Hindi News »India News »Latest News »National» Savitribai Phule University - Weird Universities Rules In India

पुणे यूनिवर्सिटी ही नहीं इन विश्वविद्यालयों में भी हैं अजीबोंगरीब नियम

dainikbhaskar.com | Last Modified - Nov 11, 2017, 11:44 AM IST

पुणे यूनिवर्सिटी नहीं और भी कई यूनिवर्सिटी हैं जिन्होंने अपने अजीबोंगरीब फरमान और नियमों से सुर्खियां बटोरीं।
पुणे यूनिवर्सिटी ही नहीं इन विश्वविद्यालयों में भी हैं अजीबोंगरीब नियम, national news in hindi, national news
इन दिनों पुणे की सावित्रीबाई फुले पुणे यूनिवर्सिटी अपने अजीबोगरीब नियम को लेकर चर्चा में है। इस यूनिवर्सिटी ने फरमान सुनाया है कि सिर्फ शाकाहारी और शराब ना पीने वाले छात्रों को ही गोल्ड मेडल दिया जाएगा, यानि मांसाहारी या शाकाहारी होना ही गोल्ड मेडल के लिए छात्र की योग्यता साबित करेगा।

पुणे यूनिवर्सिटी ने रखी ये शर्त

सावित्रीबाई फुले पुणे यूनिवर्सिटी ने हाल ही में एक सर्कुलर जारी किया है जिसमें 1 या 2 नहीं बल्कि 10 शर्तें रखी गईं हैं और उन्हीं में से एक शर्त है शाकाहारी होने पर गोल्ड मेडल देने की। शर्त के अनुसार, छात्र का पूरी तरह से शाकाहारी होना जरूरी है। साथ ही वो योगा करता हो और हर तरह के नशे से दूर रहता हो।
इस अजीबोगरीब फरमान पर हर तरफ पुणे यूनिवर्सिटी को बुरा-भला कहा जा रहा है, यूनिवर्सिटी में भी खूब विवाद हुआ।
वैसे पुणे यूनिवर्सिटी कोई पहली यूनिवर्सिटी नहीं है जिसने इस तरह का अजीबोगरीब फरमान सुनाया हो, भारत में और भी कई यूनिवर्सिटी हैं जो अजीबोगरीब नियमों के चलते चर्चा में आईं।

ये यूनिवर्सिटी और उनके अजीबोगरीब फरमान

गरीब लोगों का मजाक उड़ाती है फटी जींस

मुंबई का सेंट जेवियर्स कॉलेज तब सुर्खियों में आ गया था जब उसने कॉलेज कैंपस में छात्रों के फटी जींस पहनने पर रोक लगा दी थी और तर्क दिया था कि कटी-फटी जींस पहनना गरीब लोगों का मजाक उड़ाने के बराबर है। उस फरमान पर छात्रों ने तो नाराजगी जताई थी। इसके अलावा कॉलेज में पहले से ही ड्रेस कोड लागू था जिसके अंतर्गर्त शॉर्ट्स और स्लीवलेस टॉप कैंपस में पहनना मना था।

लड़के और लड़कियां क्लास में नहीं बैठेंगे साथ

चेन्नई के इंजीनियरिंग कॉलेजों में एक अजीबोगरीब नियम है कि वहां लड़के और लड़कियां क्लासेस में अलग-अलग बैठेंगे, यहां तक कि बसों में भी वो साथ नहीं बैठेंगे। बल्कि कुछ कॉलेज तो चेन्नई में ऐसे हैं जहां लड़के और लड़कियों के लिए अलग-अलग सीढ़ियां हैं।

ना जींस चलेगी, ना टी-शर्ट

चेन्नई के ही RMD College में एक लेक्चरर को सिर्फ इसलिए कॉलेज आने से रोक दिया गया था कि वो जींस पहनकर आया था, जबकि हरियाणा के एक कॉलेज में कुछ ऐसी छात्राओं पर जुर्माना लगा दिया गया था जो कॉलेज में टी-शर्ट और जींस पहनकर आईं थीं।

रोमांटिक रिंगटोन पर रोक

तमिलनाडु के Panimalar Institute of Technology में नियम है कि छात्र अपने फोन में
रोमांटिक रिंगटोन नहीं लगा सकते और अगर गलती से भी लगा ली, तो समझो उसकी खैर नहीं। कॉलेज में माना जाता है कि अगर रोमांटिक रिंगटोन लगाने से रोमांटिक फीलिंग जाग सकती हैं और ये छात्रों के लिए सही नहीं है।

लड़कियों के लिए सिर्फ दूरदर्शन

कर्नाटक यूनिवर्सिटी के Channamma Ladies Hostel में लड़कियां सिर्फ दूरदर्शन चैनल ही देख सकतीं है और बाकी चैनल उनके लिए बैन हैं।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: pune yunivrsiti hi nahi in vishvvidyaalyon mein bhi hain ajibongarib niyam
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From National

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×