--Advertisement--

अपनी खाली प्रॉपर्टी में कैसे लगवाएं ATM ? जानें पूरा प्रॉसेस, हर माह मिलेंगे हजारों रु.

आपके पास भी खाली जगह है तो आप एटीएम के लिए इसे किराये पर दे सकते हैं।

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 12:02 AM IST

यूटिलिटी डेस्क। यदि आप अपनी लोकेशन में एटीएम लगाने का एडवरटाइजमेंट देखें तो सीधे बैंक को एप्रोच कर सकते हैं। अधिकांश बैंक लोकल न्यूजपेपर में एडवरटाइजमेंट देते हैं। इस एडवरटाइजमेंट की एक अवधि होती है, जिसके अंदर आपको संबंधित बैंक में जाकर पूछताछ करनी होती है। एडवरटाइजमेंट देने के बाद बैंक अपनी वेबसाइट पर एप्लीकेशन फॉर्म भी अपलोड करते हैं।

आप रिक्वायरमेंट देखकर इस फॉर्म को भरकर बैंक में जमा कर सकते हैं। इसके बाद बैंक की मार्केटिंग टीम आपकी जगह का सर्वे करती है। एटीएम लगाने की जरूरत होती है तो अधिकतर बैंक अपनी वेबसाइट के टेंडर सेक्शन में इस बारे में जानकारी डालते हैं। यहां रिक्वायरमेंट भी डाली जाती है। ऐसे में आप बैंकों की वेबसाइट चेक करके भी यह पता कर सकते हैं कि अभी कहां-कहां एटीमए के लिए जरूरत है।

किन लोकेशन में बैंक एटीएम इंस्टॉल करते हैं
(लोकेशन सिलेक्ट करने की हर बैंक की अपनी गाइडलाइन है, जो संबंधित बैंक की मार्केटिंग टीम द्वारा तैयार की जाती है। कुछ ऐसे कॉमन पॉइंट हैं, जो इसमें देखे जाते हैं)

> हॉस्पिटल, कॉलेज, गवर्नमेंट ऑफिसेज, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन के आसपास की जगह फर्स्ट प्रिफरेंस में होती हैं, क्योंकि यहां पब्लिक ज्यादा होती है।


> आप एटीमए लगाना चाहते हैं तो आपके पास कम से कम 50 से 80 स्केयर फिट खाली जमीन होना चाहिए।


> ग्राउंड फ्लोर की प्रॉपर्टी है, तो ही आप एटीएम के लिए अप्लाइ करें। यहां 24 घंटे बिजली सप्लाय की सुविधा भी होना चाहिए।


> लोकेशन ऐसी हो जहां आसानी से लोग आना-जाना कर सकें।


> प्रॉपर्टी कमर्शियल यूज की होना चाहिए। यदि ऐसा नहीं है तो आपको पहले इसकी परमीशन लेना होगी।


> सिक्योरिटी के लिहाज से मजबूत होना चाहिए। यदि पार्किंग स्पेस भी है तो यह आपके लिए प्लस पॉइंट हो सकता है।

कितनी होती है कमाई, देखिए अगली स्लाइड में....

कितनी होती है कमाई


> एटीएम का किराया लोकेशन पर डिपेंड करता है। यदि आपकी प्रॉपर्टी मेट्रो सिटी में किसी ऐसी लोकेशन पर है, जहां लोगों का बहुत ज्यादा आना-जाना होता है तो आप 50 हजार से 60 हजार रुपए महीना तक कमा सकते हैं। वहीं यदि प्रॉपर्टी किसी कॉलोनी में या एवरेज आवाजाही वाली जगह पर है तो 7 हजार से 15 हजार रुपए महीना तक का किराया आपको मिल सकता है। गांवो में 2 से 5 हजार के बीच किराया बैंकों द्वारा दिया जाता है। 

सुरक्षा की जिम्मेदारी बैंक की होती है

 

सुरक्षा की जिम्मेदारी होती है बैंक की


> एटीएम मशीन, एसी, सुरक्षा की व्यवस्था और मेंटेनेन्स की जिम्मेदारी बैंक की होती है। इंडिया में मुख्यतौर पर टाटा इंडिकैश एटीएम, मुथूट एटीएम और इंडिया 

वन एटीएम ऐसी कंपनियां हैं, जो मशीनें इंस्टॉल करती हैं। आप इन कंपनियों की वेबसाइट के जरिए भी एटीएम की रिक्वायरमेंट का पता लगा सकते हैं। ये वेबसाइट्स ऑनलाइन अप्लाई करने का ऑप्शन भी देती हैं। 

 

किसी के धोखे में न आएं, देखिए अगली स्लाइड में...

धोखेबाजों से बचकर रहें


> कई लोग एटीएम लगाने के नाम पर लोगों को ठगने का काम भी करते हैं। खुद को कंपनियों का प्रतिनिधि बताकर पैसे ऐंठ लेते हैं। ऐसे में आपका सतर्क रहना 

जरूरी है। इंडिकैश कंपनी ने अपनी वेबसाइट पर भी यह सूचना दी है कि हर किसी के बहकावे में न आएं।