• Home
  • National
  • Delhi government tells court about plans to spend green fund
--Advertisement--

दिल्ली हाइकोर्ट ने केजरीवाल सरकार से पूछा- बस खरीदने के लिए क्यों खर्च कर रहे ग्रीन सेस

ग्रीन सेस के रूप में इकठ्ठा हुए 700 करोड़ में से 400 करोड़ रू. इलेक्ट्रिक बस खरीदने में खर्च करना चाहती है आप सरकार।

Danik Bhaskar | Nov 29, 2017, 06:21 PM IST
दिल्ली सरकार ने ग्रीन फंड से बसें खरीदने का प्लान हाईकोर्ट को बताया। -फाइल दिल्ली सरकार ने ग्रीन फंड से बसें खरीदने का प्लान हाईकोर्ट को बताया। -फाइल

नई दिल्ली. एयर पॉल्यूशन कंट्रोल के लिए वसूले गए ग्रीन फंड से 500 बसें खरीदने के प्लान पर हाईकोर्ट ने केजरीवाल सरकार को फटकार लगाई। बुधवार को सरकार की मंशा पर सवाल उठाते हुए कोर्ट ने कहा, ''आखिर बस खरीदने के लिए पर्यावरण फंड का इस्तेमाल क्यों किया जा रहा है? ये तो दिल्ली सरकार की जिम्मेदारी है।'' पिछले दो साल में ग्रीन सेस के नाम पर सरकार ने 700 करोड़ रुपए वसूल किए। इनमें से 400 करोड़ खर्च कर इलेक्ट्रिक बसें खरीदने का प्लान सरकार ने बनाया है।

कोर्ट ने कहा- बस खरीदने का प्लान लंबे वक्त से पेंडिंग

- हाइकोर्ट ने केजरीवाल सरकार से पूछा कि ग्रीन फंड से ही बसें क्यों खरीदी जा रही हैं। जबकि ये तो सरकार की अपनी जिम्मेदारी है। बस खरीदने का प्लान लंबे वक्त से पेंडिंग पड़ा है, तो बस खरीदने के लिए पर्यावरण फंड्स को क्यों खर्च किया जा रहा है?

आरटीआई से हुआ था फंड का खुलासा

- बता दें कि, कुछ दिनों पहले एक आरटीआई में खुलासा हुआ था कि दिल्ली सरकार ने पिछले 2 सालों में करीब 787 करोड़ रुपए ग्रीन सेस फंड के तौर पर जुटाए, लेकिन पॉल्यूशन कंट्रोल के लिए इसे कभी खर्च नहीं किया।

कोर्ट ने पूछा कि आखिर क्यों सरकार बसें खरीदने के लिए ग्रीन फंड का इस्तेमाल कर रही है? -फाइल कोर्ट ने पूछा कि आखिर क्यों सरकार बसें खरीदने के लिए ग्रीन फंड का इस्तेमाल कर रही है? -फाइल