--Advertisement--

गुजरात में मोदी के मन की बात सुनने के लिए बूथ लेवल पर जुटेंगे BJP वर्कर

गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए दो फेज में 9 और 14 दिसंबर को वोटिंग होगी। नतीजे 18 दिसंबर को आएंगे।

Dainik Bhaskar

Nov 26, 2017, 06:00 AM IST
मोदी ने कहा कि हम धरती मां का ख्याल रखेंगे तो वह हमारा ख्याल रखेगी। देश में 10 करोड़ लोगों ने सॉइल हेल्थ कार्ड बनवा लिए हैं। मोदी ने कहा कि हम धरती मां का ख्याल रखेंगे तो वह हमारा ख्याल रखेगी। देश में 10 करोड़ लोगों ने सॉइल हेल्थ कार्ड बनवा लिए हैं।

नई दिल्ली/अहमदाबाद. नरेंद्र मोदी रविवार को 38वीं बार देश की जनता से मन की बात की। उन्होंने कहा कि मुझे जानकर अच्छा लगता है कि हमारे बच्चे भी देश की समस्याओं को समझते हैं। 9 साल पहले आतंकियों ने मुंबई पर हमला किया था। आतंकवाद से निपटने के लिए मानवतावादी ताकतों को एकजुट होने की जरूरत है। अमित शाह और स्मृति ईरानी समेत कई बीजेपी वर्कर्स गुजरात के बूथ लेवल पर पहुंचे और मन की बात सुनी। बीजेपी 26 नवंबर से अपने चुनावी अभियान की शुरुआत कर रही है। 50 हजार पोलिंग बूथों को लेकर नई स्ट्रैटजी बनाई गई है। इसके लिए स्लोगन दिया गया है- मन की बात, चाय के साथ। बता दें कि गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए दो फेज में 9 और 14 दिसंबर को वोटिंग होगी। नतीजे 18 दिसंबर को आएंगे।

मोदी की मन की बात की 7 बातें

1. बच्चों को देश की समस्याएं पता हैं

- मोदी ने कहा, "कुछ समय मुझे कर्नाटक के बाल मित्रों के साथ परोक्ष साक्षात्कार को अवसर मिला। बच्चों से एक अखबार ने आग्रह किया कि वे विदेश के मंत्रियों को पत्र लिखें। समाचार पत्र ने उनमें से कई पत्र छापे। कलबुर्गी से इरफाना बेगम ने लिखा उनका स्कूल घर से 5 किलोमीटर दूर है। मैं अपने दोस्तों के साथ समय नहीं बिता पाती हूं। मुझे इन्हें पढ़ने का अवसर मिला।"

2. आतंकियों से निपटने के लिए एकजुटता जरूरी

- मोदी ने कहा, "26/11 को संविधान दिवस है, लेकिन देश कैसे भूल सकता है कि नौ साल पहले आतंकियों ने मुंबई पर हमला कर दिया था। जिन्होंने इसमें जान गंवाई देश उन्हें नमन करता है। देश उनके बलिदान को कभी नहीं भूल सकता।"

- "हमारे हजारों निर्दोष लोगों ने आतंकवाद की वजह से जान गंवाई थी। भारत वर्षों पहले जब बहुत ज्यादा इसकी पीड़ा झेल रहा था, तब दुनिया ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। लेकिन अब सबने इसे स्वीकारा है। आतंकवाद मानवतावादी शक्तियों को नष्ट कर रहा है। ऐसे में इन शक्तियों को एकजुट होने की जरूरत है।"

3. हमारी नेवी चोलों की विरासत

- मोदी के मुताबिक, "800-900 साल पहले चोल नेवी को देश की सबसे शक्तिशाली नौसेनाओं में से एक माना जाता था। उनकी नेवी का संगम साहित्य में जिक्र है।"
- "उनकी नौसेना में महिलाएं भी शामिल थीं। वे लड़ाई में शामिल होती थीं। दुनियाभर की नेवी ने चोलों से ही प्रेरणा ली है।"

