Hindi News »National »Latest News »National» Kamal Haasan Rationalist Hindu Extremism Tamil Nadu Politics

अगर सच बोलने पर लोगों को जेल में डालते रहे, तो ये कम पड़ जाएंगी: कमल हासन

साउथ के इस सुपर स्टार ने एक बयान में कहा- एक्स्ट्रीमिज्म और टेरेरिज्म में फर्क होता है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 05, 2017, 06:32 PM IST

  • अगर सच बोलने पर लोगों को जेल में डालते रहे, तो ये कम पड़ जाएंगी: कमल हासन, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    कमल हासन ने कहा है कि वो अपनी विचारधारा के बारे में दूसरों को ज्ञान नहीं दे सकते। उन्होंने खुद को एक रेशनेलिस्ट (तर्कवादी) बताया है। - फाइल
    चेन्नई. साउथ के सुपर स्टार कमल हासन ने कहा है कि अगर सच बोलने पर लोगों को इसी तरह जेल में डाला जाता रहा है तो एक दिन ये जेल भी कम पड़ जाएंगी। बता दें कि पिछले हफ्ते ही उन्होंने तमिल मैगजीन 'आनंदा विकटन' के एक आर्टिकल में लिखा था। इसमें कहा गया था कि राइट विंग हिंसा में शामिल है और हिंदू कैम्पों में आतंकवाद दाखिल हो चुका है। रविवार को हासन ने कहा- कट्टरता और आतंकवाद में फर्क है।

    मैं रेशनेलिस्ट हूं

    - साउथ के इस सुपर स्टार ने एक बयान में कहा- एक्स्ट्रीमिज्म और टेररिज्म में फर्क होता है। लेकिन, मैं अपनी विचारधारा के बारे में दूसरों को ज्ञान नहीं दे सकता। मैं एक रेशनेलिस्ट (तर्कवादी) हूं।
    - कमल हासन ने आगे कहा- लोग कहते हैं कि मैं एक सियासी पार्टी बनाने और उसके नाम का एलान करने वाला हूं। लेकिन, बच्चे का नाम रखने के लिए बच्चा भी तो होना जरूरी है।
    पॉलिटिकल पार्टी पर क्या कहा?
    - कमल ने पॉलिटिकल पार्टी बनाने पर भी रुख साफ किया। कहा- पहला कदम मोबाइल ऐप लॉन्च करना होगा। इससे में फैन्स और अपने करीबियों के टच में बना रहूंगा। इसके अलावा पॉलिटिकल पार्टी को मिलने वाले फंड भी रिसीव किए जा सकेंगे।
    - फैन्स से पार्टी के लिए फंड इकट्ठा करने के सवाल पर हासन ने कहा- इसमें कुछ भी गलत नहीं है। क्योंकि, ये तमिलनाडु की भलाई के लिए होगा। अगर मैं अपने राज्य की भलाई के लिए फैन्स के आगे हाथ फैलाता हूं तो इसमें शर्मिंदगी की कोई बात नहीं है। हासन ने ये भी कहा कि अगर इस देश के अमीर रेगुलरली टैक्स भरें तो देश बेहतर हो जाएगा।


    पहले क्या लिखा था हासन ने?

    - हासन ने आर्टिकल में लिखा था, "पहले हिंदू राइट (विंग) दूसरे धर्म के लोगों के साथ बौद्धिक (intellectual) चर्चा में शामिल होते थे। तर्कों के आधार पर विरोध करते हुए शास्त्रार्थ करते थे। अब यह सोच खत्म हो गई। वे बाहुबल का इस्तेमाल करने लगे। वे हिंसा में भी शामिल होने लगे हैं।"
    - उन्होंने आगे लिखा है कि लोगों की 'सत्यमेव जयते' में आस्था खत्म हो चुकी है।
    - उन्होंने केरल सरकार की तारीफ करते हुए लिखा था- केरल सरकार ने कम्युनल वॉयलेंस के मामलों को तमिलनाडु के मुकाबले बेहतर ढंग से निपटाया है।

    स्वामी ने किया था विरोध

    - हासन के इस लेख पर सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा था- अगर उनके पास हिंदू आतंकवाद के सबूत हैं तो उन्हें अफसरों से इसकी शिकायत करनी चाहिए।
    - उन्होंने कहा कि कोई हिंदू आतंकी गुट नहीं है। हासन एक नैतिक रूप से भ्रष्ट व्यक्ति हैं। वे कभी भी कुछ भी कर सकते हैं। उन्हें गंभीरता से नहीं लिया जा सकता।

    माफी मांगें कमल

    - बीजेपी नेता नारायण त्रिपाठी ने हासन के आर्टिकल पर कहा था कि वो अपने शब्द वापिस लें और माफी मांगे। हकीकत में हिंदू बहुसंख्यक हैं और इसलिए शांति भी है।
    - शिवसेना की स्पोक्सपर्सन मनीषा कायंदे ने कहा था, "राजनीति में ऐसे दावे नहीं चल सकते। हिंदू आतंकवाद की बात करने वाली कांग्रेस आज सत्ता से बाहर हो गई है।"

    राजनीति में आने की चर्चाएं

    - बता दें कि कमल हासन की बीते कुछ दिनों से तमिलनाडु की राजनीति में आने की चर्चाएं हैं।
    - उन्होंने पिछले दिनों कई राजनेताओं से मुलाकात की। इनमें केरल के सीएम पी. विजयन और अरविंद केजरीवाल भी शामिल हैं।
    - 7 नवंबर को उनका बर्थडे है। माना जा रहा है कि इस दिन वो कोई बड़ा एलान कर सकते हैं।
  • अगर सच बोलने पर लोगों को जेल में डालते रहे, तो ये कम पड़ जाएंगी: कमल हासन, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    साउथ के एक और सुपर स्टार रजनीकांत के साथ कमल हासन। - फाइल
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×