Hindi News »India News »Latest News »National» Live Narendra Modi Cabinet Expansion Latest Updates Swearing In Of New Ministers

70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 31, 2018, 12:21 PM IST

आजादी के 70 साल बाद निर्मला सीतारमण के रूप में देश को पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री मिली हैं।
    • VIDEO: क्या कांग्रेस की स्ट्रैटजी फॉलो कर रहे हैं अमित शाह?

      नई दिल्ली. आजादी के बाद 70 साल में पहली बार निर्मला सीतारमण के रूप में देश को पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री मिली हैं। रविवार को राष्ट्रपति भवन में कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ लेने के बाद उन्हें ये जिम्मा सौंपा गया। सीतारमण ने कहा, "ये बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। मुझे उम्मीदों पर खरा उतरना है।" इससे पहले 1975 और 1980 में प्रधानमंत्री रहते हुए इंदिरा गांधी डिफेंस मिनिस्ट्री संभाल चुकी हैं। 2019 लोकसभा चुनाव से 20 महीने पहले हुए कैबिनेट फेरबदल में पीयूष गोयल को रेलवे का जिम्मा सौंपा गया है। सुरेश प्रभु कॉमर्स और इंडस्ट्री की जिम्मेदारी संभालेंगे। जेटली के पास अब फाइनेंस और कॉरपोरेट अफेयर्स मिनिस्ट्री हैं। कैबिनेट में 9 नए चेहरे शामिल गए गए। इनमें तीन चुनावी राज्यों के लीडर्स के अलावा पूर्व IAS, IPS और IFS हैं। जेडीयू के सरकार में शामिल होने और बड़ा फेरबदल किए जाने की चर्चाएं थीं। लेकिन, इससे उलट ये बदलाव छोटा ही रहा। मोदी कैबिनेट में फेरबदल, 10 प्वाइंट...

      1) किसे, कौन सा मंत्रालय मिला?

      डिफेंस- निर्मला सीतारमण
      रेलवे- पीयूष गोयल
      स्पोर्ट्स एंड यूथ अफेयर्स- राज्यवर्धन राठौर (स्वतंत्र प्रभार)
      स्पोर्ट्स एंड यूथ अफेयर्स- विजय गोयल (राज्यमंत्री)
      पावर- आरके सिंह (स्वतंत्र प्रभार)
      टूरिज्म/इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इन्फर्मेशन टेक्नोलॉजी- अल्फाेन्स कन्ननथानम (राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार)
      स्किल डेवलपमेेंट मिनिस्टर- धर्मेंद्र प्रधान
      ड्रिंकिंग वाटर/सेनिटेशन- उमा भारती
      वॉटर रिसोर्स/गंगा रेजुवेनेशन- नितिन गडकरी
      अर्बन डेवलपमेंट- हरदीप पुरी (राज्यमंत्री)
      माइनिंग- नरेंद्र सिंह तोमर
      पार्लियामेंट्री अफेयर्स- विजय गोयल (राज्यमंत्री)
      हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर - अश्विनी कुमार चौबे (राज्यमंत्री)
      स्किल डेवलपमेंट मंत्री- अनंत कुमार हेगड़े (स्वतंत्र प्रभार)
      कॉमर्स एंड इंडस्ट्री- सुरेश प्रभु

      (पूरी लिस्ट पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...)

      2) फेरबदल क्यों?

      4 P और न्यू इंडिया विजन
      - मोदी ने नए नामों के सिलेक्शन में 4 P को तरजीह दी, ताकि उनके न्यू इंडिया विजन पर काम हो।
      पैशन: काम करने का जुनून
      प्रोफिशिएंसी: काबिलियत
      पॉलिटिकल अंडरस्टैंडिंग: राजनीतिक समझ
      प्रोफेशनल एक्युमेन: पेशेवर महारत

      3) किनका प्रमोशन?
      पीयूष गोयल (53), धर्मेंद्र प्रधान (48), निर्मला सीतारमण (58), मुख्तार अब्बास नकवी (59) को कैबिनेट मंत्री का दर्जा मिला है। ये सभी पहले स्वतंत्र प्रभार वाले राज्य मंत्री थे।
      (पढ़ें- क्यों मिला प्रमोशन, क्या है खासियत)

      4) नए चेहरे कौन?