4. जवानों की मदद करें

- "हर साल 7 दिसंबर को आर्म्ड फोर्स फ्लैग डे मनाती हैं। मुझे खुशी है कि इस बार रक्षा मंत्रालय ने 1 से 7 दिसंबर को इसका सप्ताह मनाने का फैसला किया है। इस मौके पर आर्म्ड फोर्स फ्लैग बांटें, वीडियो शेयर करें। इससे जमा की जाने वाली रकम आर्म्ड फोर्स के कल्याण के लिए होती है। आइए इस अवसर पर हम भी उनके कल्याण के लिए कुछ योगदान दें।"

5. मिट्टी के महत्व को समझें

- "5 दिसंबर को सॉइल कंजरवेशन डे है। धरती का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है मिट्टी। यह न हो तो जीव-जंतु, पौधे कहां होंगे। हम मिट्टी के महत्व को लेकर प्राचीनकाल से ही जागरूक रहे हैं। हमारे यहां मिट्टी के प्रति भक्ति और वैज्ञानिक रूप से इसे सहेजना और संवारना होता रहा है।"
- "मैं हिमाचल प्रदेश के टोहू और दोरंज गांव के किसानों के बारे में सुना था। यहां के किसान फर्टिलाइजर इस्तेमाल कर रहे थे इससे मिट्टी की उद्पादकता घटती जा रही थी। कुछ किसानों ने इस बात को गंभीरता से लिया। मिट्टी की जांच करवाई। वहां उन्हें जैविक खाद के इस्तेमाल की सलाह दी गई। उन्होंने इसे माना। नतीजा यह हुआ कि गेहूं के उत्पादन में 3 से 4 गुना की वृद्धि हुई।"

6. दिव्यांग किसी से कम नहीं

- "मध्य प्रदेश में 8 साल के एक दिव्यांग बच्चे तुषार ने गांव को खुले में शौच से मुक्त कराया। उसने सीटी बजाकर लोगों को खुले में शौच करने से रोका।"
- "दिव्यांग किसी से कम नहीं हैं। हमारे दिव्यांग खिलाड़ियों ने रियो पैरालिंपिक में चार पदक जीते थे।"

7. पॉजिटिविटी से नए साल का वेलकम करें

"2018 दस्तक दे रहा हैं। हमारे बुजुर्ग कहते हैं। दुख को भूलें, सुख को भूलने न दें। हम शुभ का संकल्प करके 2018 में प्रवेश करें।"
- "मेरा सुझाव है कि आपने जो 8-10 अच्छी बातें देखी हों या सुनी हैं। हम अपने पांच पॉजिटिव एक्सपीरियंस शेयर कर सकते हैं। मैं आमंत्रित करता हूं कि नरेंद्र मोदी एप या MyGov ऐप पर पॉजिटिव इंडिया के एक्सपीरियंस शेयर करें।"

आगे की स्लाइड्स पढ़ें: मोदी की मन की बात की पूरी स्पीच...

अमित शाह समेत बीजेपी वर्कर्स ने गुजरात में बूथ लेवल पर मन की बात सुनी। अमित शाह समेत बीजेपी वर्कर्स ने गुजरात में बूथ लेवल पर मन की बात सुनी।

बच्चों ने अखबार से कहा था- विदेश के मंत्रियों को लेटर लिखें

 

- मोदी ने कहा, "कुछ समय मुझे कर्नाटक के बाल मित्रों के साथ परोक्ष साक्षात्कार को अवसर मिला। बच्चों से एक अखबार ने आग्रह किया कि वे विदेश के मंत्रियों को पत्र लिखें। समाचार पत्र ने उनमें से कई पत्र छापे।"
- "एक बच्चे ने डिजिटल इंडिया का जिक्र करते हुए कहा कि शिक्षा व्यवस्था में सुधार की जरूरत है।" 
- "कलबुर्गी से इरफाना बेगम ने लिखा उनका स्कूल घर से 5 किलोमीटर दूर है। मैं अपने दोस्तों के साथ समय नहीं बिता पाती हूं। मुझे अच्छा लगा कि एक समाचार पत्र ने यह पत्र छापे। मुझे इन्हें पढ़ने का अवसर मिला।"

 

