देश

--Advertisement--

रनवे से फिसलकर एयरोप्लेन समुद्र के मुहाने पर पहुंचा, 168 यात्रियों में से किसी को खरोंच तक नहीं आई

रनवे से फिसलकर एयरोप्लेन समुद्र के मुहाने पर पहुंचा, 168 यात्रियों में से किसी को खरोंच तक नहीं आई

Danik Bhaskar

Jan 15, 2018, 07:57 AM IST
VIDEO: बताया जा रहा है कि प्लेन शायद किसी पक्षी से टकराया, इसके बाद यह एयरस्ट्रिप पर पड़ी बर्फ से फिसल गया। VIDEO: बताया जा रहा है कि प्लेन शायद किसी पक्षी से टकराया, इसके बाद यह एयरस्ट्रिप पर पड़ी बर्फ से फिसल गया।

अंकारा. तुर्की के ट्रैब्जोन एयरपोर्ट पर पेगासस एयरलाइन का एक एयरोप्लेन लैंडिंग के दौरान रनवे पर पड़ी बर्फ से फिसलते हुए ब्लैक सागर के मुहाने तक जा पहुंचा। हालांकि, समुद्र से 60 मीटर पहले ही स्लोप पर ठहर गया। प्लेन में 2 पायलट और 4 क्रू मेंबर समेत 168 लोग सवार थे। अच्छी बात यह रही कि सभी लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया। किसी को खरोंच तक नहीं आई। तुर्की मीडिया के मुताबिक हादसा शनिवार रात को हुआ।

कैबिन में उठते धुएं से ब्लास्ट का डर था

- एक चश्मदीद के मुताबिक, हादसे के बाद प्लेन में चीख-पुकार मच गई। 20 मिनट तक मदद नहीं पहुंची। केबिन में उठते धुएं और फ्यूल की गंध से प्लेन में ब्लास्ट का डर लग रहा था। शुक्र है ऐसा नहीं हुआ।

- उन्होंने कहा, "प्लेन में अंदर फ्युल की बदबू आ रही थी। लगा कि ब्लास्ट हो हो जाएगा, लेकिन शुक्र है कि ऐसा नहीं हुआ।"
- एक अन्य पैसेंजर फतमा गुरुडू ने कहा कि खराब मौसम के बीच प्लेन लैंड कर रहा था, जिससे पैसेंजर्स नाखुश थे। अचानक प्लेन का अगला हिस्सा काफी नीचे झुक गया। फिर यह रनवे पर तेजी से हिलने लगा।

पक्षी के टकराने की बात भी सामने आई
- खबर यह भी है कि लैंडिंग के वक्त प्लेन से कोई पक्षी टकराया और यह परफैक्ट लैंडिंग नहीं कर सका। रनवे पर पड़ी बर्फ से इसका अगला हिस्सा टकराया और फिर वह फिसलता हुआ समुद्र के मुहाने तक जा पुहंचा। हालांकि, हादसे की वजह पता की जा रही है। प्लेन ने तुर्की की राजधानी अंकारा से उड़ान भरी थी।

204 kmph थी स्पीड
- वेबसाइट RadarBox के मुताबिक, लैंडिंग के वक्त पायलट ने इसकी स्पीड कम करने की कोशिश की, लेकिन कामयाब नहीं हुए। उस वक्त उसकी रफ्तार करीब 204 किलोमीटर/घंटे थी।

20 मिनट तक प्लेन में ही रहे पैसेंजर्स
- हादसे फौरन बाद रेस्क्यु टीम उस जगह पहुंच गई जहां प्लेन अटका हुआ था। एक पैसेंजर ने बताया कि करीब 20 मिनट तक वे प्लेन में ही फंसे रहे।

एक चश्मदीद के मुताबिक, हादसे के बाद प्लेन में चीख-पुकार मच गई। 20 मिनट तक मदद नहीं पहुंची। एक चश्मदीद के मुताबिक, हादसे के बाद प्लेन में चीख-पुकार मच गई। 20 मिनट तक मदद नहीं पहुंची।
प्लेन का एक इंजन पूरी तरह मिटी में धंस गया। प्लेन का एक इंजन पूरी तरह मिटी में धंस गया।
Click to listen..