Hindi News »National »Latest News »National» Padmavati Contoversy Cm Vasundhara Opposed Kamal Haasan Supports News And Updates

दीपिका के सिर की इज्जत करना चाहिए: पद्मावती के सपोर्ट में कमल हासन

फिल्म रिलीज पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सेंसर बोर्ड ने अभी कोई निर्णय नहीं लिया है। ऐसे में कोर्ट दखल नहीं दे सकता।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 21, 2017, 01:08 PM IST

  • दीपिका के सिर की इज्जत करना चाहिए: पद्मावती के सपोर्ट में कमल हासन, national news in hindi, national news
    +3और स्लाइड देखें
    हरियाणा बीजेपी के चीफ मीडिया को-ऑर्डिनेटर कुंवर सूरजपाल अम्मू ने दीपिका और भंसाली का सिर काट कर लाने वाले को 10 करोड़ रु. के इनाम का एलान किया था। (फाइल)

    चेन्नई. पद्मावती पर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। मंगलवार को योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अगर धमकी देने वाले दोषी हैं तो भंसाली भी दोषी हैं। दोनों पक्षों पर समान रूप से कार्रवाई होगी। हरियाणा के बीजेपी नेता सूरजपाल अम्मू ने दीपिका और फिल्म के डायरेक्टर संजय लीला भंसाली का सिर काटकर लाने वाले को 10 करोड़ रुपए देने का एलान किया था। बता दें कि 'पद्मावती' की रिलीज डेट को एक दिसंबर से आगे बढ़ा दिया गया है। राजस्थान, मध्य प्रदेश और पंजाब सरकारों ने अपने यहां फिल्म रिलीज करने से मना कर दिया है।

    जनभावनाओं के साथ खिलवाड़ करते हैं भंसाली

    - एक चैनल को दिए इंटरव्यू में योगी ने कहा, "कानून को हाथ में लेने का अधिकार किसी को भी नहीं है। चाहे वह भंसाली हों या फिर कोई और। मुझे लगता है कि अगर धमकी देने वाले दोषी हैं तो भंसाली भी कम दोषी नहीं हैं, जो जनभावनाओं के साथ खिलवाड़ करने के आदी बन चुके हैं। कार्रवाई होगी तो दोनों पक्षों पर समान रूप से होगी।"

    - "सबको एक-दूसरे की भावनाओं का सम्मान करना चाहिए। मुझे लगता है कि एक-दूसरे के प्रति अच्छे भाव रखेंगे तो सौहार्द की स्थापना होगी।"

    - "हमने अपना रुख साफ कर दिया है। सूचना-प्रसारण मंत्रालय को इसके बारे में लिखित सूचना दे दी है। सुप्रीम कोर्ट भी कह चुका है कि इसके बारे में फैसला सेंसर बोर्ड को लेना चाहिए।"

    - कमल हासन ने कहा, "मैं चाहता हूं कि दीपिका का सिर सुरक्षित रहे। उनके सिर की शरीर से ज्यादा इज्जत करना चाहिए। उनकी आजादी को नकारा नहीं जा सकता।"
    - "कई कम्युनिटीज ने मेरी फिल्मों का भी विरोध किया है। डिबेट में अतिवाद (एक्स्ट्रीमिसिज्म) की कोई जगह नहीं। भारत की सेलिब्रिटीज, जागिए। ये सोचने का वक्त है। हम काफी कुछ कह चुके हैं। अब मां भारत को सुनिए।"

    क्या बोले राज्यों के सीएम?

    - वसुंधरा राजे सिंधिया (राजस्थान): "कानून-व्यवस्था को सुनिश्चित रखना राज्य की पहली प्राथमिकता है और इसे हर साल में बहाल रखा जाएगा। जब तक केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी को 18 नवंबर को लिखे पत्र में दिए गए सुझावों पर अमल नहीं हो जाता, तब तक राजस्थान में फिल्म पद्मावती का प्रदर्शन नहीं होगा।"
    - राजे ने सुझाव दिया था कि इतिहासकारों और समाज के प्रतिनिधियों की समिति द्वारा फिल्म पद्मावती की समीक्षा कर यह सुनिश्चित किया जाए कि राजपूत समाज की भावनाएं आहत ना हों।
    - कैप्टन अमरिंदर सिंह (पंजाब)- "जो फिल्म इतिहास से छेड़छाड़ करती है, उसे राज्य में रिलीज नहीं होने दिया जाएगा। जो लोग इसके खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं, वे ठीक कर रहे हैं।"
    - शिवराज सिंह चौहान (मध्य प्रदेश): "ऐतिहासिक तथ्यों से खिलवाड़ कर अगर राष्ट्रमाता पद्मावती के सम्मान के खिलाफ जिस फिल्म में दृश्य दिखाया गया है या बात कही गई है। तो उस फिल्म का प्रदर्शन मध्य प्रदेश की धरती पर नहीं होगा।"

    - वहीं, कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया और प. बंगाल सीएम ममता बनर्जी ने भंसाली का समर्थन किया है।

    10 करोड़ का एलान करने वाले अम्मू को बीजेपी का नोटिस

    बीजेपी ने हरियाणा बीजेपी के चीफ मीडिया को-ऑर्डिनेटर कुंवर सूरजपाल अम्मू को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। अम्मू ने दीपिका और भंसाली का सिर काट कर लाने वाले को 10 करोड़ रुपए का इनाम घोषित किया था।

