Hindi News »National »Latest News »National» Indian Railway To Change Few Rules

महिलाओं के लिए ट्रेन में होंगे स्पेशल कंपार्टमेंट, जानें नए बदलावों के बारे में

ट्रेन में अकेले सफर करने वाली महिला यात्रियों के लिए खुशखबरी है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 05, 2018, 11:31 AM IST

  • महिलाओं के लिए ट्रेन में होंगे स्पेशल कंपार्टमेंट, जानें नए बदलावों के बारे में, national news in hindi, national news
    +2और स्लाइड देखें

    यूटिलिटी डेस्क। ट्रेन में अकेले सफर करने वाली महिला यात्रियों के लिए खुशखबरी है। रेलवे ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए हर ट्रेन में स्पेशल कंपार्टमेंट देने का आदेश दिया है। स्लीपर कोच में महिला या उनके ग्रुप को एक जगह 6 बर्थ मिलेंगी। यहां पुरुषों को जगह नहीं दी जाएगी।

    इस योजना के तहत सुपरफास्ट, मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों के स्लीपर कोच में महिलाओं के लिए विशेष कंपार्टमेंट बनाए जाएंगे। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्विनी लोहानी ने प्रीमियम ट्रेनों में फ्लेक्सी किराया प्रणाली में सुधार के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा है कि इसमें कुछ सुधार किया जाएगा, जिससे यात्रियों और रेलवे दोनों को फायदा हो। विशेष कंपार्टमेंट में पुरुष यात्री को नहीं मिलेगी सीट

    > इस कंपार्टमेंट में लेडीज कोटे से बुक की गई महिला यात्रियों एवं ग्रुप बुकिंग कराने वाली महिला यात्रियों को एक ही कूपे में छह सीटें आवंटित की जाएंगी। इससे उनका एक विशेष कंपार्टमेंट बन जाएगा। इसमें किसी भी पुरुष यात्री को सीट नहीं मिलेगी।

    > इतना ही नहीं वेटिंग लिस्ट के समय गर्भवती महिला को पुरुष यात्री की जगह ऑटोमेटिक कंफर्म बर्थ अलॉट की जाएगी। रेलवे बोर्ड ने हाल ही में सभी जोनल रेलवेज को रिजर्वेशन सिस्टम में नए बदलाव जल्द से जल्द लागू करने के निर्देश जारी किए हैं।

    गर्भवती महिलाओं को एक ही कंपार्टमेंट में सीटें अलॉट की जाएंगी, देखिए अगली स्लाइड में...

  • महिलाओं के लिए ट्रेन में होंगे स्पेशल कंपार्टमेंट, जानें नए बदलावों के बारे में, national news in hindi, national news
    +2और स्लाइड देखें

    प्रेग्नेंट वुमन को एक ही कंपार्टमेंट में मिलेगी सीट

    > रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अभी 45 व इससे अधिक उम्र की महिलाओं को लेडीज कोटे के तहत लोअर व कंफर्म बर्थ का लाभ मिलता

    है, लेकिन यह बर्थ अलग-अलग कोच में अलॉट की जाती है।

    > इससे उन महिलाओं को सबसे अधिक परेशानी होती है, जो ग्रुप बुकिंग के जरिए टिकट लेती हैं या

    जो अकेले यात्रा करती हैं, लेकिन अब जल्दी ही अकेले, ग्रुप के साथ या गर्भवती महिलाओं को एक ही कंपार्टमेंट में सीटें अलॉट की जाएंगी।

    > इससे वे खुद को असुरक्षित एवं असहज महसूस नहीं करेंगी। इसके लिए फिलहाल सेंटर फॉर रेलवे इंफॉर्मेशन सिस्टम (क्रिस) द्वारा पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम (पीआरएस) से जुडे सॉफ्टवेयर में बदलाव किया जा रहा है।

    सुपरफास्ट, मेल, एक्सप्रेस के सैकंड व थर्ड एसी में तीन, तो राजधानी, दुरंतो में चार बर्थ होंगी रिजर्व, देखिए अगली स्लाइड में...

  • महिलाओं के लिए ट्रेन में होंगे स्पेशल कंपार्टमेंट, जानें नए बदलावों के बारे में, national news in hindi, national news
    +2और स्लाइड देखें

    लोअर बर्थ का कोटा तय होगा

    > सुपरफास्ट, मेल, एक्सप्रेस ट्रेनों के सेकंड व थर्ड एसी के प्रत्येक कोच में तीन लोअर बर्थ का कोटा महिलाओं के लिए रिजर्व होगा। यह वयवस्था गरीब रथ ट्रेनों में भी लागू होगी। इसके अलावा अब राजधानी, दुरंतो जैसी प्रीमियम क्लास ट्रेनों के थर्ड एसी के प्रत्येक कोच में महिलाओं के लिए चार बर्थ रिजर्व रखी जाएंगी।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Indian Railway To Change Few Rules
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×