Hindi News »India News »Latest News »National» Happy Childrens Day 2017: Promises On Bal Diwas That Parents Should Seek From The Children

Children's Day 2017: बाल दिवस के 5 प्रॉमिस, जिंदगी भर आएंगे काम

dainikbhaskar.com | Last Modified - Nov 14, 2017, 09:24 AM IST

इस बाल दिवस पर आप बच्चों की जिंदगी को सुरक्षित और सही दिशा में रखना चाहते हैं तो अपने बच्चे से ये पांच प्रॉमिस जरूर लें।
Children's Day 2017: बाल दिवस के 5 प्रॉमिस, जिंदगी भर आएंगे काम, national news in hindi, national news
14 नवंबर यानी बाल दिवस भारत में धूमधाम से मनाया जा रहा है। भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के जन्मदिन को देश भर में बाल दिवस के नाम से मनाया जाता है। नेहरू सदा बच्चों के अधिकारों, उनकी सलामती और उन्नति के लिए प्रयासरत रहे। इस बाल दिवस पर यदि आप बच्चों की जिंदगी को सुरक्षित और सही दिशा में रखना चाहते हैं तो अपने बच्चे से ये पांच प्रॉमिस जरूर लें।

पहला प्रॉमिस - टीवी पर कम समय देना है


आजकल के बच्चे टीवी पर ज्यादा समय बिताते हैं। पिछले कई सालों बच्चों ने टीवी पर ज्यादा समय बिताना शुरू किया जिससे बच्चों का बालपन खत्म होता गया। अब बच्चे गली मोहल्ले या पार्क में दोस्तों के साथ खेलने की बजाय घर पर टीवी में घुसे कार्टून देखते रहते हैं। बच्चों से प्रॉमिस लीजिए कि वो टीवी को कम समय देंगे ताकि वो एकांगी न बन जाएं।

दूसरा प्रॉमिस - मोबाइल को हाथ न लगाउंगा


बच्चों के हाथ में मोबाइल बंदर के हाथ में उस्तरे की तरह है। बच्चे मोबाइल के संसार में उन चीजों तक भी पहुंच जाते हैं जहां उनका पहुंचना सही नहीं है। ऐसे में देखा जाए तो मोबाइल उनका जीवन बरबाद कर रहा है। हाल ही में ब्लू व्हेल प्रकरण ने कई बच्चों को जान देने के उकसाया। मोबाइल बच्चों को समय से पहले जवान कर रहा है और आप कोशिश करें कि बच्चे से मोबाइल से दूर करने का प्रॉमिस जरूर लें।

तीसरा प्रॉमिस - कोई भी बात नहीं छिपाउंगा


बच्चे से वादा कीजिए कि वो स्कूल या घर बाहर की सारी बातें आपके साथ शेयर करे। आप खुद उससे दोस्त की तरह व्यवहार कीजिए ताकि वो अपने सुख दुख और स्कूल में जो भी कुछ हो रहा है, वो हर पल आपके साथ शेयर करे। इससे बच्चों के साथ स्कूल में हो रही घटनाओं पर रोक लग पाएगी और आप अपने बच्चे को किसी अनहोनी से बचा पाएंगे। बच्चे से ऐसा प्रॉमिस जरूर लें कि वो कोई भी बात आपसे छिपाएगा नहीं।

चौथा प्रॉमिस - अनजान पर नहीं करूंगा भरोसा


अपने बच्चे से वादा लीजिए कि वो किसी अनजान पर भरोसा कभी नहीं करेगा। उसे समझाइए कि किसी अनजान से लालच या डर की वजह से कोई रिश्ता न रखे। बच्चा गार्ड हो या ड्राइवर, मेड हो या माली, ऐसे लोगों एक संभावित दूरी बनाकर रखे, तो संभावित खतरों से दूर रहेगा। बच्चे को ऐसे लोगों के साथ या भरोसे मत छोड़िए और उससे भी प्रॉमिस लीजिए कि वो अनजान और पराए लोगों पर आंख मूंदकर विश्वास नहीं करेगा।

पांचवां प्रॉमिस - पढ़ाई पर दूंगा पूरा ध्यान


बच्चा छोटा हो या बड़ा,पढा़ई से जी चुराने की बच्चों की पुरानी आदत रही है। इस बाल दिवस पर बच्चे से प्रॉमिस लीजिए कि वो पढ़ाई से जी नहीं चुराएगा बल्कि पढ़ाई में आ रही दिक्कतों को आपसे शेयर करेगा। उसे एक्जाम और होमवर्क के प्रेशर से मुक्त रखने के लिए उसका सहयोग कीजिए। उसे बताइए कि पढ़ाई हौवा नहीं है और उसे हल करना जरूरी है, भागना नहीं।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Childrens Day 2017: baal divs ke 5 promis, jindgai bhar aayengae kam
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From National

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×