    सेंसर बोर्ड: फिल्म को जल्द मंजूरी की मांग खारिज

    - पद्मावती के सर्टिफिकेशन की प्रक्रिया में तेजी लाने की फिल्म निर्माताओं की मांग को सेंसर बोर्ड ने खारिज कर दिया है। सेंसर बोर्ड का कहना है कि पद्मावती फिल्म का तय नियमों और आवेदनों की क्रम संख्या के मुताबिक ही रिव्यू किया जाएगा।
    - बोर्ड प्रमुख प्रसून जोशी ने कहा- "हम पद्मावती पर संतुलित निर्णय लेंगे, लेकिन इसके लिए पूरा वक्त मिलना चाहिए।"

    सुप्रीम कोर्ट: रिलीज रोकने पर सुनवाई से इनकार

    सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म से कुछ कथित आपत्तिजनक दृश्य हटाने के लिए दायर याचिका सोमवार को खारिज दी।
    - सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सेंसर बोर्ड ने अभी कोई निर्णय नहीं लिया है। ऐसे में कोर्ट दखल नहीं दे सकता और ये एक तरह प्री-जजमेंट की तरह होगा। कोर्ट ने कहा है कि अभी यह मामला प्री-मेच्योर है।

    आगे की स्लाइड्स में पढ़ें: पद्मावती पर क्यों है आपत्ति?

  • दीपिका के सिर की इज्जत करना चाहिए: पद्मावती के सपोर्ट में कमल हासन, national news in hindi, national news
    +3और स्लाइड देखें
    1540 में कवि मलिक मोहम्मद जायसी ने 'पदमावत' लिखा। प्रचलित कहानी यही है कि खिलजी के आक्रमण के बाद रानी पद्मिनी ने जौहर किया था। (फाइल)

    फिल्म पद्मावती को लेकर क्या आपत्ति है?

    - राजस्थान में करणी सेना, बीजेपी लीडर्स और हिंदूवादी संगठनों ने इतिहास से छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। राजपूत करणी सेना का मानना है कि ​इस फिल्म में पद्मिनी और खिलजी के बीच इंटीमेट सीन फिल्माए जाने से उनकी भावनाओं को ठेस पहुंची है। लिहाजा, फिल्म को रिलीज से पहले पार्टी के राजपूत प्रतिनिधियों को दिखाया जाना चाहिए।

    रील V/S रियल पद्मावती का सच

    - 1540 में कवि मलिक मोहम्मद जायसी ने 'पदमावत' लिखा। प्रचलित कहानी यही है कि खिलजी के आक्रमण के बाद रानी पद्मिनी ने जौहर किया था।
    - 1589 में हेमरतन की गोरा बादल की चौपाई में पद्मावती के जौहर की कहानी है। एक अन्य हीरामन की कथा में रानी पद्मावती को श्रीलंका की राजकुमारी बताया गया है।
    - दूसरी ओर, भंसाली की फिल्म में रानी पद्मावती को पुरुषों के सामने घूमर लोकनृत्य करते दिखाया गया है। इसी पर विवाद है।

    पद्मावती पर अब तक क्या हुआ?

    - विरोध मध्य प्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और कर्नाटक तक पहुंचा।
    - राजस्थान की राजपूत करणी सेना के अलावा पूर्व राजघराने भी फिल्म के खिलाफ हैं। इनकी मांग है कि इसे रिलीज करने के पहले उन्हें दिखाई जाए।
    - राजनाथ सिंह, उमा भारती, लालू प्रसाद यादव, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ समेत कई नेताओं ने बयान दिए कि लोगों की भावनाओं का ध्यान रखना चाहिए।
    - राजपूतों ने चित्तौड़गढ़ का किला बंद रखकर प्रदर्शन भी किया था।
    - करणी सेना के महिपाल मकराना ने कहा, "राजपूत कभी महिलाओं पर हाथ नहीं उठाते, लेकिन जरूरत पड़ी तो हम दीपिका पादुकोण का वही हाल करेंगे, जो लक्ष्मण ने शूर्पणखा का किया था।"
    - संभल में प्रोटेस्टर्स ने पोस्टर लगाए गए। इनमें लिखा था कि संजय लीला भंसाली का सिर काटने वाले को 50 लाख इनाम।

  • दीपिका के सिर की इज्जत करना चाहिए: पद्मावती के सपोर्ट में कमल हासन, national news in hindi, national news
    +3और स्लाइड देखें
    कमल हासन ने कहा कि कई कम्युनिटीज ने उनकी भी फिल्मों का विरोध किया था। (फाइल)
  • दीपिका के सिर की इज्जत करना चाहिए: पद्मावती के सपोर्ट में कमल हासन, national news in hindi, national news
    +3और स्लाइड देखें
    वसुंधरा ने कहा कि कानून-व्यवस्था को सुनिश्चित रखना राज्य की पहली प्राथमिकता है और इसे हर साल में बहाल रखा जाएगा। (फाइल)
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Padmavati Contoversy Cm Vasundhara Opposed Kamal Haasan Supports News And Updates
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×