• Hindi News
  • National
  • Indain soldiers asked not to use Chinese apps : भारतीय सैनिक यूज नहीं करेंगे चाइनीज ऐप्स
--Advertisement--

सरकार ने चाइनीज Apps पर निगरानी बढ़ाई, सैनिकों से इन्हें डिलीट करने को कहा

Dainik Bhaskar

Dec 01, 2017, 03:26 PM IST

चाइना रिलेटेड 40 से भी अधिक ऐप्स की लिस्ट में WeChat, UC News और News-Dog जैसे Apps शामिल हैं।

चीन सीमा पर तैनात आर्मी के जवा चीन सीमा पर तैनात आर्मी के जवा

नई दिल्ली। डाटा सिक्युरिटी पर चाइनीज स्मार्टफोन कंपनियों से जवाब-तलब करने के बाद अब सरकार ने उन ऐप्स पर भी निगरानी बढ़ा दी है, जिनका संबंध चीन से है। चीन की सीमा पर तैनात भारतीय सैनिकों से चाइना रिलेटेड 40 से भी अधिक ऐप्स डिलीट करने को कहा गया है। इन ऐप्स में WeChat, UC News और News-Dog शामिल हैं। सरकार ने इन्हें भारतीय सुरक्षा के लिए खतरा माना है। सैनिकों से स्मार्टफोन फॉर्मेट करने को कहा…

- मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, चीन की सीमा पर तैनात भारतीय सैनिकों को 24 नवंबर को भेजे गए इंस्ट्रक्शन में उनसे कहा गया है कि वे अपने स्मार्टफोन को फॉर्मेट कर लें। उनसे ऐसे तमाम ऐप्स डिलीट करने को कहा गया है, जो राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरनाक हो सकते हैं।

- इंस्ट्रक्शन में यह भी कहा गया है कि ऐसे एंड्रॉइड या iOS ऐप्स जो या तो चाइनीज कंपनियों द्वारा डेवलप किए गए हैं या जिनका संबंध चीन से हैं, वे या तो spyware हो सकते हैं या फिर उनका मकसद सूचनाएं चुराना हो सकता है। अगर सैनिक इन ऐप्स का इस्तेमाल करते हैं तो यह राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए घातक हो सकता है।

कौन-से प्रमुख ऐप्स शामिल हैं?

WeChat : यह मैसेजिंग प्लैटफॉर्म है जिसके जरिए चैट की जा सकती है।

UC News : इसे चाइनीज कंपनी Alibaba ने डेवलप किया है। यह न्यूज एग्रीगेटर ऐप है।

NewsDog : यह भी न्यूज एग्रीगेटर ऐप है।

SHAREit : यह फाइल ट्रांसफर एप्लिकेशन है।

Weibo : यह माइक्रो ब्लॉगिंग साइट है।

Truecaller : यह मोबाइल कम्युनिकेशन ऐप है।

Truecaller ने कहा, वह चाइनीज नहीं, स्वीडिश कंपनी….

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, Truecaller ने इस बात पर आश्चर्य जताया है कि सरकार ने उसे इस लिस्ट में क्यों शामिल कर लिया गया। कंपनी ने साफ किया है कि उसका चीन से कोई संबंध नहीं है। कंपनी स्वीडन में काम करती है। Truecaller ने यह भी दावा किया है कि वह malware नहीं है। इसके सारे फीचर्स यूजर द्वारा परमिशन के बाद ही यूज किए जाते हैं।


चाइनीज स्मार्टफोन मेकर्स को भी दिए जा चुके हैं निर्देश…

इससे पहले सरकार ने दो दर्जन से भी ज्यादा स्मार्टफोन मेकर्स (जिनमें ज्यादातर चाइनीज हैं) को निर्देश देकर उस प्रोसीजर की जानकारी देने को कहा था जिसके जरिए वे भारत में बिकने वाले मोबाइल फोन में डाटा की सिक्युरिटी सुनिश्चित करते हैं। सरकार ने ये निर्देश डाटा लीकेज और डाटा की चोरी संबंधी शिकायतों पर दिया था।

आधे स्मार्टफोन बाजार पर है चाइनीज कंपनियों का कब्जा…

  • इंडिया में स्मार्टफोन का कुल बाजार करीब 10 अरब डॉलर (लगभग 645 अरब रुपए) का है।
  • इनमें चाइनीज हैंडसेट मेकर जैसे Xiaomi, Oppo, Vivo, Lenovo और Gionee की स्मार्टफोन बाजार में आधे से ज्यादा हिस्सेदारी है।
  • इनमें से अधिकांश कंपनियों के सर्वर चीन में हैं। केवल Xiaomi का सर्वर सिंगापुर और अमेरिका में है।

X
चीन सीमा पर तैनात आर्मी के जवाचीन सीमा पर तैनात आर्मी के जवा
Astrology

Recommended

Click to listen..