Hindi News »National »Latest News »National» ASEAN-Way Handshake Way Trump Confused

PHOTO STORY: जब आसियान में हैंडशेक के दौरान कन्फ्यूज हुए ट्रम्प

इस समिट में शामिल होने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी पहुंचे हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 13, 2017, 01:22 PM IST

मनीला. मनीला में हो रही 31वीं आसियान समिट के पहले दिन सभी नेताओं के हैंडशेक के वक्त अमेरिका के प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प गफलत में पड़ गए और गलत तरीके से हाथ मिलाने लगे। बाद में उन्हें समझ आया तो अपनी गलती सुधारी, लेकिन उन्होंने चेहरे पर अजीब सा एक्सप्रेशन दिया। उनकी इस भूल पर पास खड़े वर्ल्ड लीडर्स ने ठहाके लगाए।

होना क्या था?
आसियान समिट के पहले दिन इसकी मेंबर कंट्री के नेताओं को हैंडशेक करना था। इसे आसियान-वे हैंडशेक कहा जाता है। इसमें दोनों हाथों को क्रॉस करके अपने दोनों तरफ खड़े नेताओं से मिलाना होता है।
ट्रम्प को क्या करना था?
ट्रम्प को अपना राइट हैंड उनके लेफ्ट साइड में खड़े फिलीपींस के प्रेसिडेंट रोड्रिगो दुतेर्ते से और अपना लेफ्ट हैंड उनके राइट साइड पर खड़े वियतनाम के पीएम नगुएन जुआन फुक से मिलाना था।
ट्रम्प ने क्या गलती की?
- ट्रम्प ने दोनों हाथ क्रॉस करने की बजाय इससे उलट कर दिया।
- सबसे पहले ट्रम्प के राइट साइड में खड़े जुआन फुक ने उनकी तरफ हाथ बढ़ाया, लेकिन वे दोनों हाथ बांधकर खड़े रहे। लगा जैसे उन्हें समझ ही नहीं आ रहा था कि हाथ मिलाना कैसे है।
- इसके बाद ट्रम्प ने जुआन फुक से अपना राइट हैंड मिला लिया, जबकि उन्हें लेफ्ट हैंड मिलाना था।
- गलती समझ आई तो उन्होंने फुक से अपना राइट हैंड छुड़ाकार अपने लेफ्ट साइड में खड़े फिलीपींस के प्रेसिडेंट की तरफ बढ़ा दिया।
- इस समिट में शामिल होने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी पहुंचे हैं।
ASEAN क्या है?
- ASEAN का फुल फॉर्म (Association of Southeast Asian Nations) है।
- 10 देश- ब्रुनेई, कंबोडिया, इंडोनेशिया, लाओस, मलेशिया, म्यांमार, फिलीपींस, सिंगापुर, थाईलैंड और वियतनाम इसके मेंबर हैं।
- इसकी एशियन रीजनल फोरम (एआरएफ) में अमेरिका, रूस, भारत, चीन, जापान और नॉर्थ कोरिया समेत 27 मेंबर हैं।
- यह ऑर्गनाइजेशन 1967 को थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में बनाया गया था।
- इसके फाउंडर मेंबर थाईलैंड, इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलिपींस और सिंगापुर थे।
- 1994 में आसियान ने एआरएफ बनाया, जिसका मकसद सिक्युरिटी को बढ़ावा देना था।
हैंडशेक के दौरान कहां थे मोदी?
- आसियान-वे हैंडशेक के दौरान मोदी बाई तरफ इंडोनेशिया के प्रेसिडेंट जोको विडोडो से बाईं तरफ खड़े थे। मोदी के बाईं तरफ कंबोडिया के पीएम हुन सेन थे।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×