26/11 आतंकी हमले को हम कैसे भूल सकते हैं

- मोदी ने कहा, "आज संविधान दिवस है। यह दिन भारत का संविधान सभा के सदस्यों के स्मरण का दिन है। उन्हें संविधान को तैयार करने में तीन साल डिस्कशन किया। क्या आप कल्पना कर सकते हैं कि उन्होंने देश का संविधान बनाने के लिए कितना कड़ा परिश्रम किया होगा। 26 नवंबर, 1949 को संविधान बनकर तैयार हुआ और 26 जनवरी 1950 को संविधान लागू हुआ।" 
- "सभी के प्रति संवेदनशीलता हमारे संविधान की पहचान है। यह हर अमीर-गरीब के हितों की रक्षा करता है।"
- "संविधान निर्माण के लिए कई कमेटियां बनी थीं। इसमें से एक थी ड्राफ्टिंग कमेटी। इसके अध्यक्ष बाबा साहब अंबेडकर थे। हम छह दिसंबर को उनके परिनिर्वाण दिवस पर हमेशा की तरह उन्हें स्मरण करते हैं। 
- "26/11 को यानी संविधान दिवस है, लेकिन देश कैसे भूल सकता है कि नौ साल पहले आतंकियों ने मुंबई पर हमला कर दिया था। जिन्होंने इसमें जान गंवाई देश उन्हें नमन करता है। देश उनके बलिदान को कभी नहीं भूल सकता।"

- "हमारे हजारों निर्दोष लोगों ने आतंकवाद की वजह से जान गंवाई थी। भारत वर्षों पहले जब बहुत ज्यादा इसकी पीड़ा झेल रहा था, तब दुनिया ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। लेकिन अब सबने इसे स्वीकारा है। आतंकवाद मानवतावादी शक्तियों को नष्ट कर रहा है। ऐसे में इन शक्तियों को एकजुट होने की जरूरत है।" 

- "आतंकी हमारी सामाजिक संरचना को कमजोर कर उन्हें छिन्न-भिन्न करने का प्रयास करते हैं। ऐसे में मानवतावादी शक्तियों को एकजुट होना समय की मांग है।"


 नेवी के विकास में चोल साम्राज्य का योगदान  

- मोदी ने कहा, " 9 दिसंबर को नेवी डे है। हमारी सभ्यता का विकास नदियों के किनारे हुआ। समुद्र और महासागर हमारे गेटवे रहे हैं। 800-900 साल पहले चोल नेवी को देश की सबसे शक्तिशाली नौसेनाओं में से एक माना जाता था। उनकी नेवी का संगम साहित्य में जिक्र है।" 
- "उनकी नौसेना में महिलाएं भी शामिल थीं। वे लड़ाई में शामिल होती थीं। दुनियाभर की नेवी ने चोलों से ही प्रेरणा ली है।"
- "हम जब नौसेना की बात करते हैं तो शिवाजी के योगदान को कैसे भूल सकते हैं।" 
- "समुद्री किलों की सुरक्षा मराठा नेवी करती थी। उनके नौसेनिक किसी भी दुश्मन पर हमला करने में बड़े कुशल थे। कान्होजी आंग्रे को हम कैसे भूल सकते हैं।" 
- "गोवा का मुक्ति संग्राम हो या भारत-पाक युद्ध हो नौसेना का योगदान अविस्मरणीय रहा है।" 

 

जवानों के साहस को सलाम

- मोदी ने कहा, "हमारी नौसेना गौरवपूर्ण कार्य करती रही है। हम भारतवासी हमारे जवानों के साहस वीरता को सलाम करता है।" 
- "हर साल 7 दिसंबर को आर्म्ड फोर्स फ्लैग डे मनाती हैं। मुझे खुशी है कि इस बार रक्षा मंत्रालय ने 1 से 7 दिसंबर को इसका सप्ताह मनाने का फैसला किया है। इस मौके पर आर्म्ड फोर्स फ्लैग बांटें, वीडियो शेयर करें। इससे जमा की जाने वाली रकम आर्म्ड फोर्स के कल्याण के लिए होती है। आइए इस अवसर पर हम भी उनके कल्याण के लिए कुछ योगदान दें।"

 