      एक्सपर्ट्स
      - सत्यपाल सिंह (62): वे 34 साल IPS रहे हैं। मुंबई के पुलिस कमिश्नर रहे।
      - अल्फाेन्स कन्ननथानम (64): वे 27 साल तक IAS रहे। केरल में बीजेपी का चेहरा।
      - आरके सिंह (64): 38 साल तक IAS रहे। देश के गृह सचिव भी रह चुके हैं।
      हरदीप सिंह पुरी (65): 39 साल तक IFS रहे। 2009-13 तक यूएन में भारत के परमानेंट रिप्रेजेंटेटिव रहे।

      एक्सपीरियंस्ड
      अश्विनी कुमार चौबे (64), बिहार
      शिव प्रताप शुक्ल (65), यूपी
      डॉ. वीरेंद्र कुमार (63), मध्यप्रदेश

      एनर्जेटिक
      अनंत कुमार हेगड़े (49), कर्नाटक
      गजेंद्र सिंह शेखावत (49), राजस्थान

      5) फेरबदल के मायने?

      एक्सपर्टाइज पर जोर:नौ नए चेहरों में चार पूर्व ब्यूरोक्रेट्स हैं। तीन चुनावी राज्यों से हैं।
      कैबिनेट में कितनी जगह बाकी: कॉन्स्टिट्यूशन के मुताबिक, मंत्रिमंडल में मंत्रियों की लिमिट लोकसभा की कुल स्ट्रैंथ (545) से 15% ज्यादा नहीं हो सकती। ये स्ट्रैंथ 81 है। मौजूदा फेरबदल में 4 को प्रमोशन मिला, 9 नए मंत्री बने और 6 ने इस्तीफा दिया। अब कुल मंत्रियों की संख्या 76 है। यानी 5 और मंत्री बनाए जा सकते हैं।
      फिर हो सकता है बदलाव: माना जा रहा था कि 2019 चुनाव से पहले ये आखिरी फेरबदल होगा। लेकिन, 5 और मंत्री बनाए जा सकते हैं। जेडीयू और एआईएडीएमके को इस बार सरकार में जगह नहीं मिली। संभव है कि चुनाव से पहले समीकरण साधने के लिए दोनों को कैबिनेट में हिस्सेदारी दी जाए।

      6) फेरबदल पर क्या बोले मोदी?
      - नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया- जिन लोगों ने आज शपथ ली है, उनका एक्सपीरियंस और ज्ञान कैबिनेट की ताकत में इजाफा करेगा।

      7) रेल मंत्री ने क्या संकेत दिए?
      - शपथ ग्रहण के तुरंत बाद सुरेश प्रभु ने संकेत दे दिए थे कि वे अब रेल मंत्री नहीं रहेंगे। उन्होंने ट्वीट कर प्रमोशन पाने वाले पीयूष गोयल, नकवी, प्रधान और सीतारमण को बधाई दी। इसके बाद उन्होंने एक और ट्वीट किया- रेलवे के 13 लाख इम्प्लॉइज का उनके प्यार और सहयोग के लिए शुक्रिया। ये खूबसूरत यादें जीवन भर मेरे साथ रहेंगी। आपको भावी जीवन के लिए शुभकामनाएं।

      8) शपथ ग्रहण का नजारा
      - शपथ ग्रहण समारोह में मोदी के दाहिनी तरफ अमित शाह, राजनाथ सिंह, अरुण जेटली, थावरचंद गहलोत, कलराज मिश्र, अनंत कुमार और जेपी नड्डा बैठे थे। स्मृति ईरानी, प्रकाश जावड़ेकर साथ बैठे थे। उनकी पीछे की कतार में राज्यवर्धन सिंह राठौर, मनोज सिन्हा बैठे थे। एक अलग कतार में रामविलास पासवान, मेनका गांधी, रविशंकर प्रसाद, अशोक गजपति राजू, हरसिमरत कौर और चौधरी बीरेंद्र सिंह बैठे थे।
      - शपथ लेने वाले मंत्रियों की पहली कतार में मुख्तार अब्बास, निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल और धर्मेंद्र प्रधान बैठे थे। इन्हें राज्यमंत्री से प्रमोट करके कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया है।

