस के जो भी जरूरी डॉक्युमेंट्स हैं, वे लगाएं। आप वकील के माध्यम से एविडेंस तैयार कर सकते हैं। आपके पक्ष में कोई गवाह है तो इसमें उसका भी जिक्र करें।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×