मिट्टी को सहेजना जरूरी

- मोदी के मुताबिक, "5 दिसंबर को सॉइल कंजरवेशन डे है। धरती का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है मिट्टी। यह न हो तो जीव-जंतु, पौधे कहां होंगे। हम मिट्टी के महत्व को लेकर प्राचीनकाल से ही जागरूक रहे हैं। हमारे यहां मिट्टी के प्रति भक्ति और वैज्ञानिक रूप से इसे सहेजना और संवारना होता रहा है।"
- "मैं हिमाचल प्रदेश के टोहू और दोरंज गांव के किसानों के बारे में सुना था। यहां के किसान फर्टिलाइजर इस्तेमाल कर रहे थे इससे मिट्टी की उद्पादकता घटती जा रही थी। कुछ किसानों ने इस बात को गंभीरता से लिया। मिट्टी की जांच करवाई। वहां उन्हें जैविक खाद के इस्तेमाल की सलाह दी गई। उन्होंने इसे माना। नतीजा यह हुआ कि गेहूं के उत्पादन में 3 से 4 गुना की वृद्धि हुई।" 
- "मुझे यह देखकर खुशी हुई है कि किसान स्वाइल हेल्थ कार्ड का इस्तेमाल कर रहे हैं। वे समझ रहे हैं कि हमें धरती मां का ख्याल रखेंगे तो वह हमारा ख्याल रखेगी। देश में 10 करोड़ लोगों ने स्वाइल हेल्थ कार्ड बनवा लिए हैं।" 

 

8 साल के दिव्यांग ने गांव को खुले में शौच से मुक्त कराया

- मोदी ने कहा, "आपको सुनकर आश्चर्य होगा कि मध्य प्रदेश में आठ साल के एक दिव्यांग बालक तुषार ने गांव को खुले में शौच से मुक्त कराया। उसने सीटी बजाकर लोगों को खुले में शौच करने से रोका।" 
- "दिव्यांग किसी से कम नहीं हैं। आपको याद होगा कि हमारे दिव्यांग खिलाड़ियों ने रियो पैरालिंपिक में चार पदक जीते थे।" 
- "19 साल के जिगर ठक्कर ने 11 मैडल जीते। वे स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया के चुने 32 तैराक में से एक हैं। मैं उन्हें शुभकानाएं देता हूं।" 

 

पॉजिटिविटी के एक्सपीरियंस शेयर करें

- मोदी ने कहा, "कुछ दिन बाद ईद-ए-मिलादुन्नबी का पर्व मनाया जाएगा। मैं इस अवसर पर सभी देशवासियों को शुभकानाएं देता हूं।"
- "कानपुर से नीरजा सिंह कहती हैं कि साल में कही गईं 10 सबसे अच्छी बातें दोबारा से बताएं, ताकि लोग एक बार फिर से लोग प्रेरणा ले सकें।" 
- "2018 दस्तक दे रहा हैं। आपने अच्छी बात की मेरा उसमें कुछ और जोड़ने का मन करता है। हमारे बुजुर्ग कहते हैं। दुख को भूलें, सुख को भूलने न दें। हम शुभ का संकल्प करके 2018 में प्रवेश करें।"
- "मेरा सुझाव है कि आपने जो 8-10 अच्छी बातें देखी हों या सुनी हैं। हम अपने पांच पॉजिटिव एक्सपीरियंस शेयर कर सकते हैं। मैं आमंत्रित करता हूं कि नरेंद्र मोदी एप या MyGov ऐप पर पॉजिटिव इंडिया के एक्सपीरियंस शेयर करें।"

X
मोदी ने कहा कि हम धरती मां का ख्याल रखेंगे तो वह हमारा ख्याल रखेगी। देश में 10 करोड़ लोगों ने सॉइल हेल्थ कार्ड बनवा लिए हैं।मोदी ने कहा कि हम धरती मां का ख्याल रखेंगे तो वह हमारा ख्याल रखेगी। देश में 10 करोड़ लोगों ने सॉइल हेल्थ कार्ड बनवा लिए हैं।
अमित शाह समेत बीजेपी वर्कर्स ने गुजरात में बूथ लेवल पर मन की बात सुनी।अमित शाह समेत बीजेपी वर्कर्स ने गुजरात में बूथ लेवल पर मन की बात सुनी।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..