      9) अटक गए धर्मेंद्र प्रधान
      - कैबिनेट मंत्री की शपथ लेने के लिए धर्मेंद्र प्रधान को बुलाया गया। प्रधान ने हिंदी में शपथ ली। जब उन्हें ‘प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष रूप से संसूचित’ बोलना था तो वे अटक गए। कोविंद ने ये शब्द दोबारा पढ़े। इसके बाद प्रधान ने शपथ पूरी की। प्रधान अब तक राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) थे। उन्हें प्रमोट किया गया है। वे पेट्रोलियम मिनिस्टर हैं। गैस सिलेंडरों पर सब्सिडी छोड़ने के लिए गिव अप स्कीम और गरीब महिलाओं को फ्री रसोई गैस कनेक्शन देने वाली ‘उज्ज्वला स्कीम’ की कामयाबी के बाद वे प्रमोट हुए हैं।

      10) कितने मंत्रियों ने दिया था इस्तीफा?
      कलराज मिश्र
      बंडारू दत्तात्रेय
      राजीव प्रताप रूडी
      फग्गन सिंह कुलस्ते
      संजीव कुमार बाल्यान
      महेंद्र नाथ पांडेय

      ये भी पढ़ें-

      क्यों मंत्री बनाए गए ये 9 चेहरे? इनमें 4 नेता पूर्व IAS, IPS, IFS अफसर

      मोदी कैबिनेट में प्रमोट हुए 4 में से 3 मंत्री राज्यसभा सांसद, ये हैं इनकी खासियत

      INSIDE STORY: मोदी को पहली बार राजनाथ-सुषमा समेत 4 से मिली चुनौती

      रकार के टॉप 4 मंत्रालयों में 2 महिलाएं शामिल, देखें फेरबदल में किसे क्या मिला

      70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण

      रेलवे से कॉमर्स मिनिस्टर बनना डिमोशन नहीं, हर जिम्मेदारी अहम: सुरेश प्रभु

    • 70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण, national news in hindi, national news
      +13और स्लाइड देखें
    • 70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण, national news in hindi, national news
      +13और स्लाइड देखें
    • 70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण, national news in hindi, national news
      +13और स्लाइड देखें
    • 70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण, national news in hindi, national news
      +13और स्लाइड देखें
    • 70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण, national news in hindi, national news
      +13और स्लाइड देखें
    • 70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण, national news in hindi, national news
      +13और स्लाइड देखें
    • 70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण, national news in hindi, national news
      +13और स्लाइड देखें
    • 70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण, national news in hindi, national news
      +13और स्लाइड देखें
    • 70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण, national news in hindi, national news
      +13और स्लाइड देखें
    • 70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण, national news in hindi, national news
      +13और स्लाइड देखें
    • 70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण, national news in hindi, national news
      +13और स्लाइड देखें
    • 70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण, national news in hindi, national news
      +13और स्लाइड देखें
      शपथ ग्रहण के दौरान रेल मंत्री पीयूष गोयल और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण।
    • 70 साल बाद देश को मिलीं पहली फुल टाइम महिला रक्षा मंत्री सीतारमण, national news in hindi, national news
      +13और स्लाइड देखें
      मोदी कैबिनेट में शामिल 9 नए नेता शपथ लेते हुए।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Live Narendra Modi Cabinet Expansion Latest Updates Swearing In Of New Ministers
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    Stories You May be Interested in

        रिजल्ट शेयर करें:

        More From National

          Trending

          Live Hindi News

          0
          ×