• Home
  • National
  • Now Padmavati makers submitted third application in cbfc for 3D version
--Advertisement--

पद्मावती: सेंसर बोर्ड से 3D सर्टिफिकेशन चाहते हैं फिल्म मेकर्स, तीसरी बार किया अप्लाई

सेंसर बोर्ड के सूत्रों के मुताबिक, फिल्म 'पद्मावती' के मेकर्स इसके सर्टिफिकेशन के लिए 3 एप्लीकेशन फाइल कर चुके हैं।

Danik Bhaskar | Nov 29, 2017, 05:34 PM IST
पद्मावती में दीपिका पादुकोण ने रानी का रोल किया है। -फाइल पद्मावती में दीपिका पादुकोण ने रानी का रोल किया है। -फाइल

मुंबई. संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' के मेकर्स ने इसके 3D वर्जन के सर्टिफिकेशन के लिए अप्लाई किया है। सूत्रों के मुताबिक, पद्मावती के डायरेक्टर और इसकी मेकर कंपनी Viacom 18 ने मंगलवार को सेंसर बोर्ड (सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन) के पास तीसरी एप्लिकेशन फाइल की। बताया जा रहा है कि फिल्म के 3डी ट्रेलर को मिले पॉजिटिव रिस्पांस के बाद यह फैसला लिया गया। हालांकि, अब तक इसके 2डी वर्जन को भी सेंसर बोर्ड से हरी झंडी नहीं मिली है। बता दें कि फिल्म पर जारी विवाद के चलते मेकर्स ने इसकी रिलीज डेट 1 दिसंबर से आगे बढ़ाई थी। राजस्थान समेत कई राज्यों में राजपूत समाज और हिंदू संगठन के लोग पद्मावती का विरोध कर रहे हैं।

पद्मावती की स्क्रीनिंग की इजाजत नहीं

- सेंसर बोर्ड के सूत्रों ने न्यूज एजेंसी से कहा कि पद्मावती के मेकर्स ने 3डी (सर्टिफिकेशन) के लिए अप्लाई किया है। नई एप्लिकेशन पर विचार किया जा रहा है, जबकि फिल्म के 2डी वर्जन के लिए पहले ही एप्लिकेशन आ चुकी है। ऐसे में हम सिर्फ इसके 3डी पार्ट को ही सर्टिफाइ करेंगे।

- फिलहाल, बोर्ड को एप्लिकेशंन की स्क्रूटनी करनी है। बोर्ड मेंबर फिल्म देखने के बाद इसे सर्टिफाइ करेंगे। पूरी प्रॉसेस नियमों के मुताबिक ही चलेगी। इसीलिए अब तक उन्हें फिल्म की किसी स्क्रीनिंग की इजाजत नहीं दी गई है।

पद्मावती के मेकर्स ने तीन एप्लिकेशन फाइल कीं

- सेंसर बोर्ड के एक सीनियर मेंबर ने बताया कि पद्मावती के मेकर्स अब तक तीन एप्लिकेशन फाइल कर चुके हैं। पहली एप्लिकेशन लौटा दी गई थी, क्योंकि इसमें कोई डिस्क्लेमर नहीं दिया गया था। दूसरी एप्लिकेशन पर अभी फैसला लेना बाकी है।

पद्मावती विवाद में बीजेपी नेता ने इस्तीफा दिया

- उधर, 'पद्मावती' की रिलीज को लेकर लगातार विवादित बयान दे रहे हरियाणा बीजेपी के चीफ मीडिया को-ऑर्डिनेटर सूरजपाल अम्मू ने बुधवार को पद से इस्तीफा दे दिया। अम्मू ने वॉट्सऐप के जरिए बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला को इस्तीफा भेजा। पिछले दिनों पार्टी ने उनसे जवाब मांगा था। चर्चा यह भी है कि सूरजपाल अम्मू और करणी सेना को वक्त देने के बाद भी सीएम मनोहरलाल खट्टर उनसे नहीं मिले, जिसकी वजह से नाराज होकर उन्होंने इस्तीफा दिया है। इसके पहले अम्मू ने दीपिका पादुकोण और संजय लीला भंसाली का सिर काटने पर 10 करोड़ रुपए देने का एलान किया था। (पूरी खबर पढ़ें...)

फिल्म पद्मावती को लेकर क्या है विवाद?

- राजस्थान में राजपूत करणी सेना, बीजेपी लीडर्स और हिंदूवादी संगठनों ने इस फिल्म में इतिहास से छेड़छाड़ का आरोप लगाया है।

- करणी सेना का मानना है कि ​इस फिल्म में पद्मिनी और अलाउद्दीन खिलजी के बीच इंटीमेट सीन फिल्माए जाने से उनकी भावनाओं को ठेस पहुंची है। लिहाजा, फिल्म को रिलीज से पहले पार्टी के राजपूत रिप्रेजेंटेटिव्स को दिखाया जाना चाहिए।

राजस्थान समेत कई राज्यों में राजपूत समाज और हिंदू संगठन 'पद्मावती' का विरोध कर रहे हैं। -फाइल राजस्थान समेत कई राज्यों में राजपूत समाज और हिंदू संगठन 'पद्मावती' का विरोध कर रहे हैं। -फाइल